Monday, December 18

Tag: google

‘गूगल फॉर इंडिया’ इवेंट के दौरान गूगल ने भारत में लॉंच किया ऑल इन वन “गो ऐप”

‘गूगल फॉर इंडिया’ इवेंट के दौरान गूगल ने भारत में लॉंच किया ऑल इन वन “गो ऐप”

Business
हम सभी स्मार्टफोन यूज़ करते है और यह तो हर कोई जनता है की कोई भी स्मार्टफोन गूगल के बिना अधुरा है। जैसा की हम जानते है कि गूगल एक सर्च इंजन है और गूगल के कई एप्लीकेशन भी आते है जो हम अपने स्मार्टफोन में इस्तेमाल करते है। गूगल के कई एप्लीकेशन डाउनलोड करके हम अपने फोन को कई नए फीचर से अटैच करते है। एक तरफ जहाँ हम गूगल के इतने सारे ऐप यूज़ करते है वहीँ गूगल ने हाल ही में दिल्ली में आयोजित 'गूगल फॉर इंडिया' इवेंट में यह अनाउंसमेंट किया है कि गूगल ने अब कम रैम और कम कीमत वाले स्मार्टफोन के लिए ऑल इन वन यानी की 'गो ऐप' लॉन्च किया है। गूगल ने यह ऐप आम लोगो को ध्यान में रखते हुए लॉंच किया है। बताना चाहेंगे की यह ऐप खासकर उन लोगो के लिए है जो कम कीमत के स्मार्टफोन यूज करते है। इस ऐप के जरिए वो लोग भी गूगल के कई ऐप का इस्तेमाल सिर्फ एक ही ऐप के द्वारा कर पाएंगे। बता दे की "गो ऐप" के जरिये यूजर्
जानेें, गूगल, याहू जैसी दिग्गज कंपनियों के पुराने नाम सुनकर आपको भी लगेंगे अटपटे

जानेें, गूगल, याहू जैसी दिग्गज कंपनियों के पुराने नाम सुनकर आपको भी लगेंगे अटपटे

Interesting, News
टेक्नोलॉजी की इस दुनिया में हर रोज कुछ ना कुछ नए डेवलपमेंट होते है उसमे से कुछ तो सक्सेस फुल हो जाते है तो कुछ फेल हो जाते है और जो सक्सेसफुल होते है उन्ही के नाम का सिक्का चलता है और वो लोगो के बीच अपनी जगह बना पाती है| हमारे भारत में ऐसी कई सारी दिग्गज कम्पनियाँ है जो अपने कई सालों की मेहनत और शानदार प्रदर्शन के बाद अपनी खुद एक पहचान बना चुकी है और उनकी पहचान अब सिर्फ यंके नमो से ही हो जाती है| लेकिन आपको शायद ये जान कर हैरानी हो की जिन कंपनियों को आज हम जिस नाम से जानते है उनका नाम डेवलोप्मेंट  के समय कुछ और ही था और आज वो अपने नए नाम के साथ अपनी नयी पहचान बना चुकी है|आज हम आपको ऐसी ही टेक्नोलॉजी सेक्टर की दिग्गज कंपनियों के पुराने नाम बताएँगे| Google इस समय टेक्नोलॉजी की रेस में अगर कोई कंपनी सबसे आगे है तो वो है गूगल|आज अगर हमे इंटरनेट में कुछ भी सर्च करना होता है तो सबसे पहले हम
जानें आखिर क्‍या है ये ऐप, क्‍यों हो रहा है इतनी तेजी से वायरल

