महंगी सर्जरी से नहीं इन घरेलू नुस्खों से हटाएं मस्से

हम सभी त्वचा की खामियों से जीवनभर जूझते रहते हैं। ये हार्मोनल असंतुलन, खराब आहार, अस्वास्थ्यकर जीवनशैली और बहुत अधिक सूर्य की किरणों में रहने के कारण होने वाली हमारे शरीर की प्राकृतिक प्रतिक्रिया हैं। यह एक सामान्य बात है कि आप इन दोषों से छुटकारा पाना चाहते हैं, लेकिन चिकित्सक से इलाज और गैर-ज़रूरी दवाओं का उपयोग आपके लिए महंगा हो सकता है। इन परेशानियों से खुद को मुक्त करने का सबसे अच्छा तरीका है खुद को शिक्षित करना। ऐसे बहुत से तरीके हैं जिनके द्वारा आप घर पर ही त्वचा से जुड़ी कई सारी समस्याओं से निजात पा सकेंगे।

वार्ट्स क्या हैं?

वार्ट्स मानव पैपिलोमा वायरस (एचपीवी) के कारण होने वाली हानिरहित त्वचा की वृद्धि है। हमारे शरीर में 100 से अधिक प्रकार के एचपीवी वायरस मौजूद हैं। यू.एस. नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिनट्रस्टेड सोर्स के अनुसार पैपिलोमा वायरस के कारण से चेहरे, जननांगों और हाथों पर मस्से के रूप में बढ़ी हुई त्वचा दिखाई देती हैं वही वार्ट्स या मस्सा कहलाते हैं। त्वचा की इस समस्या से छुटकारा पाने का एकमात्र रास्ता महंगी और दर्दनाक सर्जरी नहीं है बल्कि अगर आप चाहें तो इन्हें हटाने के लिए कुछ घरेलू नुस्खे अपना सकते हैं।

वार्ट्स के लिए क्या हैं प्राकृतिक उपाय:

बेकिंग पाउडर:

पेस्ट बनाने के लिए पर्याप्त बेकिंग सोडा के साथ एक चम्मच सफेद सिरका मिलाएं। इस पेस्ट को वार्ट के नष्ट होने तक प्रभावित भाग पर दिन में दो बार लगाएँ। बेकिंग सोडा के एंटीसेप्टिक और एंटीफ्लेमेटरी गुण वार्ट पैदा करने वाले वायरस को नष्ट करने में मदद करेंगे।

एप्पल साइडर विनेगर:

एप्पल साइडर विनेगर एक लोकप्रिय वार्ट उपचार है। वार्ट को ठीक करने के लिए एप्पल साइडर विनेगर में कॉटन बॉल को भिगो दीजिये और बिस्तर पर जाने से पहले हर रात त्वचा पर लगाइये। वार्ट पर पट्टी के साथ बांधे और इसे पांच दिन तक दोहराएं, पांचवे दिन वार्ट अपने आप निकल जाएगा।

एलोवेरा :

हर दिन में दो बार, एलोवेरा जेल को वार्ट के ऊपर लगाएं। इसे आप सीधे पौधे से निकालकर इस्तेमाल कर सकती हैं या फिर आप बाजार से भी इसे खरीद सकती हैं। आप एक पट्टी के साथ एलोवेरा जेल को वार्ट के ऊपर लगाकर रखें और एलोवेरा में मौजूद एंटी फ्लैमटोरी तत्त्व इसे पूरी तरह से नष्ट कर देते हैं । दो सप्ताह तक एलोवेरा जेल के इस्तेमाल से वार्ट छोटा होना चाहिए या पूरी तरह से गायब हो जाना चाहिए।

केले की छिलके:

मिल्कवीड सैप की तरह, केले के छिलके में पाए जाने वाले एंजाइम भी वार्ट्स को गायब करने में मदद कर सकते हैं। दिन में दो बार, केले के छिलके के अंदर से सफेद गूदे को खुरचें और इसे वार्ट पर लगाएं। वार्ट के गायब होने तक ऐसा करते रहें।

Share this on