सिर ढ़क कर सोने वाले एक बार जरूर पढ़ लें ये खबर

अच्छे स्वास्थ्य के लिए अच्छी नींद लेना जरूरी होता हैं और भरपूर नींद लेने पर हम कई तरह की बीमारियों से दूर रहते हैं| इतना ही नहीं ठंड के मौसम में लोग मुंह को ढक कर सोते हैं ताकि उन्हें ठंड ना लगे| लेकिन रज़ाई या कंबल में मुंह  ढक कर सोना ठीक नहीं होता हैं बल्कि आपको कई तरह की समस्याएँ झेलनी पड़ सकती हैं| ऐसे में आज हम आपको मुंह ढक कर होने वाली परेशानियों के बारे में आपको बताने वाले हैं|

यह भी पढ़ें : गर्भवती महिलाएं सोते समय भूल से भी न करें है ये गलतियां, वरना बच्चा हो जाएगा कमजोर

(1) ऑक्सीजन की कमी

कंबल में मुंह ढक कर सोने से आपको आक्सीजन की कमी हो सकती हैं क्योंकि कंबल में आक्सीजन ज्यादा देर तक नहीं रह सकता हैं| ऐसे में यदि आप मुंह ढक सोते हैं तो आपको सांस लेने में परेशानी हो सकती हैं|

(2) थकावट

सोते समय यदि हमे आक्सीजन भरपूर मात्र में नहीं मिल पाएगी तो हमारी नींद अच्छे से पूरी नहीं होगी और इसकी वजह से हम थकावट महसूस करेंगे| इतना ही नहीं ठंड के दिन में लोगों का बिस्तर छोड़ने के मन नहीं करता हैं और यह सिर्फ आक्सीजन की कमी के कारण होता हैं|

(3) सिर दर्द

सिर ढक कर सोने से सिर दर्द की समस्या भी हो सकती हैं| दरअसल दिमाग को सही से आक्सीजन ना मिल पाने के कारण ऐसा होता हैं|

(4) दिमाग की कार्यप्रणाली में गड़बड़ी

हमारे दिमाग के लिए आक्सीजन संजीवनी का काम करता हैं और यदि दिमाग को सही से आक्सीजन नहीं मिल पाता हैं तो दिमाग की कार्य प्रणाली में गड़बड़ी उत्पन्न हो जाती हैं| दरअसल कंबल में आक्सीजन की कमी होने के कारण कार्बन डाई आक्साइड की मात्रा बढ़ जाती हैं|

(5) काम में मन का न लगना

यदि आपके सिर में दर्द होगा या फिर आप थकावट महसूस करेंगे तो आपका मन किसी काम को करने में नहीं लगेगा| दरअसल हमारा दिमाग आक्सीजन की कमी के कारण बहुत थका होता है| इसलिए वह किसी और काम को करने के लिए तैयार नहीं होता हैं और हम बीमार जैसे नजर आने लगते हैं| लेकिन यदि ठंड बहुत ज्यादा हैं तो आप मुंह ढक कर सोये लेकिन बीच-बीच में आप अपना मुंह बाहर निकालकर सांस ले ताकि आपको आक्सीजन की कमी ना हो पाये|

( हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
Share this on