ये हैं वो 8 फिल्में जिन्‍हें आप अकेले में ही देख सकते हैं, बच्चों के साथ देखा तो हो जाएगी मुसीबत

1 views

बदलती हुई दुनिया में जहाँ सब कुछ परिवर्तित और स्मार्ट हो रहा वहीँ दूसरी ओर आज के बच्चे पहले से ज्यादा स्मार्ट होते जा रहे है। बच्चे वैसे तो बड़े मासूम और प्यारे होते है जिन्हें जैसी परवरिश दी जाए वो वैसे ही बड़े होकर बनते है। बच्चो को अक्सर अच्छी बातो से ज्यादा गलत बाते अपनी ओर ज्यादा आकर्षित करती है जो इनका ध्यान भटका देती है। बच्चे अपने आस पास के माहौल के अनुसार ही सोचते  है। बच्चो जो देखते है वहीँ सीखते है ऐसा कहना गलत तो नही ही होगा।

आस-पास के माहौल के अलावा एक ओर चीज है जो बच्चो पर काफी असर डालती है। जो अब लगभग सभी घरों में है वो है टीवी। टीवी देखना बच्चो को बहुत अच्छा लगता है जिससे वह काफी कुछ सीखते है और अपने मनपसंदीदा किरदार का नकल भी उतारते है। बच्चे अक्सर सिंघम’ या राउडी राठौर जैसी फिल्मो से प्रभावित हो कर उस फिल्म की नकल उतारने लगते है जिसमे बच्चे काफी प्यारे लगते है। लेकिन कई फिल्मे ऐसी भी है जो बच्चो के सामने नही देखनी चाहिए।

देखा जाए तो फिल्मों को सेंसर बोर्ड ‘A’, ‘U/A’ या ‘U’ सर्टिफिकेट देता है। लेकिन कभी कभी टीवी पर ‘A’ सर्टिफिकेट वाली फिल्में आ जाती हैं जो बच्चों को नहीं देखना चाहिए। इन फिल्मों से बच्चो पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है। तो आज हम आपको ऐसी ही कुछ फिल्मों के बारे में बताने जा रहे हो जो आप बच्चों के सामने ना ही देखें तो अच्छा होंगा-

इश्कजादे

पहली फिल्म है इश्कजादे वैसे तो ये फिल्म एक लव स्टोरी पर आधारित है जो आपके दिल को छू लेगी लेकिन आज-कल के बच्चे इतने स्मार्ट है कि छोटी सी उम्र में ही रिलेशनशिप का मतलब समझ जाते है और किसी से प्यार भी करने लगते हैं। ये फिल्म आपके बच्चों को गलत रास्ते पर ले जा सकती है।

बदलापुर

अब बात करते है दूसरी फिल्म कि जिसका नाम बदलापुर है। इस फिल्म में कई पात्र ऐसे है जो आम लोगों के जिंदगी से जुड़े है और साथ ही वरुण धवन का अभिनय भी इस फिल्म में कमाल का है लेकिन ये फिल्म बच्चों के सामने बिल्कुल भी देखने लायक नहीं है।

बंटी और बबली

बंटी और बबली फिल्म में काफी लोगो का दिल जीता और यह एक कॉमेडी फिल्म भी है लेकिन ये फिल्म बच्चों को गलत रास्ते पर ले जा सकती है। इस फिल्म में   चोरी की ट्रिक्स को बच्चे भी आजमा सकते हैं।

तेरे संग

तेरे संग फिल्म में एक लड़की प्रेग्नेंट हो जाती है। देखा जाए तो यह फिल्म बच्चों के देखने के लायक है लेकिन हमारे आस पास के लोग अब तक इतने एडवांस नहीं है। इस फिल्म को देखने के बाद हो सकता है बच्चे भी यह सोचे कि आखिर में सबकुछ ठीक हो जाएगा और ऐसा कोई कदम उठा ले।

डेल्ही बेली

इस फिल्म को बच्चो के सामने तो कभी भी नहीं देखना चाहिए क्योकि यह फिल्म पूरी गलियों से भरी हुए है। यहाँ तक की इस फिल्म का गाना भाग डी के बॉस भी बच्चों को नहीं सुनना चाहिए।

बी.ए. पास

यह फिल्म नाम से तो काफी अच्छी लगती है लेकिन इस फिल्म को देखने के बाद दिमाग में कचरे ही भरते है और कुछ नही मिलता है। यह फिल्म आप अपने बच्चों के सामने कतई न देखें।

देव डी

इस  को आप आप अकेले ही देखे तो अच्छा होगा। इस फिल्म  में जो दिखाया गया है वो एक ऐसी दुनिया है जो बच्चो से दूर ही रखना बहेतर है। इस फिल्म को बच्चो के सामने नही देखना चाहिए।

गैंग्स ऑफ वासेपुर

यह फिल्म काफी दर्शको का दिल जीती है। यह हो सकता है कि ‘गैंग्स ऑफ वासेपुर’ आपकी चुनिन्दा फिल्मों में से एक हो लेकिन यह फिल्म आपको अपने पत्नी और बच्चों के साथ नही देखना चाहिए।  क्योकि आप अपने बच्चे को फैजल की तरह कभी नही देख सकते है।

Share this on

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *