Pre-Wedding Photo Shoot : बनारसियों को भी लग रहा प्री वेडिंग शूट का चस्का

शादियों में होने लगा है बहुत कुछ फ़िल्मी,बनारस में पांच साल पहले हुई थी शुरुआत उच्च और माध्यम सभी वर्गों
 
Pre-Wedding Photo Shoot : बनारसियों को भी लग रहा प्री वेडिंग शूट का चस्का

शादियों में होने लगा है बहुत कुछ फ़िल्मी,बनारस में पांच साल पहले हुई थी शुरुआत उच्च और माध्यम सभी वर्गों की डिमांड- बनारसियों को भी लग रहा प्री वेडिंग शूट (Pre-Wedding Photo Shoot) का चस्का। वाराणसी, उत्तर प्रदेश राज्यों के प्रसिद्ध नगरों में से है, इसे ‘बनारस’ या ‘काशी’ के नाम से भी जाना जाता हैं। इस नगर की खास बात यह है कि इसे हिन्दू धर्म में सर्वाधिक पवित्र नगरों में से एक माना जाता है। काशी नगरी का महत्व कितना है इस बात अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि इसे बौद्ध एवं जैन धर्म में भी इसे पवित्र माना जाता है। काशी नरेश (काशी के महाराजा) वाराणसी शहर के मुख्य सांस्कृतिक संरक्षक एवं सभी धार्मिक क्रिया-कलापों के अभिन्न अंग हैं।

Pre-Wedding Photo Shoot : बनारसियों को भी लग रहा प्री वेडिंग शूट का चस्का

सांस्कृतिक धरोहर से आधुनिकता तक

वाराणसी की संस्कृति का गंगा नदी एवं इसके धार्मिक महत्त्व से अटूट रिश्ता है। ये शहर वर्षों से भारत का, विशेषकर उत्तर भारत का सांस्कृतिक एवं धार्मिक केन्द्र रहा है।हिन्दुस्तानी शास्त्रीय संगीत का घराना है बनारस, वाराणसी में ही जन्मा एवं विकसित हुआ है लेकिन आज आधुनिकता के दौर में बनारस वासी भी आधुनिकता से कदम से कदम मिलाते हुए चल रहे हैं और इसी कड़ी में वह शादियों के दौर में भी पीछे नहीं है।

बनारसी बाबू हो रहे अपग्रेड

शादी में होने वाली पारंपरिक विधियां अब थीम बेस्ड शादियों में तबदील होती जा रही है। जहां पहले दूल्हा-दुल्हन एक दूसरे से बाते तक नहीं कर पाते थे अब वह बदल कर प्री वेडिंग शूट में बदल चुकी है। बनारस में भी यह सिलसिला शुरू हो चुका है, जिसकी शुरूआत लगभग पांच पहले शुरु हुई थी। पहले पहल यह उच्च वर्ग के लोगों तक सीमित था लेकिन अब यह मध्यवर्ग में भी अपनी पहुंच बना चुका है।

यह भी पढ़ें : अचानक से शादी में होने लगे बारिश तो समझ जाएं भगवान दे रहे हैं ये संकेत

Pre-Wedding Photo Shoot : बनारसियों को भी लग रहा प्री वेडिंग शूट का चस्का

बढ़ रहा कॉम्पिटशन

शहर में करीब एक दर्जन से भी ज्यादा ऐसी एंजेसी है जो प्री वेडिंग शूट में शुरुआती दिनों से लगी है। इनके संचालक ने बताया कि बीते पांच वर्षों की तुलना में इस बार प्री-वेडिंग शूट की सर्वाधिक बुंकिग हुई है। पिछेल साल तक जिनके पास तीन से चार बुंकिग थी इस बार आठ बुंकिग आई है। डिजिटल होने से फोटोग्राफी आसान हो गई तो कॉम्पिटशन भी बढ़ गया है।

25 हजार से 1.5 लाख में प्री वेडिंग शूट

बाजार में 25 हजार में भी प्री-वेडिंग शूट हो रहा है लेकिन क्वालिटी वर्क पसंद करने वालों के लिए इसकी शुरूआत 60 हजार से लेकर 1.5 लाख तक है। बनारस में प्री-वेडिंग शूट के लिए गंगा के घाट, उस पार की रेत, रामनगर किला, सारनाथ, चुनार का किला, राजदरी, देवदरी, लखनिया दरी, चूना दरी, मिर्जापुर और सोनभद्र की पहाड़िया पसंदादी स्पॉटों में शामिल हैं।

From around the web