मां को समझ नहीं आया की उसके बेटे के कब्र पर क्यों उगी थी घास, सच सामने आने पर रोने लगी मां

दुनिया में सबसे ज्यादा दुख तब होता हैं जब कोई अपना हमे छोड़कर कर चला जाता हैं और यह दुख तब और भी बढ़ जाता हैं जब जाने वाले की उम्र कम हो, ऐसे ही कुछ रेमेंड और रिचर्ड के साथ हुआ| दरअसल इन दोनों का बेटा जोसेफ अमेरिका के वायुसेना में थे और इनकी मृत्यु मात्र 36 साल की उम्र में हो गयी थी| इसके बाद जोसेफ के माता-पिता को वो करना पड़ा जो कोई भी माता-पिता नहीं करना चाहते हैं| जोसेफ के माता-पिता ने उन्हें कब्र में दफनाने के लिए मजबूर थे|

यह भी पढ़ें : आखिरकार खुल ही गया दुनिया का सबसे बड़ा ताबूत, अंदर से निकला कुछ ऐसा जिसे देखकर वैज्ञानिक भी रह गए हैरान

बेटे को दफनाने के बाद जोसेफ के माता-पिता उसके कब्र जाते थे लेकिन ठंड बढ़ने के कारण वो घर से निकलना बंद कर दिये थे| इसके बाद जब गर्मी आयी तो वो अपने बेटे के कब्र पर गए और वहाँ का नजारा देख कर वो हैरान रह गए| दरअसल पूरा कब्रिस्तान सूखे घांसो में तब्दील था लेकिन सिर्फ उनके बेटे के कब्र वाली जमीन हरी-भरी थी|

दरअसल जोसेफ के कब्र पर एक लड़की रोज आकर रोती थी और उसको रोते हुये जेक राइजर नाम के व्यक्ति ने देखा| जेक राइजर वहाँ अपनी पत्नी की कब्र पर फूल चढ़ाने आते थे, जिसकी हाल ही में मृत्यु हो गयी थी| जेक ने उस लड़की से उसके रोने का कारण पूछा तो उसने बताया कि जोसेफ उसका भाई था| हालांकि जोसेफ उसका सगा भाई नहीं था, लेकिन लड़की को रोते हुये देखकर जेक को बहुत दुख हुआ और उसने उस लड़की के लिए कुछ करने का सोचा|

इसके बाद जेक रोज अपनी पत्नी को फूल चढ़ाने के साथ जोसेफ के कब्र पर पानी डाला करता था| रोज पानी डालने से जोसेफ की कब्र पर कुछ ही दिन में घास उग आए| जेक ने सोचा कि वह लड़की जोसेफ के कब्र को हरा-भरा देखेगी तो उसे अच्छा लगेगा| इसके बाद जब यह सब जोसेफ के माता-पिता ने देखा तो उन्हें अच्छा लगा कि कोई उनके बेटे के लिए इतना समय दिया और उन्होने जेक का शुक्रिया किया|

( हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
Share this on