Steel Man of India : नहीं रहें टाटा स्टील के पूर्व एमडी Dr Jamshed J Irani, 86 साल की उम्र में हुआ निधन

Steel Man of India Dr JJ Irani Passes Away : ‘स्टील मैन ऑफ इंडिया’ (Steel Man of India) के नाम से पूरी दुनिया में प्रसिद्ध टाटा स्टील के पूर्व एमडी जमशेद जे ईरानी (Dr Jamshed J Irani) का सोमवार की रात 86 वर्ष की उम्र में निधन हो गया। डॉ ईरानी लंबे समय से बीमार चल रहे थे, उनका टाटा मेन हॅास्पिटल में इलाज चल रहा था। दो अक्टूबर को घर में तबीयत खऱाब होने के बाद उन्हें आईसीयू में भर्ती कराया गया था। सोमवार की रात करीब 10 बजे उन्होंने आखिरी सांस ली। उनके निधन पर कॉरपोरेट जगत के साथ-साथ राजनितिक जगत में शोक की लहर व्याप्त है।

Steel Man of India : टाटा स्टील ने खास तरीके से पूर्व एमडी को दी श्रद्धांजलि

डॉ ईरानी के परिवार में पत्नी डेज़ी और उनके तीन बच्चे हैं। टाटा स्टील ने खास तरीके से अपने पूर्व एमडी को श्रद्धांजलि देते हुए ट्वीट किया, “भारत के स्टील मैन (Steel Man of India) के नाम से मशहूर पद्म भूषण डॉ. जमशेद जे ईरानी के निधन पर हमें गहरा दुख हुआ है। टाटा स्टील परिवार उनके परिवार और प्रियजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करता है।

2011 में टाटा स्टील के बोर्ड से रिटायर हुए

बता दें कि 86 वर्षीय ईरानी 43 साल की विरासत को पीछे छोड़ते हुए जून 2011 में टाटा स्टील के बोर्ड से रिटायर हुए थे। ईरानी ने चार दशकों से अधिक समय तक भारतीय उद्योग, इस्पात व्यवसाय और टाटा में जबरदस्त योगदान दिया था। उन्होंने 1963 में ब्रिटिश आयरन एंड स्टील रिसर्च एसोसिएशन, शेफील्ड में एक वरिष्ठ वैज्ञानिक अधिकारी के रूप में अपना करियर शुरू किया था।

Steel Man of India

उसके बाद वे, 1968 में भारत लौटने पर, निदेशक (आर एंड डी) के सहायक के रूप में 1979 में टाटा स्टील में शामिल हो गए थे और उन्हें 1985 में महाप्रबंधक और अध्यक्ष नियुक्त किया गया था। वे 1992 में प्रबंध निदेशक बने, इस पद पर वे जुलाई 2001 तक रहे।

खिलाड़ी की भूमिका भी निभाई

वे एक उत्सुक खिलाड़ी थे, जिन्होंने अपने आखिरी समय तक क्रिकेट खेला और उसे फॉलो किया। साथ ही डाक तथा सिक्का संग्रह भी उनका जुनून था। धातुकर्मी होने के नाते, धातुओं और खनिजों के अनुसंधान, विकास और संग्रह में उनकी रुचि थी।

लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड और पद्म भूषण से किया गया था सम्मानित

नागपुर विश्वविद्यालय से भूविज्ञान में एमएससी किया था और फिर ईरानी ने शेफील्ड विश्वविद्यालय, यूके से डॉक्टरेट किया था। 2004 में, भारत सरकार ने भारत के नए कंपनी अधिनियम के गठन के लिए विशेषज्ञ समिति के अध्यक्ष के रूप में डॉ ईरानी को नियुक्त किया। उद्योग में उनके योगदान के लिए उन्हें 2007 में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था। धातु विज्ञान के क्षेत्र में उनकी सेवाओं को मान्यता के रूप में उन्हें 2008 में भारत सरकार की ओर से लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किया गया था।

झारखंड के स्वास्थ्य मंत्री ने किया शोक व्यक्त

झारखंड के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने एक ट्वीट के माध्यम से ईरानी (Steel Man of India) के निधन पर शोक व्यक्त किया, जिसमें उन्होंने लिखा कि “टाटा स्टील के पूर्व एमडी डॉ जे जे ईरानी के निधन का दुखद समाचार प्राप्त हुआ, मेरे उनके साथ घनिष्ठ संबंध रहे, उन्हें हमेशा एक सक्षम प्रशासक और एक महान नेता के रूप में याद किया जाएगा, ईश्वर दिवंगत आत्मा को शांति दे और परिवार के सदस्यों को साहस, शांति दें।

हमसे जुड़े तथा अपडेट रहने के लिए आप हमें Facebook Instagram Twitter Sharechat Koo App YouTube Telegram पर फॉलो व सब्सक्राइब करें

%d bloggers like this: