Sunday, November 19News That Matters

विद्या बालन के यौन शोषण आरोपों का सेना के जवान ने दिया करारा जवाब वायरल हुआ वीडियो

विद्या बालन एक भारतीय अभिनेत्री हैं, बॉलीवुड में विद्या अपने बेहतरीन अभिनय और अदायगी के लिए जानी जातीं हैं। विद्या का अब तक फ़िल्मी सफर बेहद सफल रहा है। उन्‍हें एक राष्ट्रीय पुरूस्कार और 5 बार फिल्‍मफेयर अवार्ड्स से भी सम्‍मानित किया जा चुका है। उनकी फिल्मे कहानी’, ‘डर्टी पिक्चर’, ‘इश्किया’ और ‘पा’ जैसी फिल्मों में संजीदा किरदार निभा चुकी विद्या बालन बॉलीवुड की एक बहुत ही सफल अभिनेत्री बन चुकी हैं।

आज हम बात करेंगे दुनियाभर में #MeToo कैंपेन  की जिसके तहत कई महिलाएं अपने साथ हुई यौन शोषण की घटनाओं का खुलासा कर रही हैं और इसमें विद्या बालन ने भी अपनी एक कहानी शेयर की है की किस तरह से वो अपने कॉलेज के टाइम में यौन शोषण की शिकार हुई थी।

इस काम में कई सेलीब्रिटीज ने भी इसमें अपना साथ दिया है, हॉलीवुड के साथ ही बॉलीवुड में भी कई सेलीब्रिटीज इस पर अपनी बात रख चुकी है और विद्या का कहना है कि ऐसी हरकत करने वाले लोगों का नाम सामने आना चाहिए और उन्‍हें शर्मिंदा करना चाहिए, साथ ही उन्‍होंने कहा कि महिलाओं को चाहिए कि वह इसपर बात करें क्‍योंकि यह उनकी गलती नहीं है इसलिए बिना किसी हिचक के हमें ऐसी हरकत करने वालों के नाम सामने लाने चाहिए और उन्‍हें शर्मिंदा करना चाहिए।

विद्या ने एक घटना का जिक्र करते हुए बताया कि जब वो कॉलेज में थीं तो एक बार वो भी छेड़खानी का शिकार हुई थीं। विद्या ने कहा कि जब मैं कॉलेज में थी, एक आर्मी जवान वीटी स्टेशन पर खड़ा था और मेरी तरफ देखे जा रहा था। वह लगातार मेरे ब्रेस्ट को घूर रहा था और फिर उसने मेरी तरफ देखकर आंख मारी। गुस्से के मारे मेरे तन-बदन में आग लग गई, मैं उसके पास दनदनाती हुई गई और उससे जाकर कहा, ‘आप मेरी तरफ ऐसे क्या घूर रहे हैं? आपने मुझे देखकर आंख क्यों मारी ? आप हमारे देश के जवान हैं। देश की सुरक्षा का जिम्मा आपका है और आप मुझे आंख मार रहे हैं। ये क्या छिछोरापन है?’

यह भी पढ़ें : दुनिया की सबसे प्रभाशाली महिलाओं में शामिल होने वाली है ये मशहूर एक्ट्रेस, जाने कौन है ये

जिसके बाद इसका जवाब एक जवान आर्मी की ड्रेस में है और अपना नाम राहुल सांगवान बता रहा है जिसके बाद उसने विद्या बालन के लिए आपत्तिजनक भरे शब्दों भरी कविता सुना रहा है। आप इस वीडियो में देखेंगे तो बता दें कि ये कविता वह कुछ इस तरह है।

बुड्ढों से परहेज नहीं तो थोड़ा धीरज धर लेती, इक जवान ने घूर लिया तो अनदेखा ही कर लेती,

माना तुम पैसे लेकर ही देह प्रदर्शन करती हो, टांगे, बाहें, गला दिखाकर अपना बटुआ भरती हो,

पैसे लेकर जिस्म दिखाना उस पर भले शराफत क्या, इक जवान ने फ्री फंड में देख लिया तो आफत क्या,

पहले दुनिया घूर रही थी ये ज़मीर तब हिला नहीं, दिक्कत शायद ये है उस जवान से पैसा मिला नही,

किसने बोला था बयान तुम ऐसा दो या वैसा दो, खुल कर कहती उस जवान से घूर लिया अब पैसा दो…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: