आज का दिन है सूर्य ग्रहण के समान प्रभावकारी, देगा अनंत गुणा फल

आज रविवार के दिन मार्गशीर्ष शुक्ल सप्तमी के उपलक्ष में भानु सप्तमी पर्व मनाया जा रहा है। आज के दिन सप्तमी तिथि के संयोग से भानु सप्तमी नामक विशेष पर्व का सृजन हुआ है। सनातन संस्कृति व पौराणिक ग्रंथों के अनुसार भानु सप्तमी को सबसे ज्यादा शुभ माना गया है। इस दिन सूर्यदेव के व्रत, उपासना और उपाय करने से विशेष फल मिलता है। मान्यता है कि भानु सप्तमी सूर्य-ग्रहण के समान ही प्रभावकारी होता है, जिसमें जाप, दान, व्रत और उपाय करने से सूर्य ग्रहण की तरह ही विशेष फल मिलता है।

आज के दिन सूर्यदेव की पूजा और अर्चना से मनुष्य को रोगों से छुटकारा मिलता है। आज के दिन विशेषकर तांबे के लोटे में जल, रोली, अक्षत, इत्र, गुड़, व शहद डालने के बाद सूर्य देव को तीन बार अर्घ्य देना चाहिए और साथ ही सात लाल फल चढ़ाकर उन फलों का दान करना चाहिए। यह करने से आँखों की रोशनी, व्यक्ति का तेज, प्रतिष्ठा, विद्या, वैभव बढता है। आज के दिन विशेष पूजन, व्रत व उपाय करने से दरिद्रता दूर हो जाती है साथ ही दुःखो से मुक्ति और सौभाग्य की प्राप्ति होती है।

यह भी पढ़ें : आइए जानते हैं शनि देव को प्रसन्न करने के सरल और अचूक उपाय

आज के दिन विशेष पूजन की विधि

पूजन करने का मुहूर्त प्रातः 08:30 से प्रातः 09:30 तक का है। सूर्यदेव का विधिवत पूजन करने के लिए तेल के दीपक में सिंदूर मिलाकर दीप, अग्गर की धूप करें, लाल चंदन, लाल फूल और सेव का फलाहार और बेसन के लड्डू का भोग चढ़ाए। रुद्राक्ष की माला से ‘ॐ श्रीं हिरण्यगर्भाय नमः’ इस विशेष मंत्र का 1 माला जाप करें तथा पूजा करने के बाद फलाहार व भोग गरीबों में बांटे।

 आज के दिन करें ये विशेष उपाय

यदि आप दुःख से घिरे हुए है और हर प्रकार की दुःखों से मुक्ति होना चाहते है तो आज के दिन आप सूर्यदेव को निमित तांबे के दिए में गौघृत का दीप करें। यदि आप सूर्यदेव से अपने सौभाग्य के लिए कामना करना चाहते है तो आज के दिन आप सूर्यदेव पर अशोक के पत्ते चढ़ाकर अशोक के 7 पत्ते घर के मेन गेट पर बांधे दे। यदि आप धन वैभव घर में लाना और दरिद्रता से मुक्ति पाना चाहते है तो आज के दिन सूर्यदेव को खजूर चढ़ाए और इन चढ़े 7 खजूर को किसी ब्रह्मण को दान करें।

Share this on

Leave a Reply