सुंदर पिचाई की जीवनी | Biography of Sundar Pichai (Google CEO)

सुंदर पिचाई, एक ऐसा नाम जिसे आज किसी के इंट्रोडेक्सन की जरूरत नहीं है। गूगल के सीइओ सुंदर ने अपनी कड़ी मेहनत से अपना जीवन आज इतना सुंदर बना लिया है कि सभी युवा आज इनके जैसा ही बनना चाहते हैं। ऐसी कई प्रेरणा दायक कहानियां इसके जीवन से जुड़ी है जिन्हें जानने के बाद लाखों लोगों को एक प्रेरणा मिलती है, कौन है सुंदर पिचाई और कैसा है इनका जीवन आइए जानते हैं।

सुंदर पिचाई की जीवनी : प्रारंभिक जीवन और शिक्षा

सुंदर पिचाई का जन्म 12 जुलाई 1972, चेन्नई, तमिलनाडु में हुआ। उनके पिता रघुनाथ पिचाई और माता का नाम लक्ष्मी है। पिताजी ब्रिटिश कंपनी जनरल इलेक्ट्रिक कंपनी में बतौर वरिष्ठ इलेक्ट्रिकल इंजिनियर कार्यरत थे। सुन्दर पिचाई ने अशोक नगर स्थित जवाहर विद्यालय से कक्षा 10 तक की पढ़ाई पूरी करने के बाद आई.आई.टी. चेन्नई में वनावाणी स्कूल से 12वीं पास की। इसके बाद सुन्दर ने आई.आई.टी. खरगपुर से मेटलर्जिकल इंजीनियरिंग में डिग्री प्राप्त की। इसके बाद सुन्दर ने एम.एस और एम.बी.ए. किया। सुंदर ने स्तान्फोर्ड विश्वविद्यालय से मटेरियल साइंसेज एंड इंजीनियरिंग में एमएससी किया और पेनसिलवेनिया विश्वविद्यालय एम.बी.ए. किया।

सुंदर पिचाई की जीवनी | Biography of Sundar Pichai : करियर

करियर की शुरुआत करते हुए सुन्दर पिचाई ने एप्लाइड मैटेरियल्स’ में इंजीनियरिंग और प्रोडक्ट मैनेजमेंट में कार्य किया। इसके बाद उन्होंने मैकिंसे एंड कंपनी में मैनेजमेंट कंसल्टिंग में काम किया। सुंदर एक वरिष्ठ टेक्नोलॉजी एग्जीक्यूटिव हैं और इस समय सर्च इंजन कंपनी गूगल में प्रोडक्ट हेड हैं। बता दें कि 10 अगस्त 2015 को गूगल का सी.इ.ओ. चुना गया। सुंदर ने साल 2004 में कंपनी गूगल में काम करना शुरू किया था। जिसके लगभग दस साल बाद ही उन्होंने यह मुकाम हासिल किया। गूगल ज्वाइन करने से पहले उन्होंने एक एंड कंपनी में काम किया था।

बढ़ाते गए सफलता के कदम

गूगल से जुड़ने के बाद उन्हें सबसे पहले उत्पाद प्रबंधन और नई खोजों और नए विचारों से सम्बंधित कार्यों की जिम्मेदारी दी गई। इसके बाद साल 2009 में सुन्दर पिचाई ने क्रोम ओ.एस. पर प्रेजेंटेशन दिया। दो साल बाद 2011 में उन्हें जांच व् परिक्षण डिपार्टमेंट दिया गया। इसके बाद उन्हें साल 2012 में कस्टमर डिपार्टमेंट दिया गया। लेकिन इससे पहले पिचाई मई 2010 में गूगल के नए विडियो कोडेक VP8 के ओपेन सोर्सिंग का एलान कर चुके थे। जिसके बाद गूगल के इस विडियो कोडेक ने एक नया विडियो फॉर्मेट WebM सबके साथ साझा किया।

सुंदर की लगातार बढ़ते कदमों को देख मार्च 2013 में एंड्राइड भी सुन्दर पिचाई के अंतर्गत आने वाले उत्पादों में एड हुआ। साल 2014 में माइक्रोसॉफ्ट के अगले सी.इ.ओ. की रेस में सुन्दर पिचाई का नाम सबसे आगे रहा। जिसके बाद 24 अक्टूबर 2014 को गूगल के सह-संस्थापक लैरी पेज ने पिचाई को उत्पाद प्रमुख बनाने की ऐलान किया। जहां पर आज वह स्थापित है।

सुंदर पिचाई का व्यक्तिगत जीवन और सालाना कमाई

सुन्दर पिचाई ने अपने जीवन के कंप्यूटर में अंजलि पिचाइ के नाम का सोफ्टवेयर इंस्टाल किया जिसके बाद से वह एक दूसरे के हो गए। बता दें कि सुंदर पिचाइ और अंजलि पिचाइ आई.आई.टी. खड़गपुर के कॉलेज मेट थे। आज सुंदर पिचाई और अंजली के दो बच्चे हैं। अगर बात करें सुंदर पिचाइ की सैलरी कि तो वह सालाना 14,15,78,600 रुपये कमाते हैं।

Share this on