जानें आखिर क्‍या है ये ऐप, क्‍यों हो रहा है इतनी तेजी से वायरल

Interesting
सोशल मीडिया की दुनिया में अपने दोस्तों, करीबियों और जानने वालों को संदेश भेजने के लिए आपने कई चैटिंग ऐप आजमाए होंगे। फेसबुक मैसेंजर, व्हाट्सऐप, इंस्टाग्राम, स्नैपचैट और टेलीग्राम इनमें से प्रमुख हैं जो आम लोगों के बीच काफी लोकप्रिय हैं, लेकिन सऊदी अरब में बना मोबाइल ऐप 'सराहा' ने बाजार में आते ही एक नया कीर्तिमान स्थापित किया है। इस ऐप को अबतक 30 करोड़ से ज्यादा यूजर्स डाउनलोड कर चुके हैं। इस ऐप की खासियत है कि इससे मैसेज भेजने पर पहचान उजागर नहीं होती और न ही इस ऐप से आए मैसेज का रिप्लाई दिया जा सकता है। इस ऐप का हिट होने की सबसे बड़ी वजह भी यही है। Sarahah ऐप का इस्तेमाल करने के लिए सबसे पहले इसे गूगल प्ले स्टोर से जाकर डाउनलोड कर लें। ऐप इंस्टॉल करने के बाद आपको इसपर रजिस्टर करना होगा। आप ईमेल आईडी, नाम, यूजरनेम और पासवर्ड डालकर रजिस्टर कर सकते हैं। इस ऐप को इस्तेमाल करना बेहद आसान ह
गूगल ग्लास की देखा देखी माइक्रोसॉफ्ट ने तैयार किया अपना खास ‘AR चश्मा’

गूगल ग्लास की देखा देखी माइक्रोसॉफ्ट ने तैयार किया अपना खास ‘AR चश्मा’

Business
माइक्रोसॉफ्ट के संवर्धित वास्तविकता प्रयासों का वर्तमान में, "होलो लेंस" नेतृत्व कर रहें हैं। लेकिन अब माइक्रोसॉफ्ट ने इमेज की गुणवत्ता में सुधार करने के साथ ही हेडसेट के वजन को भी कम करने की दिशा में किये जा रहे प्रयासों का संकेत दिया है। कंपनी ने आज प्रोटोटाइप संवर्धित वास्तविकता (AR) चश्में का प्रदर्शन किया, जो गूगल ग्लास की तर्ज़ पर ही लेकिन उससे बेहतर नज़र आता है। यह AR चश्में पूरी तरह से वास्तविक हैं और वर्तमान में माइक्रोसॉफ्ट के रिसर्च डिवीजन में इसका प्रयोग किया जा रहा है। हालाँकि होलोग्राफिक डिस्प्ले में सुधार लाने के उद्देश्य से शुरू हुआ यह सिर्फ एक बुनियादी शोध है। विनिर्देशों के लिए, अनुसंधान में उल्लेख किया गया है कि डिस्प्ले एक पतली और उच्च पारदर्शी होलोग्राफिक ऑप्टिकल तत्व के एक संयोजक के रूप में उपयोग किया जाएगा। यह एक चश्में के लेंस के आकार में होगा, और देखने-योग्य क
ये पाँच बातें भूलकर भी न करें गूगल पर सर्च, वरना पड़ सकता है पछताना

ये पाँच बातें भूलकर भी न करें गूगल पर सर्च, वरना पड़ सकता है पछताना

Interesting
यह तो हम सब अच्छे से जानते है की जब किसी भी विषय संबंधित जानकारी पाने के लिए हमारे दिमाग मे सबसे पहले गूगल का नाम आता है, आए भी क्यों नहीं दुनियां का सबसे बड़ा सर्च इंजन जो है। लेकिन कुछ ऐसी चीजें हैं जिन्हें गूगल पर सर्च करने से आप परेशानी में आ सकते हैं। क्योंकि बाद में यह मेडिकल जानकारी क्रिमिनल वेबसाइट्स को भी शेयर की जाती है। ये मेडिकल फ्रॉड तथा अन्य कई स्कैम में उपयोग होती है। बेहतर होगा की आगे से गूगल पर कुछ भी सर्च करने से पहले इन बातों का खास ध्यान रखा जाए, इसलिए गूगल के बारे में पहले पढ़ ले ये जरूरी बातें..     हम अक्सर गूगल पर बीमारी और उससे जुड़ी मेडिसिन के बारे मे सर्च करते हैं तो यह डाटा थर्ड पार्टी को ट्रांसफर कर दिया जाता है, जिस आधार पर आपको उस बीमारी व उसके ट्रीटमेंट से संबंधित किसी भी वेबपेज को खोलने पर विज्ञापन दिखाए जाते हैं। भूलकर भी कभी गूगल प