शनिवार के दिन जरूर करें इस पौधे की पूजा, खत्म हो जाएगा शनिदेव का प्रकोप

हिन्दू संस्कृति में पेड़-पौधे लगाना और इसकी हिफाजत करना हमारी गौरवशाली परंपरा का हिस्सा रहा है. कुछ पेड़ धार्मिक नजरिए से भी बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। शमी का वृक्ष भी ऐसे ही वृक्षों में शामिल है जिसकी  मान्यता है कि घर में शमी का पेड़ लगाने से देवी-देवताओं की कृपा प्राप्त होती है और घर में सुख-समृद्ध‍ि आती है साथ ही यह वृक्ष शनि के कोप से भी बचाता है।

नवग्रहों में शनि महाराज को न्यायाधीश का स्थान प्राप्त है, और धर्म शास्त्रों में शनि के प्रकोप को कम करने के लिए कई उपाय बताएं गए हैं। लेकिन इन सभी उपायों में से प्रमुख उपाय है शमी के पेड़ की पूजा। घर में शमी का पौधा लगाकर पूजा करने से आपके कामों में आने वाली रुकावट दूर होगी। साथ ही शमी के पेड़ की पूजा करने से घर में शनि का प्रकोप भी कम होता है।

यह भी पढ़े : क्या आपको पता है मोरपंख में होता है नवग्रहों का वास, जानें ये 9 उपाय

शमी के पौधे को घर के मुख्य दरवाजे के बायीं तरफ लगाना चाहि  जिससे घर के अंदर नकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश रुक जाता है और सुख समृधि का वातावरण बनता है। शमी के पौधे में नियमित रूप से  सरसों के तेल का दीपक जलाना चाहिए इससे अगर आपकी कुंडली में शनि दोष चल रहा है तो ये दूर हो जायेगा।

अगर आपके घर में काफी परेशानियाँ चल रही हो तो शमी के पौधे  में नियमीत पानी देना चाहिए इससे को शनिदोष का असर कम होता है और परेशानियां भी धीरे-धीरे दूर होने लगती है। यदि आप कही दूर यात्रा पे जा रहे है या कोई  शुभ काम करने जा रहे हैं तो अपने साथ शमी के पौधे की पत्ती को तोड़कर अपने पास रख ले जिससे आपको आपके काम में निश्चित सफलता मिलनी  है।

ऐसा देखा गया है की शमी के पौधे के काटों का प्रयोग तन्त्र मन्त्र बाधा और नकारात्मक शक्तियों के नाश के लिए किया जाता है।

Share this on

Leave a Reply