21 वीं सदी का सबसे लंबा चंद्रग्रहण, प्रकोप से बचने के लिए करें ये 4 उपाय

इस बार 27 जुलाई की रात खग्रास चंद्रग्रहण होगा, चंद्रग्रहण उस खगोलीय स्थिति को कहते है| जब पृथ्वी, सूर्य और चंद्रमा के बीच आ जाती है तब वह चंद्रमा पर पड़ने वाली सूर्य की किरणों को रोकती है और उसमें अपनी छाया बनाती है| इस ज्यामितीय प्रतिबंध के कारण चंद्रग्रहण केवल पूर्णिमा के दिन ही घटित हो सकता है। इस चंद्रग्रहण को भारत देश के अलावा अन्य देशो में भी देखा जा सकता हैं तथा इस दिन प्राकृतिक आपदा आने की आशंका हैं| हमारे हिन्दू धर्म में चंद्रग्रहण को शुभ नहीं माना जाता हैं| इस चंद्रग्रहण को ब्लड मून कहा जा रहा हैं| आप चंद्रग्रहण के प्रभाव से बचने के लिए निम्न बातों का ध्यान रखें।

यह भी पढ़ें : घर के आटे में चुपचाप डाल दे ये चीजे, पैसो की होगी ऐसी बारिश कि आप संभाल नहीं पाएंगे

इस दिन मोबाइल इत्यादि का उपयोग ना करे, चंद्रग्रहण के दिन उपवास करना चाहिए| चंद्रग्रहण के वक़्त भोजन ना करे| मान्यता हैं की चंद्रग्रहण के समय जो भी भोजन करता हैं वो सबसे पापी बनता हैं| चंद्रग्रहण लगने से 9 घंटे पूर्व आपको भोजन नहीं करना चाहिए| इसके अलावा बच्चे, बूढ़े और रोगी साढ़े चार घंटे पूर्व भोजन कर सकते हैं| जब सूतक लगने वाला हो तो अपने घर के खाने, पुजा स्थल, आलमारियाँ इत्यादि जगहों पर तुलसी और कुश के पत्ते डाल दे| इससे आपकी चीजें दूषित नहीं होती हैं|

जब ग्रहण पूर्ण हो जाए तब उन पत्तों को उठाकर फेंक दे| इस दिन सरोवर या नदी में स्नान करना शुभ होता हैं| इस दिन पत्ते, फूल इत्यादि नहीं तोड़ना चाहिए| चंद्रग्रहण के दिन इष्ट मंत्र, गुरु मंत्र या भगवत मंत्र का जाप जरूर करें| ग्रहण के समय किसी अन्य व्यक्ति का अन्य ग्रहण ना करें वरना 12 वर्षो का पुण्य नष्ट हो जाता हैं| चंद्रग्रहण और सूर्यग्रहण जब लगे तब उस समय पृथ्वी को नहीं खोदना चाहिए| चंद्रग्रहण के समय महिलाओं को घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए।

चंद्रग्रहण के समय गर्भवती महिलाओं को खास ध्यान रखना चाहिए क्योंकि इसका प्रभाव उनके शिशु पर पड़ सकता हैं| गर्भवती महिलाओं को ‘ॐ क्षीरपुत्राय विह्माहे अमृत तत्वाय धीमहि तन्नो चंद्र प्रचोदयात’ मंत्र का जाप करना चाहिए| इससे उनके शिशु और उनपर चंद्रग्रहण का प्रभाव नहीं पड़ता हैं यदि पड़ता हैं तो कम पड़ता हैं| इस दिन कैंची का प्रयोग नहीं करना चाहिए| इसके अलावा गर्भवती महिलाओं को इस दिन नहीं सोना चाहिए।

( हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )

Share this on