Tag: adhyatm

83 साल बाद इन 5 राशियों के लिए भद्रकाली होंगी प्रसन्न, चमक जाएगी इनकी किस्मत

83 साल बाद इन 5 राशियों के लिए भद्रकाली होंगी प्रसन्न, चमक जाएगी इनकी किस्मत

Religion
हम सभी चाहते है कि भगवान की कृपा और दया दृष्टी हम सब पर बनी रही। इसके लिए कई लोग देवी-देवताओं को प्रसन्न करने के लिए कई तरह के उपाय भी करते है। इन्ही उपायों में यज्ञ, हवन, कथा, पूजा-पाठ एक है, जिसे करके लोग देवी-देवताओं की अनुकम्पा पाने की कोशिश करते है लेकिन इन सब के करने के बावजूद भी कुछ लोग देवी-देवताओं की कृपा पाने में असफल रहते है। वहीँ कुछ लोग बड़े ही आसानी से देवी-देवताओं की कृपा पा लेते है। कुछ इसी तरह की कृपा 83 साल बाद कई राशियों पर होने वाली है। दरअसल 83 सालों के बाद माता भद्रकाली 5 पर काफी प्रसन्न हुई है, जिसके चलते 5 ऐसी सौभाग्यशाली राशियां है, जिनके जीवन को अपार खुशियों आने वाली है, अटके हुए कार्य तेजी से बनने वाली है। तो चलिए आपको बताते है कौन-कौन सी है वो सौभाग्यशाली राशियां- मेष राशि- यह भी पढ़े :- ​इस हनुमान जयंती पर 30 साल बाद बन रहा है शनि का दुर्लभ योग- इन दो राशियो
शरीर के किस अंग पर काला धागा बांधने से क्‍या होता है, आइए विस्‍तार से जानेंं

शरीर के किस अंग पर काला धागा बांधने से क्‍या होता है, आइए विस्‍तार से जानेंं

Interesting, Religion
कुछ लोगो को आपने काला धागा पहने हुए तो देखा ही होगा। कुछ लोग काले धागे को गले में, तो कुछ लोग हाथ में और कुछ लोग पैर में भी पहनते है। लेकिन आपने यह कभी सोचा है कि आखिर लोग काले धागे क्यों पहनते है? शायद आपने यह कभी सोचा नहीं होगा। वैसे अगर देखा जाए तो काला रंग नाकारात्मक उर्जा उत्पन्न करता है, जिसके कारण किसी भी शुभ कार्य में काला धागा या काले रंग के कपडे का प्रयोग करना वर्जित है। लेकिन हम आपको यह बता दें कि काले रंग का धागा यदि आप अपने शरीर पर धारण करते है तो इसकी सबसे बड़ी खासियत यह है कि यह किसी भी प्रकार की उर्जा को आपके शरीर से बाहर नहीं निकलने देती है। यह भी पढ़े :- आखिरकार मिल ही गया पीएम मोदी के हाथ में बंधे इस “काले धागे” का राज, आप भी जानें जी हां, ज्योतिष की माने तो काले रंग का धागा बांधने के पीछे काफी राज होते हैं लेकिन वैज्ञानिक रूप से भी काले रंग के धागे को बांधना काफी फा
रुद्राक्ष में छिपा है वो राज, जिसे जानकर करोड़पति बन सकते हैं आप

