SOVA Virus : भारत में तेज़ी से फ़ैल रहा ये खतरनाक वायरस, सेकंडों में खाली कर देगा आपका बैंक अकाउंट

SOVA Virus : आए दिन हैकर्स लोगों को ठगने के लिए कोई न कोई नए हथकंडे अपनाते रहते है, इसके लिए वे किसी न किसी नए वायरस (Virus) का सहारा लेते है। अभी हाल ही में साइबर क्षेत्र में एक नया बैंकिंग वायरस (Banking Virus) बड़ी तेजी से फैल रहा है, जिसे लेकर बैंक अपने ग्राहकों को अलर्ट कर रहा है। इस नए मोबाइल बैंकिग ट्रोजन वायरस का नाम SOVA Virus है, जिससे आप वित्तीय धोखाधड़ी (Financial Fraud) का शिकार बन सकते है। एक बार मोबाइल में आने के बाद इस वायरस को हटाना काफी मुश्किल है। तो चलिए जानते है क्या है ये SOVA Virus और इससे कैसे बचा जा सकता है…

जाने क्या है SOVA Virus

Sova Virus

SBI के अनुसार, SOVA एक एंड्रॉइड-आधारित ट्रोजन मैलवेयर है, जो पर्सनल डेटा चोरी करने के लिए नकली बैंकिंग ऐप का उपयोग करने वाले लोगों को टारगेट कर रहा है। यह मैलवेयर यूजर्स के क्रेडेंशियल्स को चोरी करता है, जब वे नेट-बैंकिंग App के जरिए अपने खाते तक पहुंचते हैं और लॉग इन करते हैं तो मैलवेयर यूजर की जानकारी रिकॉर्ड करता है। इस ऐप के एक बार इंस्टॉल हो जाने पर, इसे हटाने का कोई तरीका नहीं है।

SOVA Virus : SBI ने किया अर्लट

दरअसल Hackers लोगों को ठगने के लिए कई तरह के वायरस (SOVA Virus) का यूज करते है, फिशिंग मैसेज के जरिए इन वायरसों को आपके फोन में डाउनलोड किया जाता है। अन्य बैंकों जैसे SBI, PNB और Canara Bank के ग्राहकों को SOVA Malware के बारे में चेतावनी दी जा रही है। इस बैकिंग वायरस को लेकर SBI ने अपने कस्टमर को आगाह कर ट्वीट करते हुए कहा है कि ‘SOVA’ एक मालवेयर है, जो व्यक्तिगत जानकारी चुराने के लिए बैंकिंग ऐप्स को Target करता है। किसी लिंक पर क्लिक करके या अनऑफिशियल स्टोर से ऐप्स इंस्टॉल न करें। ‘मैलवेयर को अपने कीमती एक्सेस को चोरी न करने दें, हमेशा भरोसेमंद सोर्स से ही App डाउनलोड करें।

साइबर सुरक्षा एजेंसी ने भी जारी की एडवाइजरी

इसके अलावा देश की साइबर सुरक्षा एजेंसी ने भी इस वायरस (SOVA Virus) को लेकर एडवाइजरी जारी की है। बता दें कि भारतीय साइबर क्षेत्र में इस वायरस का सबसे पहले जुलाई में पता चला था। तब से इसका पांचवां वर्जन आ गया है। इंडियन कंप्यूटर एमरजेंसी रेस्पॉन्स टीम (CERT-IN) ने कहा कि ‘‘संस्थान को यह बताया गया है कि भारतीय बैंक के ग्राहकों को नये सोवा एंड्रॉयड ट्रोजन के जरिये निशाना बनाया जा रहा है। इसमें मोबाइल बैंकिंग को टार्गेट किया जा रहा है। इस मालवेयर का पहला वर्जन छिपे तरीके से सितंबर 2021 में बाजारों में बिक्री के लिए आया था। यह लॉगिंग के जरिए से नाम और पासवर्ड, कुकीज चोरी करना और ऐप को एफेक्ट करता है है।

Sova Virus

पंजाब नेशनल बैंक ने भी किया अलर्ट

वहीं पंजाब नेशनल बैंक की वेबसाइट के अनुसार, SOVA Trojan malware किसी भी अन्य एंड्रॉइड ट्रोजन की तरह ही फिशिंग SMS के माध्यम से यूजर्स के डिवाइस पर भेजा जाता है। इस नकली एंड्रॉइड ऐप को इंस्टॉल करने के बाद, यह आपके स्मार्टफोन में इंस्टॉल किए गए अन्य ऐप का डिटेल्स C2 (कमांड एंड कंट्रोल सर्वर) को भेजता है, जिसे हैकर्स कंट्रोल करते हैं। हर टारगेटेड एप्लिकेशन के लिए, C2 मैलवेयर को एड्रेस की एक लिस्ट सेंड करता है और इस जानकारी को एक XML फाइल में स्टोर करता है। इन एप्लिकेशन को तब मैलवेयर और C2 के जरिए प्रबंधित किया जाता है। आसान भाषा में समझा जाए तो सबसे पहले यह मैलवेयर फिशिंग SMS के जरिए आपके फोन में इंस्टॉल हो जाता है।

Sova Virus

इंस्टालेशन के बाद यह ट्रोजन आपके फोन में मौजूद ऐप्स की डिटेल हैकर्स को सेंड करता है। अब हैकर फोन में मौजूद ऐप्स के लिए टारगेटेड एड्रेस की लिस्ट C2 की मदद से मालवेयर भेजता है। जब भी आप उन ऐप्स का उपयोग करते हैं, मैलवेयर आपके डेटा को एक XML फाइल में स्टोर करता है जिसे हैकर्स एक्सेस कर सकते हैं।

यह मैलवेयर आपके फोन से कई तरह का डेटा चुरा सकता है। क्रेडेंशियल्स के अलावा, कुकीज, मल्टी-फैक्टर ऑथेंटिकेशन टोकन तक कॉपी कर सकते हैं। हैकर्स चाहें तो भी इस मैलवेयर की मदद से अपने फोन में स्क्रीनशॉट ले सकते हैं, वीडियो रिकॉर्ड कर सकते हैं। इस ट्रोजन की सहायता से ऐसे कई काम किए जा सकते हैं।

Sova Virus

SOVA Virus : इस तरह करें बचाव

  • अगर यह मैलवेयर (SOVA Virus) आपके स्मार्टफोन में इंस्टॉल हो गया है, तो इसे हटाना मुश्किल है। इससे बचने का एक ही उपाय है जो है सावधानी।
  • किसी भी अनजान लिंक पर क्लिक न करें।
  • ऐप्स डाउनलोड करने के लिए हमेशा भरोसेमंद ऐप स्टोर का इस्तेमाल करें।
  • किसी भी ऐप को डाउनलोड करने से पहले उसके रिव्यू जरूर चेक कर लें।
  • ऐप्स को परमिशन देते समय सावधान रहें और इस बात पर ध्यान दें कि आप ऐप्स को किन-किन चीजों की परमिशन दे रहे हैं।
  • एंड्रॉइड अपडेट डाउनलोड करते रहें और आप चाहें तो एंटी वायरस का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

हमसे जुड़े तथा अपडेट रहने के लिए आप हमें Facebook Instagram Twitter Sharechat Koo App YouTube Telegram पर फॉलो व सब्सक्राइब करें

%d bloggers like this: