Basant Panchami 2020: कब मनाया जाएगा इस बार सरस्वती पूजा, क्या है सही तारीख, इस दिन करें ये 5 काम

29 जनवरी को देश में बसंत पंचमी त्यौहार मनाया जाएगा। इस दिन को बेहद खास माना जाता है। बता दें यह मान्यता है कि इस दिन से वसंत ऋतु का आगमन होता है। बसंत पंचमी हर वर्ष माघ माह के शुक्ल पक्ष की पंचमी को मनाई जाती है। इस दिन मुख्य रूप से विद्या की देवी मां सरस्वती की पूजा की जाती है। अबूझ मुहूर्त के कारण इस दिन शुभ कार्य किए जाते हैं, आइए आपको बताते हैं इस दिन कौन से शुभ कार्य किए जाते हैं।

बसंत पंचमी समय और मुहूर्त (Basant Panchami 2020)

पंचमी तिथि का प्रारम्भ – 29 जनवरी 2020 को सुबह 10:45 से दोपहर 12.35 मिनट तक।
बसन्त पंचमी पूजा मुहूर्त – सुबह 10:47 से 12:34 तक रहेगा।
पूजा के मुहूर्त की कुल अवधि – 01 घण्टा 49 मिनट।
पंचमी तिथि की समाप्ति – 30 जनवरी 2020 को शाम 01:19 बजे।

पूजा विधि, ऐसे करें पूजन

बंसत पंचमी के दिन विद्या की देवी मां सरस्वती की पूजा की जाती है। स्कूलों, शिक्षण संस्थानों और घरों में मां सरस्वती की पूजा की जाती है। प्रात काल स्नान करने के बाद मां सरस्वती की प्रतिमा या तस्वीर पूजा स्थल पर रख कर पूजा करनी चाहिए। इस दिन पीले कपड़े पहन कर मां की आराधना करने से विशेष लाभ प्राप्त होता है। शास्त्रों के अनुसार यदि इस दिन देवी सरस्वती की पूजा के साथ ही सरस्वती स्त्रोत भी पढ़ा जाए तो इसके अद्धभुत परिणाम मिलते हैं।

यह भी पढ़ें : Basant Panchami 2020 : बसंत पंचमी के दिन पहनने चाहिए इस रंग के कपड़े, करें ये शुभ कार्य

करें ये पांच काम

1. पढ़ने वाले बच्चों को इस दिन मोर पंख किताब के बीच में रखना चाहिए। ऐसा करने से पढ़ाई में मन लगता है और ज्ञान में वृद्धि होती है।
2. आपको सुबह उठ कर सबसे पहले अपनी हथेलियों को देखना चाहिए। ऐसा माना जाता है कि हथेलियों में माँ सरस्वती का वास होता है जिसे देखने से विद्या की देवी माँ         सरस्वती के दर्शन होते हैं।
3. इस दिन आपको पीले कपड़े पहन कर मां सरस्वती की पीले और सफेद रंग की पूजा सामग्री और फूलों से पूजा करनी चाहिए।
4. इस दिन मां सरस्वती के मंत्र जाप करने से ज्ञान में वृद्धि होती है।
5. इस दिन आपको शिक्षा से जुड़ी हई चीजों को दान में देना चाहिए, ऐसा करना शुभ होता है।

Share this on