रुद्राक्ष में छिपा है वो राज, जिसे जानकर करोड़पति बन सकते हैं आप

Religion
रुद्राक्ष प्रकृति का ऐसा वरदान है, जो किसी के भी किस्मत का भाग्य बदल सकता है। यह एक खास तरह के पेड़ का बीज होता है। यह पेड़ आमतौर पर पहाड़ी इलाकों में एक खास ऊंचाई पर पाये जाते है, इनमे विशेषकर हिमालय और पश्चिमी घाट जैसे जगह खास हैं। शास्त्रों में रुद्राक्ष अर्थ, धर्म, कर्म, काम और मोक्ष के दृष्टी से काफी लाभकारी माना गया है और कई धार्मिक ग्रंथों जैसे शिवपुराण, रुद्राक्षकल्प, पद्मपुराण, रुद्राक्ष महात्म्य सभी शास्त्रों में रुद्राक्ष की महिमा व चमत्कारी प्रभाव का वर्णन किया गया है। काफी लोगो का यह मानना है कि यदि रुद्राक्ष की प्रतिदिन पूजा की जाय तो उस घर में कभी धन-धान्य की कमी नहीं होती। तो चलिए आज हम आपको यह बताते है कि कैसे आप एक रुद्राक्ष की सहायता से बेहद अमीर बन सकते हैं। रुद्राक्ष को बहुत ही पवित्र व शुद्ध माना गया है। जिस भी घर में रुद्राक्ष होता है, वहां माँ लक्ष्मी का वास
51 साल बाद इस महाशिवरात्रि पर बन रहा है ऐसा महासंयोग, इन 2 राशि वालों की खुल जाएगी किस्मत

51 साल बाद इस महाशिवरात्रि पर बन रहा है ऐसा महासंयोग, इन 2 राशि वालों की खुल जाएगी किस्मत

Religion
महादेव के भक्तो को जिस दिन का सबसे ज्यादा इंतजार होता है, वो शिवरात्रि है। ये तो हम सभी जानते है कि अब कुछ ही दिन शेष रह गये है, भगवान शिव के इस महापर्व को आने में, जिसे सभी काफी उत्साह से मानते है। देखा जाए तो भगवान शिव कण-कण में व्याप्त है लेकिन भगवान शिव खास तौर पर वहां रहते है, जहाँ उनके शिवलिंग रूप की पूजा की जाती है। ज्योतिष के अनुसार यह शिवरात्रि दो राशियों के लिए काफी विशेष होने वाला है, जिसके कारण इन दोनों राशियों के भाग्य खुल जायेंगे। इस बार शिवरात्रि फाल्गुन कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि पड़ रहा है और सारे शिव भक्त इस साल के फ़रवरी महीने की 13 तारीख को यह मंगलमय त्यौहार मनाएंगे। इसके अलावा इस शिवरात्रि पर कुछ ऐसे महासंयोग बन रहा है, जो पूरे 51 साल बाद आया है। इस महासंयोग के कारण 2 भाग्यशाली राशियां ऐसी भी होंगी जिनके किस्मत के ताले खुल जाएँगे। यह भी पढ़े :- इस शिवरात्री पर अग
इस राशि वाले लोग होते हैं भगवान शिव के सबसे “करीब”, जानिए कौन कौन सी है वो राशि

इस राशि वाले लोग होते हैं भगवान शिव के सबसे “करीब”, जानिए कौन कौन सी है वो राशि

Religion
यह तो आप भी जानते है कि ज्योतिष में 12 राशियाँ होती है और हर राशि का अपना एक अलग जातक होता है। ज्योतिष के अनुसार हमारें जीवन में होने वाली सभी घटनाएं इन्ही राशियों के द्वारा पता लगायी जा सकती है, जो घटनाएं ग्रहों की दशा व चाल पर निर्भर करती है। आप अपने आस यह तो देखते ही होगे कि हिन्दू धर्म के लोग ज्योतिष पर काफी विश्वास रखते है और किसी भी शुभ कार्य को करने से पहले वो ज्योतिषाचार्य से परामर्श जरुर लेते है, ताकि उन्हें आगे चलकर कम से कम परेशानियों का सामना करना पड़े। हम अपने जीवन को आनन्दमय व शान्तिमय बनाये रखने के लिए प्रतिदिन ईश्वर की पूजा करते है। लेकिन हमारे समाज में काफी लोग ऐसे भी होते है, जो विशेष रूप से अपने ऊपर भगवान की कृपा बनाये रखना चाहते है, जिससे उनकी मनोकामनाएँ पूरी हो सके। भगवान की विशेष कृपा पाने के लिए ये लोग अथक प्रयास भी करते है, जो कभी-कभी सफल नहीं हो पाते है। ऐसे लोग
अगर पति-पत्नी के बीच हमेशा हो रहा है झगड़ा तो करें ये उपाय

