बाबा रामदेव के ‘कोरोनिल टैबलेट’ पर आयुष मंत्रालय ने लगायी रोक, जाने पूरा मामला

कोरना का इलाज खोज लेने का दावा करने वाले बाबा रामदेव और उनकी कम्पनी पतंजलि द्वारा बनायीं गयी दवा ‘दिव्य कोरोनिल टैबलेट’ के प्रचार प्रसार पर आयुष मंत्रालय ने रोक लगा दिया है. बता दें कि मंत्रालय ने पतंजलि से इस दवा की परिक्षण और उसमे इस्तेमाल हुए उत्पादों का विवरण माँगा है साथ ही यह भी कहा है कि इसका कोई परिक्षण किया गया है तो उसका भी प्रमाण उपलब्ध कराएँ.

काशी के इस शक्तिपीठ के दर्शन मात्र से पूरी होती हैं सभी मनोकामना

पतंजलि के ‘कोरोनिल टैबलेट पर लगी रोक

Share this on