Sunday, November 19News That Matters

Tag: reyan international school

प्रद्युम्‍न हत्‍याकांड के आरोपी ने बताया कि आखिर कैसे की थी उसने प्रद्युम्न की हत्या, दोनों साथ सीखते थे पियानो

प्रद्युम्‍न हत्‍याकांड के आरोपी ने बताया कि आखिर कैसे की थी उसने प्रद्युम्न की हत्या, दोनों साथ सीखते थे पियानो

News
रेयान इंटरनेशनल स्कूल में प्रद्युम्न के मर्डर केस में सीबीआई पूछताछ में आरोपी ने जुवेनाइल जस्टिस को कई हैरान करने वाली बात बताई। गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में हुई प्रद्युम्न ठाकुर की हत्या में सीबीआई के द्वारा आरोपी जुवेनाइल ने सारी घटना क्रम का खुलासा किया आरोपी ने बताया कि कैसे उसने प्रद्युम्न को अपने साथ ले जाकर कर उसकी हत्या की? और उसके कपड़ो पर खून के निशान क्यों नही लगे। आरोपी ने बताया कैैैैसे की प्रद्युम्न की हत्‍या जस्टिस बोर्ड के सामने आरोपी ने बताया कि प्रद्युम्न और आरोपी जुवेनाइल दोनों स्कूल में एक साथ पियानो सीखते थे जहाँ दोनों की जान पहचान हुई जिसके के कारण प्रद्युम्न आरोपी के साथ बाथरूम तक चला गया था। जिस दिन ये घटना घटी उस दिन आरोपी स्कूल पहुंचा और अपना बैग क्लास में रखकर चाकू जेब में लेकर ग्राउंड फ्लोर पर आ गया। जो उसने सोहना के बाजार से खरीदा था। उसने यह भी ब
प्रद्युमन ने अपनी हत्या से पहले मां को लिखी थी आखिरी चिट्ठी, जिसे पढ़कर भर आएंगी आखें

प्रद्युमन ने अपनी हत्या से पहले मां को लिखी थी आखिरी चिट्ठी, जिसे पढ़कर भर आएंगी आखें

News, Trending
गुडगाँव के विख्यात रेयान इंटरनेशनल स्कूल में घाटी हृदय विदारक घटना के बाद जो हाल उस मासूम बच्चे की माँ का है वह बड़ा ही दर्दनाक है, सेकंड स्टैंडर्ड में पढ़ने वाले बच्चे के साथ भी ऐसी जघन्य घटना घाट सकती है इसका किसी ने भी अंदाज़ा नही लगाया था। आपको बता दे इस दर्दनाक घटना के बाद से सुमचा देश गम में डूबा है और हर माता-पिता अब अपने बच्चे के स्कूल की की हर रिपोर्ट रख रहे है। हालांकि प्रदुयम्र की हत्या के बाद आरोपी कंडक्टर पुलिस की गिरफ्त में आ चुका है लेकिन फिर अभी उसके माता पिता सीबीआई जांच की मांग कर रहे हैं, जिस बेदर्दी से उसकी स्कूल में हत्या की गई है उससे हर कोई हैरान है। बता दे की इस घटना के बाद मासूम प्रद्युम्न की एक चिट्ठी सामने आ रही है जो उसने करीब एक साल पहले अपनी मां को लिखी थी।सात साल का प्रद्युम्न मां के हर अहसास को अपनी हर सांस के साथ समझता था तभी तो उसने अपने हाथों से अपनी