Dussehra 2019: दशहरे के दिन करें बस ये एक काम, होगा सभी दुखों का नाश

हिन्दू धर्म में दशहरा बड़े ही धूम-धाम से मनाया जाता हैं, इसे विजयादशमी भी कहा जाता हैं, इस त्योहार को बुराई पर अच्छाई की जीत के रूप में मनाया जाता हैं| नवरात्रि की पूजा के नौ दिनों बाद दशमी तिथि को माँ दुर्गा का विसर्जन किया जाता हैं| अश्विन माह की कृष्ण पक्ष की दशमी तिथि को दशहरा मनाया जाता है। शास्त्रों एवं पुराणों के मुताबिक इस दिन अस्त्र-शस्त्र की पूजा की जाती है और अपने शत्रुओं पर विजय प्राप्त करने की कामना की जाती हैं| ऐसी मान्यता है कि दशहरे के दिन कुछ उपाय, घर में सुख-समृद्धि लाने के लिए की जाती हैं और यह उपाय बड़ी ही जल्दी फलीभूत भी होते हैं| ऐसे में आज हम आपको कुछ उपाय बताने जा रहे है, जिसे आप दशहरा के दिन सुबह करे|

दशहरे के दिन करें ये पांच उपाय

(1) दशहरे वाले दिन तड़के सुबह भगवान हनुमान जी को गुड़ और चना एवं शाम के समय लड्डू का भोग लगाए और प्रार्थना करे। ऐसा करने से आपको हर तरह के दुखों से मुक्ति मिल जाती है और जीवन में आ रही समस्याओं का अंत होता हैं क्योंकि भगवान हनुमान अपने भक्तों के दुखो को बहुत जल्दी हरते हैं और एक मात्र कलयुग के देवता माने जाते हैं|

(2) नवरात्रि के दिनों में शमी की पूजा करने से कानूनी दांव पेंच और मुकदमें सुलझ जाते हैं क्योंकि शमी को शनिदेव का रूप माना जाता है और उन्हें प्रसन्न करने से धन एवं वैभव की प्राप्ति होती है। शनिदेव न्याय के देवता माने जाते है और वो व्यक्ति को उसके कर्म के हिसाब से फल प्रदान करते हैं| इसलिए आप अच्छे कर्म करे और सुखी जीवन की कामना शनिदेव से करे|

(3) दशहरे के दिन दोपहर के समय घर के ईशान कोण यानि घर के पूर्व और उत्तर दिशा में कुमकुम, चंदन और फूलों से अष्टदल कमल की आकृति बनाएं। अष्टदल कमल बनाने के बाद देवी जया और विजया का स्मरण करके पूरे विधि-विधान से पूजा करे। देवी की पूजा के बाद शमी वृक्ष के पास घी का दीपक जलाएं और वृक्ष के पास से मिट्टी उठाकर घर के कोने में रखें, ऐसा करने से आपके घर में दरिद्रता नहीं आती है और सभी कामों में सफलता मिलती है। इसलिए इस उपाय को दशहरा के दिन जरूर करे|

(4) दशहरा के दिन माँ काली का स्मरण करते हुए उन्हें काला तिल चढ़ाएं और अपनी भूलचूक से हुयी गलतियों के लिए क्षमा मांगें। इससे आपको स्वर्ग की प्राप्ति होगी और बुरे सपने नहीं आएंगे, देवी की कृपा से आपका जीवन सुखमय होगा| माँ काली की तांत्रिक गतिविधियों के लिए पूजा की जाती हैं|

(5) दशहरा के दिन आदि शक्ति दुर्गा को दस तरह के फलों का भोग लगाएं और गरीबों में बाँट दे| देवी माँ को भोग लगाते समय ‘ॐ विजयायै नम:’ मंत्र का जाप करें। ऐसा करने से आपको हर क्षेत्र में सफलता मिलेगी और आप अपने जीवन में नई ऊंचाइयों को छु लेंगे|

यह भी पढ़ें :

विजया दशमी के दिन बंगाल में महिलाएं क्यों खेलती हैं सिंदूर खेला, इसके पीछे छिपा है ये बड़ा कारण

एक नींबू, सात मिर्च, चौराहा और तीन उपाय बदल देगी आपकी किस्मत

Share this on