Tag: america

बर्फीले तूफान BOMB के कहर से सहमा अमेरिका, 133 साल बाद पड़ी ऐसी ठंड

बर्फीले तूफान BOMB के कहर से सहमा अमेरिका, 133 साल बाद पड़ी ऐसी ठंड

News, OffBeat
जैसा कि हम सभी जान रहे है कि इन दिनों भारत में सर्दियाँ काफी बढ़ चुकी है। ऐसे में यदि अमेरिका की बात कि जाए तो पिछले दस दिनों से अमेरिका भी काफी ठण्ड से गुजर रहा है। इतना ही नहीं पिछले दो दिनों से अमेरिका में बर्फीले तूफान भी आ रहे है। इस भारी बर्फबारी ने अमेरिका के कई शहरों को बर्फ की चादर से ढक दिया है। अमेरिका में 133 सालो के बाद ऐसी कड़ाके की ठण्ड पड़ रही है। साथ फ्लोरिडा में बर्फबारी भी हुई। इस भयानक ठण्ड के कारण अमेरिका में 12 लोगो की मौत भी हो गई है। अमेरिका के 90 फीसदी ऐसे शहर है, जहाँ का तापमान शून्य या उससे निचे जा चुका है। साथ ही अमेरिका में और ठण्ड बढ़ने का का अनुमान लगाया जा रहा है। बिगड़ते हालातों को देखकर अमेरिका में इमरजेंसी की घोषित भी कर दी गयी है। बर्फबारी का सबसे ज्यादा असर जहाजों के उड़ानों पर पड़ा है, कल से अब तक लगभग 4500 उड़ाने रद्द कर दी गई हैं। न्यूयॉर्क और मैस
नए साल पर अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने किया जबरदस्त ट्वीट, पाकिस्तान को लगा करारा झटका

नए साल पर अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने किया जबरदस्त ट्वीट, पाकिस्तान को लगा करारा झटका

News
नये साल की शुरुवात के पहले ही दिन अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पाकिस्तान को एक जबरदस्त झटका दिया है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अब साफ कर दिया है कि वो पाकिस्तान को अब किसी भी तरह की मदद नहीं देंगे। डोनाल्ड ट्रंप ने पाकिस्तान की आलोचना करते हुए, अब उसे अमेरिका के द्वारा दिया जाने वाला सैन्य आर्थिक मदद रोकने का संकेत दे दिया हैं। डोनाल्ड ट्रंप ने पाकिस्तान के आतंकवाद को संरक्षण देने की नीति पर करारा हमला बोला है। साथ ही ट्रंप ने अमेरिका के पूर्ववर्ती राष्ट्रपतियों को पर भी निशाना लगाया है। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पाकिस्तान को बेहद सख्त संदेश देते हुए कहाँ है कि बीते 15 सालों में हमने जो आर्थिक मदद दी वो बेवकूफी भरा फैसला था। उन्होंने यह भी कहा कि पाकिस्तान हमारे नेताओं को मूर्ख समझता है, जो वह आतंकवादियों को पनाह देता है। डोनाल्ड ट्रंप सोशल मीडिया द्
9/11 का वो काला दिन जब राख हो गया था WTC, 90 देशों के लोगों की गई थी जान

9/11 का वो काला दिन जब राख हो गया था WTC, 90 देशों के लोगों की गई थी जान

News
11 सितंबर 2001 को हुए आतंकवादी हमले को आज 16 बरस गुजर चुके हैं, लेकिन उस मनहूस दिन से जुड़े आंकड़े आज भी वो भयानक लम्हा भूलने नहीं देते। न्यूयॉर्क जिस वर्ल्ड ट्रेड सेंटर कोन अपनी शान समझते थे उसे आतंकियों ने दो विमानों का मिसाइल का तरह उपयोग कर पलभर में राख कर दिया। 11 सितम्बर 2001 को संयुक्त राज्य अमेरिका पर अल-क़ायदा द्वारा समन्वित आत्मघाती हमलों की श्रृंखला थी। उस दिन सवेरे, 19 अल कायदा आतंकवादियों ने चार वाणिज्यिक यात्री जेट एअरलाइनर्स का अपहरण कर लिया था। वहीं अपहरणकर्ताओं ने तीसरे विमान को बस वाशिंगटन डी.सी. के बाहर, आर्लिंगटन, वर्जीनिया में पेंटागन में टकरा दिया। वर्ल्ड ट्रेड सेन्टर पर हुए हमले में मारे गए 2,977 पीड़ितों में से न्यूयॉर्क शहर तथा पोर्ट अथॉरिटी के 343 अग्निशामक और 60 पुलिस अधिकारी थे। पेंटागन पर हुए हमले में 184 लोग मारे गए थे। करीब 90 देशों के नागरिकों ने इस ह