ऑनलाइन करा रहे हैं टू व्हीलर इन्श्योरेंस का प्रीमियम तो इन बातों का रखें विशेष ध्यान

आज देखा जाए तो हम सभी के पास समय का इतना ज्यादा अभाव हो गया की हर काम हम चाहते है की जैसे बोले नही की हो जाए और आज तेज़ी से हर किसी पर हावी हो चुका INTERNET हमारे इस काम में हमारी काफी मदद करता है। आज देखा जाए तो हम अपना सभी काम ऑनलाइन ही कर लेते है, खाने मनगने से लेकर बिल जमा करने तक और यहाँ तक की ऑनलाइन टू-व्हीलर इन्श्योरेंस का प्रीमियम भी आसानी से ले सकते हैं।

Two Wheeler Insurance

मगर यहाँ ध्यान देने वाली बात ये है की कई बार ऑनलाइन इन्श्योरेंस करना हमारे लिए महँगा पद जाता है, कैसे वो आज हम आपको यहाँ कुछ जानकारी देने के साथ ही समझा भी रहे हैं। तो बेहतर होगा की क्जब भी कभी ऑनलाइन इंश्योरेंस लेने जा रहे हों तो इन बातों पर जरूर गौर करें और अपने टू व्हीलर के लिए सही  इन्श्योरेंस प्लान चुनें।

किस जगह पर आप रहते हैं

बताया जाता है कि भारतीय शहरों को प्रीमियम गणना के लिए दो ज़ोन में बांटा गया है। जोन ए में अहमदाबाद, दिल्ली, चेन्नई, हैदराबाद, कोलकाता, पुणे, मुंबई और बंगलुरू शामिल है और जॉन बी में बाकी के शहर आते हैं। नियम के अनुसार जोन ए के शहरों में जोन बी की तुलना में इंश्योरेंस प्रीमियम थोड़ा ज्यादा होता है। ऐसा इसलिए क्योंकि अधिक जनसंख्या का मतलब अधिक वाहन, मतलब अधिक जोखिम जिसकी वजह से प्रीमियम थोड़ा ज्यादा भरना होता है।

कौन सी बाइक का करा रहे हैं इंश्योरेंस

यह सबसे ज्यादा जरूरी है की आपकी बाइक या स्कूटर के मेक, मॉडल, विशेषताएं और सहायक उपकरण आपके प्रीमियम की राशि पर असर डालती हैं। आपके बाइक का मॉडल, कितने सीसी का इंजन और सहायक उपकरणों आदि के आधार पर आपकी प्रीमियम राशि अलग हो जाता है, ऐसे में आपके टू-व्हीलर का जितना उच्च वेरियंट होगा उतना ही अधिक प्रीमियम होगा।

Two Wheeler Insurance

आपके लिए जरूरी ऐड ऑन कवर्स क्या हैं

आपकी जानकारी के लिए बताते चलें की आपका प्रीमियम प्रत्येक ऐड-ऑन कवर के साथ बढ़ जाता है, मगर आपके द्वारा जोड़े गए प्रत्येक ऐड-ऑन के साथ आपका जोखिम भी काफी हद तक कम होता जाएगा। जिसका सीधा सा मतलब है की जितना बड़ा कवर होगा उतना ज्यादा प्रीमियम भी होगा और साथ ही साथ जोखिम भी कम होगा।

( हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
Share this on