अगर पूरे सावन में नहीं कर पाएं हैं शिव पूजन, तो आखिरी सोमवार को कर लें ये उपाय

धार्मिक ग्रन्थों के मुताबिक सावन महीने में भगवान शिव की पूजा-अर्चना करनी चाहिए ताकि उनकी कृपा आपके ऊपर बनी रहे| लेकिन फिर भी आपने भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए सावन महीने में कुछ नहीं किया तो आप चिंता ना करे बल्कि आप सावन महीने के अंतिम सोमवार यानि 12 अगस्त को इन उपायों को करके भगवान शिव की कृपा प्राप्त कर सकते हैं| इन उपायों के अलावा आप इन में से कोई भी एक मंत्र का जाप करके अपनी सभी मनोकामना पूरी कर सकते हैं| ऐसे में आइए जानते हैं कि सावन महीने के अंतिम सोमवार को कौन से उपाय करने पर भगवान शिव प्रसन्न होते हैं|

सावन महीने के अंतिम सोमवार को करे ये उपाय

(1) सावन महीने के अंतिम सोमवार को स्फटिक के शिवलिंग को शुद्धजल, गंगाजल, दूध दही, घी, शहद और शक्कर से अभिषेक करे| अब धूप-दीप जलाकर भगवान शिव के मंत्रो का जाप करे, इससे आपके जीवन में आने वाली तमाम बाधाएँ दूर हो जाएंगी|

(2) यदि आपको कोई प्राणघातक बीमारी हैं और आप इससे छुटकारा पाना चाहते हैं तो सावन के अंतिम सोमवार को महामृत्युंजय मंत्र का जाप रुद्राक्ष के माला से करे|

(3) मिट्टी या अन्य धातु के शिवलिंग को घर में या फिर किसी मंदिर में प्राण प्रतिष्ठित करने से व्यापार में वृद्धि होती हैं|

(4) सावन महीने में भगवान शिव ही नहीं बल्कि उनका पूरा परिवार, गण सभी प्रसन्न रहते हैं| इसलिए सावन महीने में भगवान शिव के अलावा उनके परिवार के सदस्यों की भी पूजा करे|

(5) सावन महीने के अंतिम सोमवार को माता पार्वती और भगवान शिव का षोडशोपचार पूजा करने पर आपका परिवार सदैव सुखी रहेगा और आपका घर धन-धन्य से भरा रहेगा|

इन मंत्रों में से जप ले कोई एक भी मंत्र

(1) ॐ नमः शिवाय

(2) ॐ ऐ ह्रीं शिव गौरीमय ह्रीं ऐ ॐ

(3) ॐ ह्रीं नमः शिवाय ह्रीं ॐ

(4) ॐ श्रीं ऐ ॐ

(5) ॐ हे गौरी शंकरार्धांगी यथा त्वं शंकप्रिया तथा मां कुरु कल्याणी कान्तकांता सुदुर्लभाम

(6) ‘ॐ सांब सदा शिवाय नमः’ इन सभी मंत्रों का जाप सावन के अंतिम सोमवार को स्फटिक की माला या चन्दन की माला से करे|

यह भी पढ़ें :

सावन माह में अगर सुन लेते हैं ये मंत्र तो आपकी हर समस्या हो जाएगी खत्म, 24 घंटे में ही दिखेगा असर

सावन के सोमवार महिलाएं व कुंवारी लड़कियां ऐसे करें पूजा, हरी चूड़ियों से जरूर कर लें ये काम

Share this on