Tag: glass

बस एक चम्मच आजमा लें ये जादुई नुस्खा, ज़िन्दगी भर के लिए हट जाएगा आँखों से चश्मा

बस एक चम्मच आजमा लें ये जादुई नुस्खा, ज़िन्दगी भर के लिए हट जाएगा आँखों से चश्मा

Health & Fitness
हमारे शरीर का सबसे अनमोल हिस्सा है हमारी आँखे और हमारी खूबसूरती भी हमारी आँखों की वजह से ही बनती है। अगर हमारी आँखें ना हों तो हम कोई भी काम नहीं कर सकते और इसका एहसास सबसे ज्यादा उसे होता ओग जिसके पास आँखें नहीं होती। खैर यह तो हम सभी जातने है की आँखों के माध्यम से हम इस दुनिया को देख सकते हैं और अलग-अलग प्रकार के रंगों को पहचान सकते हैं, दुनिया की खूबसूरती के उस नजारे को महसूस कर सकते है और इसके लिए यह बेहद जरूरी है की हमारी आँखें हमेशा स्वस्थ्य रहनी चाहिए। मगर जिस तरह का जीवन हम आजकल जी रहे है उसकी वजह से कम उम्र के बच्चे जो ठीक से बोल भी नहीं पाते उनकी आँखों में चश्मा लग जाता है। चश्मा लगना तब उचित लगता है जब आपकी एक उम्र हो जाती है मगर आजकल के माता पिता भी मजबूर होकर बच्चो को चश्मा इसलिए लगवा देते है ताकि आगे चलकर उन्हे ठीक से दिखायी दे। मगर दोस्तों ऐसा नहीं है की अगर आपको एक ब
डिस्पोजल ग्लास खोल रहे हमारे लिए मौत के दरवाजे, हकीकत जानने के बाद इस्तेमाल से भी डरेंगे

डिस्पोजल ग्लास खोल रहे हमारे लिए मौत के दरवाजे, हकीकत जानने के बाद इस्तेमाल से भी डरेंगे

Interesting, News
छोटी से छोटी पार्टी हो या बड़ा से बड़ा फंक्शन, चाय की दुकानें हों या फिर रेस्टोरेंट शहर भर में हर जगह पर डिस्पोजल सामान ही इस्तेमाल में आ रहे हैं। शहर में प्लास्टिक के डिस्पोजल कप के बेहताशा इस्तेमाल ने परेशानी बढ़ा रखी है, इससे ना सिर्फ नालियां चोक हो रही है बल्कि इसका इस्तेमाल करने वाले लोगों की सेहत पर भी खतरा बना हुआ है। इतना ही नहीं प्लास्टिक डिस्पोजल कप को जलाने से वातावरण में जा रहा धुआं भी बीमारी का कारण बन सकता है। इसकी वजह यही है की भागमभाग की जिंदगी में बर्तनों को धोने से बचने का अच्छा ऑप्शन डिस्पोजल आइटम्स को इस्तेमाल में लाना, इसलिए लोग डिस्पोजल के दुस्प्रभाव को अनदेखा करते हुए धड़ल्ले से इसे उपयोग में ला रहे है। शहर में विभिन्न स्थानों पर लगभग 250-300 चाय की दुकानों से हर दिन करीब 25 से 50 हजार डिस्पोजल कप की खपत होती है और इस्तेमाल के बाद यह डिस्पोजल सड़क पर फेंक दिए जात