अगर पति-पत्नी के बीच हमेशा हो रहा है झगड़ा तो करें ये उपाय

Interesting, Lifestyle
आज कल पति-पत्नी के बीच अगर किसी बात को लेकर विवाद छिड़ जाए तो इसका खामिहजा पूरे परिवार के सदस्यों को झेलना पड़ता है। कभी-कभी ये विवाद इतने लम्बे और बड़े हो जाते है कि पति या पत्नी चाहते हुए भी अपने रिश्ते को बचा नहीं पाते है। दोनों के मन में एक दुसरे के प्रति इतनी कड़वाहट आ जाती है कि पति या पत्नी के चाहने के बावजूद भी यह विवाद खत्म होने का नाम नहीं लेता है। ऐसे में दाम्पत्य जीवन में मधुरता बनाये रखने के लिए पत्नी की विशेष जिम्मेदारी रहती है, जिससे वो अपने प्रयासो से परिवार के सभी लोगो को खुश रख सके और अपने पति की जरूरतों को भी समझ सकें। ऐसा करने से पति-पत्नी के मध्य कटुता कम होकर प्रेम का संचार होता है। लेकिन कई बार ऐसा देखा गया है कि जब पुरुष काम की अधिकता या अन्य किसी कारण से व्यस्त हो जाता है तो उसका ध्यान अपनी पत्नी की ओर कम जाता है। जिसके कारण पत्नी अपने आप को अकेला महसूस करने लगती ह
भूलकर भी शाम के समय न करें यह काम वरना हो जाएगी धन की हानि

भूलकर भी शाम के समय न करें यह काम वरना हो जाएगी धन की हानि

Religion
हिन्दू शास्त्रों के अनुसार ऐसे कई काम है, जो शाम के समय में करना बहुत अशुभ माना गया है तथा  यदि आप इन कार्यो को शाम के समय करे तो इस कारण आपको धन हानि व आर्थिक समस्याओं से जूझना पड़ सकता है। विशेषतः ये 6 कार्य जिन्हे शाम के समय आपको भुलकर भी नहीं करना चाहिए और इन 6 कार्यों को जो भी व्यक्ति करता है, उसे न केवल आर्थिक समस्याओं से जूझना पड़ता है बल्कि शारीरिक परेशानीयों का भी सामना करना पड़ता है। तो चलिए आपको बताते है वो 6 कार्य कौन कौन से है। हिन्दू धर्म के अनुसार दिन ढलने के बाद यानि शाम के समय में कभी भी तुलसी के पौधे को ना तो छूना चाहिए और ना ही उसमे जल चढ़ाना चाहिए। ऐसा करना हमारे शास्त्रों में अशुभ माना गया है। यह भी पढ़े : जानेें, आपको राशी के अनुसार कौन से भगवान की करनी चाहिए पूजा शाम के समय जब सूरज ढल जाए तो उसके बाद घर में कभी भी झाड़ू नहीं लगाना चाहिए। ऐसा करने से घर की लक्ष्
सूर्यदेव को जल चढ़ाते समय हमेशा इन बातों का रखें ध्‍यान, वरना अधूरी रह जाएगी पूजा

सूर्यदेव को जल चढ़ाते समय हमेशा इन बातों का रखें ध्‍यान, वरना अधूरी रह जाएगी पूजा

