आइए जानें घर में धूनी या धूप लगाने का सही तरीका, इससे बदलता है घर का वातावरण

हम जिस देश में रहते हैं वहां पूजा-पाठ का बहुत ज्यादा महत्व है। किसी शुभ काम की शुरुवात करनी हो तो हम पहले पूजा करते हैं। किसी यात्रा में जाने से पहले भी कई बार पूजा की जाती है। घर के गृह-दोष दूर करने के लिए पूजा की जाती है। यहां तक कि अगर हम परीक्षा देने जा रहे होते हैं तो भी हम भगवान को जरूर याद करते हैं। आप लोग भी रोज सुबह उठकर पूजा जरूर करते होंगे। पूजा के वक्त धूप या बत्ती भी लगाते होंगे। पर आप ये बताइए कि क्या आपको धूप लगाने का सही तरीका पता है ? क्या आपको पता है कि किस तरीके से धूप को लगाने से उसकी खुशबू का आप पर सकारात्मक असर पड़ता है। अगर आपको इन सवालों के जवाब नहीं पता तो चलिए आपको बिना देर किए बता देते हैं।

धूप लगाने का ये है सही तरीका

अगर आप पूजा कर रहे हैं तो अगरबत्ती की जगह हमेशा धूप का ही इस्तेमाल करें। अगरबत्ती का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए पूजा के वक्त। हालांकि बहुत लोग इस्तेमाल करते हैं लेकिन बड़े-बड़े मंदिरों में आज भी पूजा के वक्त अगरबत्ती नहीं बल्कि धूप लगाई जाती है।

धूप लगाने के लिए आपको कुछ चीजों की जरूरत पड़ेगी। आइए आपको बताते हैं कि आपको इसे यानी धूप को लगाने के लिए क्या क्या सामान चाहिए। धूप के लिए आपको सबसे पहले अच्छी गुणवत्ता का धूप चाहिए होगा। ये आपको आसानी से बाजार में मिल जाएगा। साथ ही में आपको गोबर का कंडा, माचिस, कपूर की बाती, एक दिया, गुगुल, चंदन की लकड़ी के छोटे-छोटे टुकड़े चाहिए होंगे।

दोस्तों धूप लगाने के लिए आपको सबसे पहले दीया लेना होगा। इस दीये के अंदर कपूर की 2 गोटियां रखकर उसे जलाना होगा। जब आपका कपूर जल जाए तो उसके बाद उसमें गोबर का कंडा डालना होगा। जब गोबर के कंडे में आग पकड़ ले उसके बाद उसमें धीरे से धूप डालनी होगी। साथ मे दोस्तों उस धूप के ऊपर चंदन की लकड़ी और गुगुल डालना होगा। आप देखेंगे कि धीरे-धीरे दीये के अंदर से धुआं निकलना शुरू होगा। देखते ही देखते आपका घर धूप की खुशबू से भर जाएगा।

धूप लगाने के हैं बहुत फायदे

कहा जाता है कि धूप लगाने से आपके आस-पास की नकारात्मक शक्तियों का नाश हो जाता है। आपके घर में जितने भी कीटाणु या विषाणु होते हैं उनका खात्मा हो जाता है। सबसे जरूरी बात जो बहुत सारे लोग नहीं जानते हैं वो ये है कि धूप लगाने से आपके घर की हवा शुद्ध हो जाती है। अगर घर की हवा शुद्ध होगी तो आप बीमार नहीं पड़ेंगे। अगर अगरबत्ती आप जलाते हैं तो आप केमिकल का कहीं ना कहीं उपयोग कर रहे हैं इसलिए इससे जरूर बचें।

Share this on