Sunday, November 19News That Matters

Tag: healthtips

बस एक चम्मच आजमा लें ये जादुई नुस्खा, ज़िन्दगी भर के लिए हट जाएगा आँखों से चश्मा

बस एक चम्मच आजमा लें ये जादुई नुस्खा, ज़िन्दगी भर के लिए हट जाएगा आँखों से चश्मा

Health & Fitness
आँखे हमारे शरीर का एक अहम हिस्सा हैं, आँखों के बिना हम किसी भी कार्य को नही कर सकते। आँखों के माध्यम से हम इस दुनिया को देख सकते हैं अलग-अलग प्रकार के रंगों को पहचान सकते हैं। इसलिए आँखों का खास ख्याल रखना बहुत ही जरुरी होता है। लेकिन आज कल के लाइफस्टाइल की वजह से कम उम्र के बच्चे जो ठीक से बोल भी नहीं पाते उनकी आँखों में चश्मा लग जाता है इसलिए माता पिता मजबूर होके बच्चो को चश्मा लगवा देते है और उम्र के साथ चश्मा लगना तो स्वाभाविक है इसलिए कई लोग तो इसको मज़बूरी समझकर अपना जीवन जीते है। मगर दोस्तों ऐसा नहीं है की अगर आपको एक बार में चश्मा लग जाये तो आप इसको उतार नहीं सकते। इसी चश्मे के कारण आपके जीवन में मुश्किल बढ़ सकती है, आज हम आपको बताएँगे  की आँखों  का चश्मा कैसे निकाले या आँखों पर चश्मा लगने से कैसे बचाया जाये खुदको और आँखों की नजर कैसे बढाया जाये। आँखों की रौशनी बढाने के लिए आप
टूथपेस्ट ट्यूब पर बने अलग अलग रंगों का जानें क्‍या है मतलब

टूथपेस्ट ट्यूब पर बने अलग अलग रंगों का जानें क्‍या है मतलब

Health & Fitness, Interesting
हमारे शरीर में सारे अंग महत्वपूर्ण है और सभी का अलग अलग कार्य होता है हमारे शरीर को चलाने के लिए जरुरी होता है। आहार जो शारीर को शक्ति प्रदान करता है, आहार को ग्रहण करने के लिए एक अहम रोल होता है हमारे दांतों का। हम सभी सुबह उठते ही टूथब्रश पर टूथपेस्ट लेकर दांतों की सफाई करते है, जिसे हमारे दांत स्वस्थ रहे लेकिन क्या आपको पता है कुछ टूथपेस्ट हमारी दांतों को बहुत नुकसान पहुचाते है। दांतों का पिला पड़ना, दर्द होना, कीड़े पड़ना इसका कारण आपका टूथपेस्ट हो सकता है, क्या आप ने कभी ध्यान दिया है। कभी कि आप जो टूथपेस्ट यूज़ कर रहे है, वो केमिकलो से मिलकर बना हुआ है या नेचुरल है या फिर दोनों का मिश्रण शायद आपको मालूम न हो आइये हम आपको बताते है। जिससे आप अपने टूथपेस्ट को पहचान सकेंगे की आपका टूथपेस्ट केमिकल से बना है या नेचुरल या फिर दोनों का मिक्सचर है। सारे टूथपेस्टो पर एक ऐसा मार्क बना होत
जानें, ग्रीन-टी से जुड़े वो 7 झूठ जिन्‍हें आजतक सच मानते आ रहे थें आप

जानें, ग्रीन-टी से जुड़े वो 7 झूठ जिन्‍हें आजतक सच मानते आ रहे थें आप

Health & Fitness
ग्रीन टी के बारे में तो हम सभी जानते है और यह भी सुनते आ रहे है कि ग्रीन टी पिने के ढेरो फायदे है आज कल ग्रीन टी पीना तो क्रेज बन गया है क्योकि ग्रीन टी को फ़िल्मी दुनिया से जोड़ा जाता है। अक्सर कई बॉलीवुड के स्टार ने अपनी स्लिम बॉडी और फिटनेस का राज ग्रीन टी को बताया है जिसके कारण ग्रीन टी काफी प्रचलित हो चूका है। ग्रीन टी अक्सर लोग इसलिए पीते है कि ये बहुत फायदेमंद होने के साथ साथ वजन भी घटाता है कुछ ऐसे ही बहुत से कथन है जो ग्रीन टी के बारे में कहा जाता है लेकिन आज हम आपको उनमे से ही कुछ ऐसे झूठ बतायेगे जो ग्रीन टी जुड़े हुए है, जिन्हें हम अब तक सच मानते है आ रहे है :- 1- जितना ग्रीन टी पियो उतना अच्छा यह भी पढ़ें: चाहें कितना भी पुराना हो घुटने, कंधे, कमर, हाथ व कलाई दर्द सबका एक यही है रामबाण नुस्‍खा ग्रीन टी को लेकर अक्सर ऐसा कहाँ जाता है कि ग्रीन टी का सेवन करने से वजन कम ह
हार्ट अटैक आने पर पास में न हो कोई तो 10 सेकंड में खुद बचा सकते हैं अपनी जिंदगी

हार्ट अटैक आने पर पास में न हो कोई तो 10 सेकंड में खुद बचा सकते हैं अपनी जिंदगी

Health & Fitness
अगर आपको भी ऐसा लगता है कि दिल का दौरा तो अचानक ही कभी भी और कहीं भी पड़ सकता है तो आपको यह पढ़ने की जरूरत है। दुनिया में ज्यादातर लोगों की मौत की वजह हार्ट अटैक होती है। कुछ मरीजों को तो हार्ट अटैक के बारे में पता ही नहीं चलता लेकिन अगर थोड़ी इहितयात बरती जाएं तो इससे होने वाली मौतों से बचा जा सकता है। हार्ट अटैक के बाद कुछ ऐसी गलतियां है जो कि भूलकर भी हमें कतई नही करनी चाहिए। तो आइए आज हम आपकों कुछ ऐसी बाते बता रहे है जो कि हार्ट अटैक के मरीज को ध्यान में रखना बहुत आवश्यक होता है।                       आपको बता दे जब ह्रदय की मांसपेशियों को रक्त के साथ ऑक्सीजन पहुँचानेवाली कोई भी नस यदि किसी कारण से ब्लॉक हो जाती है जिसकी वजह से ह्रदय के किसी हिस्से में रक्त का संचार रुक जाता है तब दिल का दौरा