क्या है ये CDS, जिसका पीएम मोदी ने स्वतंत्रता दिवस पर किया ऐलान

73वें स्वतंत्रता दिवस के शुभ अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले से एक बड़ा ऐलान किया| पीएम मोदी ने देश की सुरक्षा व्यवस्था को सतर्क, सुव्यवस्थित और तीनों सेनाओं के बीच तालमेल बढ़ाने के लिए एक चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बनाने की घोषणा की हैं| उन्होने कहा कि अब तीनों सेनाओं का एक प्रमुख होगा, जिसे चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ कहा जाएगा और सेना के इतिहास में इस तरह का पद पहली बार बनाया जा रहा हैं| पीएम मोदी ने स्वतंत्रता दिवस पर दिये गए भाषण में कहा कि तीनों सेनाओ को एक साथ चलना होगा तभी यह देश पूरी तरह से सुरक्षित रहेगा|

क्या है चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ

पीएम मोदी ने सीडीएस के पद की बात कहीं हैं, सीडीएस देश के ‘ऑपरेशन्स-कमांडर’ के तौर पर काम करेंगे और तीनों सेनाओं के साझा मिशन उनके ही नेतृत्व में अंजाम दिए जाएंगे| सीडीएस ही प्रधानमंत्री और सरकार को तीनों सेनाओं से संपर्क सूत्र का काम करेगा| इस तरह सीडीएस बनने के बाद तीनों सेनाओं के प्रमुख अपनी-अपनी सेनाओं के प्रशासनिक-चीफ के तौर पर काम करेंगे|

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कारगिल युद्ध के बाद बनी सुब्रमणयम कमेटी की रिपोर्ट ने देश में पहली बार सीडीएस बनाए जाने की सिफारिश की थी| हालांकि इस पोस्ट को बनाए जाने का मामल पिछले 20 सालों से लटका हुआ हैं| दरअसल कारगिल युद्ध के दौरान थलसेना और वायुसेना के मध्य समन्वय की कमी देखि गयी थी, इस समन्वय की कमी के कारण ही भारत को इतना नुकसान उठाना पड़ा था|

पीएम मोदी ने इस सीडीएस बनाने के घोषणा कर दी हैं| लेकिन अभी यह बात साफ तौर से जाहीर नहीं हो पायी है कि सीडीएस फोर स्टार जनरल होगा या फाइव स्टार| हालांकि अब सीडीएस के ऊपर ही सर्जिकल स्ट्राइक हो या फिर बालकोट एयर स्ट्राइक जैसे ऑपरेशन्स को अंजाम देने की जिम्मेदारी होगी| बता दें कि यूके, अमेरिका, चीन, और फ्रांस जैसे देशों में काफी लंबे समय से सीडीएस रैंक का एक अधिकारी है और अब कुछ ही दिनों में इस रैंक का अधिकारी भारत में भी देखने को मिलेगा|

यह भी पढ़ें :

स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले से पीएम मोदी ने देश को दिया ये खास संदेश, जानें महत्वपूर्ण बातें

ट्रिपल तलाक | पीएम मोदी ने निभाया वादा, मुस्लिम महिलाओं को दिलाया उनका हक़

Share this on