इन्टरनेट का सही इस्तेमाल कर राजस्थान के किसान ने YouTube से सीखी तकनीक और उगाया दुनिया का सबसे महंगा आम

दुनिया का सबसे महंगा आम | गर्मियों का मौसम शुरू होते ही बाजार में आम आना शुरू हो जाते है, बहुत से लोगों को आम खाना पसंद होता है, वैसे तो अकेले भारत में ही आम ही ढेर सारी प्रजातियां है और हर किस्म के आम अपने स्वाद को लेकर मशहूर है। किसी को चौसा आम पसंद होता है तो किसी को दशहरी, किसी को लंगड़ा आम भाता है तो किसी को अल्फांसो। उत्तर से लेकर दक्षिण तक अलग-अलग किस्म और स्वाद के आम मिलते है। कुछ समय पहले मध्यप्रदेश में 3.5 किलो वजन वाला नूरजहां आम सोशल मीडिया पर छाया हुआ था तो उससे पहले रटौल आम की बहुत चर्चा हुई थी।

दुनिया का सबसे महंगा आम जिसके बारें में आज हम आपको बताने जा रहे है और इसकी सबसे पहली खासियत ये है कि अब ये सबसे महंगा आम हमारें देश में भी उगाया जाता है। इस खास और सबसे महंगे आम की किस्म का नाम है मियाज़ाकी और इस आम की कीमत लगभग 2.7 लाख प्रति किलों है। देश में इस आम की खास प्रजाति की खेती राजस्थान के कोटा से लगभग 15 किलोमीटर की दूरी पर स्थित गिरधापुरा में पेशे से किसान श्री किशन सुमन के द्वारा की जा रही है।

जापान में उगाया जाता है दुनिया का सबसे महंगा आम

Most Expensive Mango

Rataul: इंदिरा से अटल तक यूपी के इस आम की खुशबु के थे मुरीद, पाकिस्तान भी है इसका फैन

मियाज़ाकी आम को मूल रूप से जापान के क्यूशू द्वीप पर उगाया जाता है और इसमें सबसे बड़ी दिलचस्प बात ये है कि ये आम अमेरिका के फ्लोरिडा क्षेत्र में पैदा होने वाले इरविन आम से निकलता है। जानकारी के मुताबिक 1980 के आसपास इस मियाज़ाकी आम को उगाने के लिए जापान ले जाया गया था, इस आम की पैदावार होने के लिए गर्म जलवायु जिम्मेदार होती है इसलिए सर्वप्रथम जापान को इसकी पैदावार के लिए चुना गया था।

कहा जाता है कि अन्य आमों की तुलना में इन आमों में शूगर की मात्रा लगभग 15 प्रतिशत ज्यादा पाई जाती है। अगर मियाज़ाकी आम को उसके अनुकूल जलवायु में उगाया जाए तो इसके हर आम का वजन लगभग 350 ग्राम तक हो सकता है और इसका रंग लाल हो जाता है।

YouTube से प्रेरणा लेकर उगाया दुनिया का सबसे महंगा आम

किसान श्री किशन सुमन के अनुसार जब उन्हें यूट्यूब पर दुनिया का सबसे महंगा आम के बारें में पता चला तो वो उसे देखकर काफी ज्यादा प्रभावित हुए थे। इस खास मियाज़ाकी आम को लेकर, उसे उगाने के लिए जरूरी मौसम और इस आम के व्यावसायिक मूल्यों को लेकर उन्होंने अपने दोस्तों के साथ काफी विचार-विमर्श भी किया। उनके अनुसार वो इस पौधे को लेने और विदेशी किस्म के फल को बेचकर पैसा किस तरह कमाया जाता है उस बारें में सोचने लगे। वर्ष 2018 में उनके एक दोस्त जो थाईलैंड गए हुए थे वहां से वो श्री किशन के लिए इस खास मियाज़ाकी आम के तीन पौधे लेकर आये थे।

जोखिमों और प्रयोगों से मिली उन्हें सफलता

Most Expensive Mango

जब से किसान किशन सुमन ने आम की इस खास किस्म के पौधे को धरती में बोया है तब से ही लगातार वो इनकी देखभाल करने में लगे हुए है। अब उन्हें उनके जोखिमों और किये गए नए प्रयोगों से सफलता मिलने लगी है, जब ये पौधे 4 फीट के हो गए थे तो उन पर मियाज़ाकी आम लगने लग गए थे, जिसके बाद उन्होंने अपने आमों की तस्वीरों को सोशल मीडिया पर पोस्ट किया जिसके बाद उस आम की तरफ काफी आकर्षित होने लगे थे।

वो बताते है कि दुनिया का सबसे महंगा आम की अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमत 21,000 रुपये से लेकर 2 लाख रुपये तक होती है, वो आगे कहते है कि अब उनके पौधों पर आम लगने लग गए है लेकिन उन्होंने अभी तक उस आम को बाजार में बेचना शूरू नहीं किया है।

फिलहाल नहीं बेचेंगे इस खास आम को

किसान किशन सुमन के अनुसार फिलहाल उनका इस विशेष प्रकार के आमों को बेचने का कोई इरादा नहीं है, सबसे पहले वो इन आमों को अपने परिवार और दोस्तों को तोहफे के रूप में देना चाहते है। सोशल मीडिया पर उनके आमों के बारें में जानकर बहुत से लोग उनसे संपर्क कर चुके है और उनसे आम खरीदने की इच्छा भी जता चुके है। अब तक उन्हें आमों के एक पौधे के लिये 25,000 से लेकर 50,000 रुपये तक के ऑफर मिल चुके है तो वही आमों को खरीदने के लिए प्रति किलो 21,000 रुपये की भी पेशकश हो चुकी है।

%d bloggers like this: