Tuesday, November 21News That Matters

आईसीसी महिला वर्ल्ड कप के फ़ाइनल मुक़ाबले मे रोमांचक संगर्ष के बाद टीम इंडिया के वर्ल्ड कप का सपना टूटा

मेजबान इंग्लैंड ने लॉर्ड्स में खेले गए विश्वकप के फाइनल मुकाबले में 9 रन से मात देकर चौथी बार विश्वकप खिताब हासिल किया। आईसीसी महिला विश्वकप 2017 का फाइनल मुकाबला भारत और इंग्लैंड के बीच ऐतिहासिक लॉर्ड्स के मैदान पर खेला गया जहां भारतीय महिला क्रिकेट टीम बेहद रोमांचक मैच में इतिहास रचने से चूक गई। हालांकि भारत ने मौजूदा टूर्नामेंट में इंग्लैंड को अपने पहले ही मैच में हराया था जिसका बदला इंग्लैंड ने फ़ाइनल में लेकर विश्व कप पर कब्जा भी जमा लिया।

 

आपको बता दे की पहले खेलते हुए इंग्लैंड ने निर्धारित 50 ओवरों में सात विकेट पर 228 रन बनाए जिसके जवाब में भारत की पूरी टीम 48.4 ओवरों में 219 रन पर सिमट गई। एक समय जीत की तरफ आसानी से पहुंचती दिख रही टीम इंडिया ने 191 रन पर चौथा विकेट गंवाया इसके बाद जैसे विकेटों की झड़ी लग गई और टीम इंडिया 48.4 ओवर में 219 रन पर ढेर हो गई। तेज गेंदबाज श्रबसोल ने 46 रन देकर टीम इंडिया के 6 बल्लेबाजों को पवेलियन वापस भेजकर टीम इंडिया की हार सुनिश्चित कर दी। सेमीफिनल की हीरो हरमनप्रीत कौर ने 51 रन और वेदा कृष्णमूर्ति ने 35 रनों की पारी खेली जबकि पूनम राउत ने सबसे अधिक 86 रनों की शानदार पारी खेली।

इंग्लैंड ने अपनी पारी की शुरुवात काफी सधे हुई तरीके से की। आपको बता दे की इंग्लैड का पहला विकेट 47 रन के स्कोर पर गिरा और फिर इसके बाद भारतीय गेंदबाजों ने मैच पर अपनी पकड़ बनाते हुए इंग्लैंड के दो और विकेट जल्दी ही चटका दिए। स्कीवर और टेलर ने चौथे विकेट के लिए 83 रनों की महत्वपूर्ण साझेदारी बनाते हुए इंग्लैंड को एक मजबूत स्कोर दिया। श्रबसोल को उनकी शानदार गेंदबाजी के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया।

 

झूलन गोस्वामी टीम इंडिया की तरफ से सबसे सफल गेंदबाज रहीं, उन्होंने 10 ओवर में  23 रन देकर 3 विकेट हासिल किए। राजेश्वरी गायकवाड़ को एक फलता प्राप्त हुई। आपकी जानकारी के लिए बता दे कि भारतीय महिला टीम अभी तक एक बार भी विश्वकप नहीं जीत पाई है। केवल 2005 में फाइनल तक का सफर तय किया था और उस वक़्त उसे ऑस्ट्रेलिया के हाथों हार का सामना करना पड़ा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: