शरीर के किस अंग पर काला धागा बांधने से क्‍या होता है, आइए विस्‍तार से जानेंं

कुछ लोगो को आपने काला धागा पहने हुए तो देखा ही होगा। कुछ लोग काले धागे को गले में, तो कुछ लोग हाथ में और कुछ लोग पैर में भी पहनते है। लेकिन आपने यह कभी सोचा है कि आखिर लोग काले धागे क्यों पहनते है? शायद आपने यह कभी सोचा नहीं होगा। वैसे अगर देखा जाए तो काला रंग नाकारात्मक उर्जा उत्पन्न करता है, जिसके कारण किसी भी शुभ कार्य में काला धागा या काले रंग के कपडे का प्रयोग करना वर्जित है। लेकिन हम आपको यह बता दें कि काले रंग का धागा यदि आप अपने शरीर पर धारण करते है तो इसकी सबसे बड़ी खासियत यह है कि यह किसी भी प्रकार की उर्जा को आपके शरीर से बाहर नहीं निकलने देती है।

यह भी पढ़े :- आखिरकार मिल ही गया पीएम मोदी के हाथ में बंधे इस “काले धागे” का राज, आप भी जानें

जी हां, ज्योतिष की माने तो काले रंग का धागा बांधने के पीछे काफी राज होते हैं लेकिन वैज्ञानिक रूप से भी काले रंग के धागे को बांधना काफी फायदेमंद हैं। तंत्र चुडामणि ग्रंथ के साधनाविधि अध्याय के अनुसार काले धागे को बुरी शक्तियों से रक्षा करने वाला माना गया है। काला धागा आपको बुरी नजरों के साथ ही साथ यह आपके किस्मत भी बदल सकती है। लोगों की माने तो उनका यह मानना है कि काले रंग की चीजों पर बुरी शक्तियों का प्रबल रहता है लेकिन हम आपको बता दें कि यदि काले रंग के धागे को मंत्रों से बंधा जाएं तो यह बुरी नजर के साथ ही साथ बुरी ताकतों से भी बचाता है।

तंत्र विद्या के अनुसार यदि आप रेशमी या सूती काले रंग के धागे को शनिवार या रविवार की शाम को भैरव मंदिर में जाकर। इस धागे में छोटी-छोटी नौ गाँठ लगाकर भैरव जी का सिंदूर लगाएं और इस धागे को घर के मेन गेट पर बांध दें तो इससे आपके घर से नकारात्मक उर्जा दूर रहेगी और बुरी शक्तियों से यह आपके घर की सुरक्षा भी करेगी।

शरीर के किस अंग पर काला धागा बांधना चाहिए-

यदि काले रंग का धागा भैरव या हनुमान मंदिर से लाकर रविवार के दिन उसे अपने सीधे यानि दाहिने हाथ में पहना जाए तो इससे आप की किस्मत और प्रबल हो जाती है और आपके रुके हुए काम भी पुरे होने लगते है।

 

यदि काले रंग का धागा भैरव मंदिर से सिंदूर लगा कर रविवार के दिन उसे उल्टे यानि बाएं हाथो में पहना जाए तो यह आपकी बुरी ताकतों से रक्षा करती है। यदि यही बच्चों को पहनाया जाए तो इससे बच्चों को बुरी नजरों से रक्षा होती है।

 

यदि शनिवार के दिन हनुमान जी के पैर का सिंदूर लगाकर काले धागे को गले में धारण करें तो इससे बिमारीयों से रक्षा होती है। जो बच्चे ज्यादा बीमार पड़ते है, उनके लिए यह अचूक उपाय माना गया है।

Share this on