Cricket World Cup : 27 वर्षों में टीम इंडिया की जर्सी का इतनी बार बदला रंग और डिजाइन

आईपीएल 2019 अभी अपने शिखर पर है और उसी बीच Cricket World Cup 2019 की भी चर्चा शुरू हो गयी है। BCCI ने वर्ल्डकप में खेलने वाले खिलाडियों के नाम की घोषणा भी कर दी है। क्रिकेट विश्व कप का 12वां संस्करण 30 मई से इंग्लैंड में खेला जाएगा। अब तक ऑस्ट्रेलिया 5 बार, वेस्टइंडीज और भारत 2 बार, श्रीलंका और पाकिस्तान एक-एक बार विश्व कप का जीत कर विश्वविजेता बन चुके हैं। 2015 क्रिकेट विश्व कप का फाइनल मैच ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंडके बीच खेला गया था जिसे, ऑस्ट्रेलिया ने न्यूजीलैंड को 7 विकेटों से हराकर 11वां वर्ल्डकप अपने नाम कर लिया।

Cricket World Cup में टीम इंडिया की जर्सी का इतिहास

सबसे पहले आपको बता दें की इस बार Cricket World Cup 2019 में 15 खिलाड़ियों की टीम को चुना गया है, इस टीम में विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा (उपकप्तान ), महेंद्र सिंह धोनी, शिखर धवन, हार्दिक पंड्या, केएल राहुल, रवींद्र जडेजा, विजय शंकर, केदार जाधव, दिनेश कार्तिक, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी शामिल हैं। आज हम बात करेंगे कि भारतीय टीम के जर्सी वर्ल्डकप के 27 साल के इतिहास में बदली है।

Cricket World Cup : 27 वर्षों में टीम इंडिया की जर्सी का इतनी बार बदला रंग और डिजाइन

कब कब बदली टीम की जर्सी

सबसे पहले बात करेंगे वर्ल्डकप 1992 की जो की ऑस्ट्रेलिया और नूज़ीलैण्ड की मेज़बानी में खेला गया था। इस वर्ल्डकप में पाकितान से इंग्लैंड को 22 रनों से हराकर कर वर्ल्डकप जीता था। इस बार भारतीय टीम की जर्सी इंडिगो कलर की थी जिसमे कंधे और सीने पर कई रंगों की स्ट्राइप्स बानी हुई थीं।

Cricket World Cup : 27 वर्षों में टीम इंडिया की जर्सी का इतनी बार बदला रंग और डिजाइन

अब बात करते हैं 1996 की जब वर्ल्डकप का 6वां संस्करण खेला गया था, इस वर्ल्डकप को विलिस वर्ल्डकप भी कहा गया जिससे भारत और पाकिस्तान की मेज़बानी में खेला गया था। इस वर्ल्डकप को श्रीलंका ने ऑस्ट्रेलिया को हराकर जीता था। इस बार भारतीय टीम की जर्सी आसमानी रंग की थी जिमसे कॉलर पीले रंग का था और सीने पर भी पीली स्ट्राइप्स थी।

Cricket World Cup : 27 वर्षों में टीम इंडिया की जर्सी का इतनी बार बदला रंग और डिजाइन

गहरे आसमानी रंग की हो गयी टीम की जर्सी

साल 2003 वर्ल्ड कप में भारतीय टीम की जर्सी को काफी बदल दिया गया। जर्सी को गहरे आसमानी रंग का कर दिया गया और जर्सी के दोनों तरफ काले रंग की मोटी पट्टियां बनाई गई थीं। इस बार तिरंगे को भी जर्सी में शामिल किया गया। इस वर्ल्डकप को अफ्रीका, केन्या और जिम्बाम्वे की मेज़बानी में खेला गया था जिस ऑस्ट्रेलिया ने भारत को हराकर जीता था।

Cricket World Cup : 27 वर्षों में टीम इंडिया की जर्सी का इतनी बार बदला रंग और डिजाइन

वर्ल्डकप 2007 में फिर से भारतीय टीम की जर्सी का रंग बदल दिया गया और इस बार तिरंगे को सीने से हटा कर और किनारे कर दिया गया। वर्ल्डकप का 9वां संस्करण वेस्ट इंडीज़ की मेज़बानी में खेला गया जिसमे ऑस्ट्रिया ने श्रीलंकस कको हराकर तीसरा वर्ल्डकप अपने नाम किया था।

Cricket World Cup : 27 वर्षों में टीम इंडिया की जर्सी का इतनी बार बदला रंग और डिजाइन

वर्ल्डकप के 10वां संस्करण को भारत ने श्रीलंका को 6 विकटों से हराकर दूसरी बार वर्ल्डकप अपने नाम कर लिया था। इस बार वर्ल्डकप भारत, श्रीलंका और बांग्लादेश की मेज़बानी खेला गया था। इस बार की जर्सी को स्टाइलिश रखा गया था जिसका रंग गहरा आसमानी रंग था और इसकी दोनों तरफ तिरंगा बना हुआ था।

Cricket World Cup : 27 वर्षों में टीम इंडिया की जर्सी का इतनी बार बदला रंग और डिजाइन

2015 के वर्ल्डकप में भारतीय टीम की जर्सी की सबसे ख़ास बात ये थी कि इसे रिसाइकल्ड प्लास्टिक की बोतलों से बनाया गया था। इस बार जर्सी से तिरंगे को हटा कर उसकी जगह टीम का नाम लिख दिया गया। इस वर्ल्डकप को ऑस्ट्रेलिया और नूज़ीलैण्ड की मेज़बानी में खेला गया था जिसे की ऑस्ट्रेलिया ने जीता।

Share this on