क्या सच में सरकार द्वारा पढ़ा जा रहा है आपका Whatsapp मैसेज, जानें क्या है सच्चाई

हाल के दिनों में देश भर में बढ़ रही फर्जी खबरों की वजह से हिंसा को देखते हुए सरकार कई तरह के कानून ला रही है जिसमे साइबर कानून भी शामिल है। देखा जाए तो इस तरह के फर्जी संदेश का प्रचार सबसे ज्यादा Whatsapp से ही होता है और इसे देखते हुए मैसेजिंग ऐप व्हाट्सएप पर इन दिनों एक न्युज भी काफी ज्यादा वायरल हो रहा है।

बता दें की इस मैसेज के जरिए यह बताया जा रहा है कि व्हाट्सएप ने अपने प्लेटफॉर्म पर एक नए फीचर को जोड़ा है। दरअसल, वायरल हो रहे मैसेज में कहा गया है कि यदि आपके द्वारा फॉरवर्ड किए गए मेसेज में दो ब्लू टिक के साथ एक तीसरा टिक भी दिख रहा है तो इसका मतलब है कि सरकार आपके मैसेज पढ़ रही है।

क्या है सच्चाई

बता दें कि इस मैसेज में एक नए रेड टिक का जिक्र किया गया है। इस रेड टिक के बारे में मैसेज में बताया गया है कि अगर आपके द्वारा भेजे गए मैसेज में तीसरा टिक रेड है तो मैसेज को आपत्तिजनक है। इससे पुलिस आपको जल्द ही गिरफ्तार कर सकती है। वहीं, मैसेज में तीनों ही ब्लू है तो इसका मतलब है कि आपका मैसेज सही है।

 

यदि आपके भी व्हाट्सएप अकाउंट पर ऐसा ही मैसेज आया है तो परेशान ना हो, क्योंकि व्हाट्सएप में ऐसा कोई फीचर न तो आया है और न ही आने की संभावना है। आपको बता दें, कंपनी का कहना है कि ऐप पर हर यूजर के चैट, फोटो, वीडियो, वॉइस मेसेज को यूजर अपने डिवाइस पर ही स्टोर कर सकता है। इसके अलावा किसी भी दूसरे सर्वर पर यह उपलब्ध नहीं हो सकता है।

Whatsapp Viral Truth

 

आपने देखा होगा कि जब कोई मैसेज व्हाट्सएप पर तत्काल डिलीवर नहीं होता है तो आप उसे एक या दो दिन के बाद भी सेंड कर सकते हैं। लेकिन यदि आप एक लंबे समय जैसे एक या दो महीने के बाद उस मैसेज को सेंड करते हैं तो वह डिलीवर नहीं होता है। ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि कंपनी के सर्वर पर यह इनक्रिप्टेड मोड में 30 दिनों तक ही सेव रहता है इसके बाद इसे सर्वर के डिलीट कर दिया जाता है। बता दें, साल 2016 के बाद से ऐप पर ‘एंड टु एंड इनक्रिप्शन’ की प्राइवेसी पॉलिसी लागू है जिसे आपका मेसेज कोई तीसरा नहीं पढ़ सकता है।

( लगातार youthtrend के खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक और ट्विटर पर लाइक करें )
Share this on

Leave a Reply