अर्जन बाजवा ने कहा काश मैं रियल में एनएसजी कमांडो होता!

कबीर सिंह की अपार सफलता के बाद, अर्जन बाजवा अपने आने वाले प्रोजेक्ट के साथ दर्शकों और अपने फेन्स को एक बार फिर से बड़ा सरप्राइज देने के लिए तैयार हैं, वह एक वेब सीरीज में दिखाई देंगे जिसका टाइटल है ‘स्टेट ऑफ़ सेज 26/11’  जिसे ज़ी 5 पर रिलीज़ किया जाएगा।अपने आकर्षक व्यक्तित्व और रिच बैरीटोन(आवाज़) के लिए पहचाने जाने वाले प्रतिभाशाली अभिनेता को डिजिटल शो में रियल लाइफ के हीरो बनने का मौका मिला है, जिसमे वह एनएसजी (नेशनल सिक्योरिटी गार्ड) काउंटर-टेररिस्ट यूनिट हेड – कर्नल सुनील श्योराण की प्रेरक भूमिका निभाते हुए दिखेंगे।

अपनी फिल्मों में सफल यादगार भूमिकाएँ निभाने के बाद, अर्जन इस शो में एक और दिलचस्प और चुनौतीपूर्ण भूमिका निभाने को लेकर उत्साहित और जुनूनी हैं, जिसमें अर्जुन बिजलानी, मुकुल देव, विवेक दहिया, तारा अलीशा डेरी, सिड मक्कड़, विक्रम गायकवाड़ और अविनाश वाधवान भी शामिल हैं।

शो में इस तरह के महत्वपूर्ण किरदार को निभाने के अपने अनुभव को शेयर करते हुए, अर्जन बताते हैं, “यह सच में कठिन है। मैं हमेशा से एक डिफेंस पर्सनालिटी के किरदार को निभाना  चाहता था और इसे निभाने के लिए एनएसजी के कमांडिंग ऑफिसर से बेहतर कुछ और नहीं हो सकता था जिसने आतंकवादी हमलों के दौरान अपने एनएसजी कमांडो के साथ मुंबई शहर को बचाया था। यह एनएसजी द्वारा हासिल किया गया सबसे उल्लेखनीय अचीवमेंट है। ”

काम करते वक्त , रियल लाइफ में एनएसजी कमांडो के साथ बातचीत करते हुए, जिन्होंने अभिनेताओं को एनएसजी कैसे काम करता है इसकी विस्तार से जानकरी दी. अर्जन इस शो का हिस्सा बनकर काफी खुश है। “काश, मैं रियल लाइफ में एक एनएसजी कमांडो होता,” वह इसे और अच्छे से बताते  हुए कहते है , ” जब आप इस यूनिफार्म को पहनते है तो  तुरंत आपको उस क्षण में साहस, आत्मविश्वास और गर्व का अहसास होता हैं। यह इस यूनिफार्म की ताकत है। ”

अपनी प्रिपरेशन प्रोसेस  के बारे में बात करते हुए, अर्जन ने बताया , “ कर्नल सुनील श्योराण से मिलने का मुझे सौभाग्य मिला, जो तीन बार गोली लगने के बाद भी बच गए , जिन्हे ‘बुलेट केचर’ कहा जाता है। शूटिंग के दौरान एनएसजी के ऐसे लोग भी थे जिन्होंने हमें हथियारों का इस्तेमाल सही तरीके से सिखाया, यूनिफार्म से जुड़ी जानकारी, उनकी बॉडी लैंग्वेज, बॉडी पोस्चर, प्रोटोकॉल जो हर किसी को फॉलो करना होते थे ये सब बताया.   ऑपरेशन के दौरान वे एक-दूसरे से कम्यूनिकेट करने के लिए जिस भाषा का इस्तेमाल करते हैं, साथ ही एक-दूसरे के साथ उनके पर्सनल रिलेशनशिप को भी बताया.  ये सभी चीजें सामूहिक रूप से आपको अपने किरदार को निभाने के लिए तैयार करती हैं। हमने एक कमांडो के बारे में सब कुछ सीखने की कोशिश की। ”

संदीप उन्नीथन की किताब पर आधारित, ‘ब्लैक टॉर्नेडो: द थ्री सीज ऑफ मुंबई 26/11’, ऑपरेशन टेरर: ब्लैक टॉरनेडो एक आठ-एपिसोड की वेब सीरीज है, जिसे कॉन्टिलो पिक्चर्स के अभिमन्यु सिंह द्वारा क्रिएट और प्रोड्यूस्ड किया गया है और मैथ्यू लेट्विइलर द्वारा को-प्रोड्यूस्ड और निर्देशित है। ।

पूरी दुनिया को हिला देने वाले सब्जेक्ट पर, हम बहुप्रतीक्षित वेब सीरीज और विशेष रूप से अर्जन बाजवा को कभी न देखे जाने वाले किरदार में देखने के लिए और अधिक इंतज़ार नहीं कर  सकते हैं!

Share this on