पहाड़ से रेगिस्तान तक जल प्रहार

पहाड़ से रेगिस्तान तक जल प्रहार

प्रचंड बारिश और उसके कारण आने वाली बाद ने हाल ही में कहर ढा दिया है. न्यूज ़18 इंडिया की एक खास रिपोर्ट के मुताबिक महाराष्ट्र से लेकर आसाम तक और ओडिशा से लेकर कर्नाटक तक बारिश ने आधे हिन्दुस्तान में हाहाकार मचा दिया है. बाढ़ से अब तक 250 से ज्यादा लोगों की जान चली गई है।

महाराष्ट्र
यहाँ राज्य के कई इलाकों में सैलाब का कब्जा था. मुंबइ में मलाड सब वे को भी बंद कर दिया गया था। बेतरतीब बारिश ने कल्याण स्टेशन को पूरी तरह डुबो दिया था। कई फीट पानी के बीच पटरियों पर सरपट दौड़ने वाली ट्रेन भी रेंगने को मजबूर हो गई। उधर कांदिवली के ही एस बी रोड पर भी बारिश ने हाल बेहाल कर दिया। सड़क पूरी तरह पानी में डूब गई। वाहनों की लम्बी कतार ने मुसीबत को और बड़ा कर दिया।जो जहां था वहीं फंस गया।कारों से लेकर इंसान तक हर कोई सड़क पर उतरे इस सैलाब में फंस गया।

गुजरात
लगातार बारिश से सैलाब सड़कों पर उमड़ आया।राजकोट की गोंडल रोड पर तो पानी इतना भर गया। कि बस के पहिए सड़क पर उमड़े सैलाब में फंस गए।कई लोगों ने बस को धक्का दिया । तब जाकर कहीं बस को निकाला जा सका। कोई अपने घरों में तो कोई सैलाब के बीचमें।इस बीच स्थानीय लोगों और नडरफ की टीमों ने गजब का हौसला दिखाया।

मध्य प्रदेश
हिल स्टेशन पचमढ़ी में बेहिसाब बारिश ने काजरी नदी में उफान ला दिया।जिस वजह से नागद्वारी के दर्शन के लिए गए सैकड़ों श्रद्धालुओं को चालीस किलोमीटर की पैदल यात्रा का सफर भारी पड़ गया।गाड़ियां तो सैलाब को चीरकर आगे बढ़ गईं।लेकिन श्रद्धालु मझधार में फंस गए। जैसे तैसे उफनाई काजरी नदी को पार कराया गया।

राजस्थान
अलवर में लगातार हो रही बारिश के बाद डैम ओवर फ्लो होने के बाद पानी निचले इलाकों में भर गया. यहा एक बाइक सवार की बाइक तेज लहरों के आगे फिसल गई जिसे निकालने के लिए चार लोगों को अपनी जान पर खेलना पड़ा। राहत की बात यही रही कि इनके साथ इस दौरान कोई हादसा नहीं हुआ।

हिमाचलप्रदेश
सोलन के जाबली में लैंड स्लाइड मुसीबत लेकर आया। एक बार पहाड़ दरकना शुरु हुआ तो कई सेकेंड तक यही सिलसिला चलता रहा। पहले पत्थर गिरे।फिर पेड़ गिरे। उणा में बारिश ने लहरेंमानोसबकुछतबाहकरनेकोआमादाहैं।सुनसानइलाकों से होताहुआ ये पानी बस्ती और दफ्तरों तक भी पहुंच गया।सब कुछ पल भर में डूब गया।

ओडिशा
ओडिशा के मल का नगिरि में भारी बारिश ने सैलाब के हालात पैदा कर दिए। पुल के नीचे बहने वाला पानी पुल के ऊपर बहने लगा।प्रशासन ने लाल रिबन लगा कर लोगों को खतरे के प्रति आगाह भी किया है।मौसम के हालातों के मद्दे नजर दो दिन स्कूलों की छुट्टी का एलान भी कर दिया गया था।

Share this on