Religion
हमारे हिन्दू धर्म में सूर्य को देवता माना जाता है और साथ ही प्रातः उठते ही भगवान सूर्यदेव को जल भी अर्पित किया जाता है, जो हमारे देश में कई लोग करते हैं। रोजाना सुबह उठकर स्नान करने के पश्चात सूर्यदेव को अर्घ्य देना बहुत ही शुभ माना गया है। इसके महत्व और विधि का पूरा व्याख्यान हमारे सनातन धर्म में बताया गया है। शास्त्रों कि माने तो यदि हम प्रतिदिन सूर्यदेव को पुरे विधि द्वारा जल अर्पित करे तो इससे हमें समाज में मान, सम्मान और प्रतिष्ठा मिलती है। सूर्यदेव को अर्घ्य देने से हमारा मन और मस्तिष्क दोनों ही शांत रहता है, जिससे हमारे सारे काम सुग्मता पूर्वक होते है लेकिन कई लोग ऐसे भी हैं जो सूर्य देव को जल अर्पण करते समय कुछ आवश्यक बातो पर ध्यान नहीं देते, जिसे जानना काफी महत्व पूर्ण है। तो चलिए आपको आज हम आपको बताते है कि आखिर हमें भगवान सूर्यदेव को जल कैसे अर्पित करना चाहिए और साथ ही किन-कि
शास्‍त्रों के अनुसार, अगर इस दिन पति-पत्नी बनाते हैं संबंध तो जन्‍म लेगा किन्‍नर

शास्‍त्रों के अनुसार, अगर इस दिन पति-पत्नी बनाते हैं संबंध तो जन्‍म लेगा किन्‍नर

Religion
यदि हम अपने समाज में देखे तो स्‍त्री व पुरूष को छोड़कर एक और अन्य भी वर्ग है, जो ना ही पुरूष है और ना ही स्‍त्री जिन्हें हमारा समाज किन्‍नर के नाम से जानता है। हम सभी के मन में कहीं न कहीं यह जानने कि इच्छा होती है कि किन्‍नरों का जन्‍म क्‍यों और कैसे होता है? जिस प्रश्न का उत्तर विज्ञान के पास भी नहीं है लेकिन आज हम आपको इस प्रश्न का उत्तर बताने वाले है जो हमारे हिन्दू शास्त्रों में बताया गया है। हमारे शास्त्रों में हर व्यक्ति के जन्‍म से लेकर उसकी मृत्यु तक की सभी बातों का उल्लेख होता है। वहीँ शास्‍त्रों में कुछ ऐसे राज छुपे हुए है, जिसे बहुत से लोग नहीं जानते हैं। यह भी उन्हीं में से एक रहस्य है। हमारे शास्त्रों के गर्भ उपनिषद में इस बारे में पुरी बात बताई गयी है, जिसमें स्त्री-पुरुष के संबंध, माँ के गर्भ में शिशु का जन्म, शि
अगर आप भी तीन महीने तक करेंगे इस मंत्र का जाप तो कुबेर देवता खोल देंगे धन के सारे द्वार

अगर आप भी तीन महीने तक करेंगे इस मंत्र का जाप तो कुबेर देवता खोल देंगे धन के सारे द्वार

Religion
हम सभी यह चाहते है कि हमे अपने जीवन में कभी भी धन से जुडी आर्थिक समस्याओं का समना न करना पड़े। कभी भी पैसो का ऐसा आभाव न हो जिसके कारण बच्चे पढ़ न पाए, बूढी माँ की सेवा न कर पाए, अपने पत्नी या घर की देख रेख न कर पाएं और भी ऐसी विपत्तियों को न झेलना पड़े इसके लिए हम दिन रात एक कर देते है पैसे कमाने में, कुछ लोग अपनी पूरी जिंदगी बिता देते है पैसे इकठ्ठा करते-करते। काफी मेहनत करने के बाद भी कोई सफलता नही मिलती है, जिसके कारण वह अपने जीवन से निराश हो जाते है। ऐसे में यह समझ में नहीं आता कि मेहनत करने के बावजूद भी किस्मत साथ क्यों नहीं दे रही है? भगवान कहीं रुष्ठ तो नहीं न हो गये है, ऐसा सोचकर सभी कई उपाय भी करते है और कई अच्छे उपायों के परिणाम भी अच्छे मिलते है। ऐसे में आज हम आपको एक ऐसा ही उपाय बताने वाले है, जिससे आपको भगवान कुबेर की कृपा प्राप्त होगी और साथ ही आपके घर में कभी भी धन की कमी न