जानें, सांपों के उस आइलैंड के बारे में जहां इंसानों का जाना है मना, जो गया आजतक नहीं लौटा

वैसे तो आपने सांपों के बारे में काफी कुछ सुना होगा लेकिन आज हम आपको ऐसे एक टापू के बारे में बताने जा रहे है जहाँ जहरीले सांपों की संख्या बहुत ज्यादा है। इस टापू पर दुनिया के सबसे ज्यादा जहरीले माने जाने वाले सांप पाए जाते हैं जो एक बार काट ले तो इन्सान की मौत तुरंत हो जाए। इनता ही नही ये सांप किसी को काट ले तो इनके जहर से लाश भी काली पड़ जाती है। ब्राजील में एक आइलैंड स्थित है जिसका नाम इल्हा दा क्यूइमादा है। इस आइलैंड को स्नैक आइलैंड भी कहते है।

वहां के लोगो का यह मानना है कि इस आइलैंड पर पहले सांपों की इतनी अबादी नहीं थी। केवल इस आइलैंड के मध्यभाग में ही कुछ सांप पाए जाते थे। इस आइलैंड के तट पर एक लाइट हाउस बना हुआ है, जिस पर लोग एक कहानी भी बताते है। इस कहानी में ब्राजीलियन नेवी का एक कर्मचारी लाइट हाउस पर ड्यूटी किया करता था। जो उस लाइट हाउस का आखरी केयर टेकर रहा। वह केयर टेकर अपने पुरे परिवार के साथ लाइट हाउस बने एक कॉटेज में रहा था। वहीँ उनकी जरूरतों को पूरा करने के लिए एक ब्राजीलयन नेवी का एक जहाज उनके पास उनकी जरूरत का सामान पहुँचाया करता था। लेकिन धीरे धीरे सांपों की संख्या बढ़ने लगी। जिससे तट के पास वाले इलाके में भी सांप दिखने लगे।

इस आइलैंड पर ज्यादातर जहरीले गोल्डन पिटवाइपर सांप पाए जाते हैं। एक दिन खिड़की का कांच टूट हुआ होने के कारण कुछ जहरीले गोल्डन पिटवाइपर सांप उनके कॉटेज में घुस जाते है। उन जहरीले सांपों को कॉटेज में देखकर सारा परिवार डर  जाता है और जान बचाने के लिए सारा परिवार तट की ओर भागता हैं जहाँ उनकी नाव बंधी हुई रहती है लेकिन कोई भी नाव तक पहुंच नही पाता है।

यह भी पढ़ें: नाग-नागिन के रोमांस का ये अद्भुत विडियो देखकर आंखें खुली की खुली रह जाएंगी

सारा परिवार रास्ते में ही सांपों का शिकार बन जाता है। अगले दिन जब नेवी का जहाज वहां पहुंचता है, तो उन्हें पूरे परिवार की लाशें मिली जो कि सांपों के जहर के कारण पूरी काली पड़ चुकी थीं। इस घटना के बाद लाइट हाउस को हमेशा के लिए बंद कर दिया गया और ब्राजीलियन सरकार ने इस आइलैंड पर इंसानों का आना-जाना प्रतिबंध कर दिया। अब यह आइलैंड इतना बदनाम हो गया है कि कोई भी यहाँ जाने की हिम्मत नहीं करता।

इस आइलैंड पर काफी पक्षियां आराम करने के लिए आती है लेकिन ये भी सांपों का शिकार बन जाती हैं।जिससे इन सांपों की संख्या में दिनों-दिन बढ़ोत्तरी हो रही है। यह आइलैंड जो 4,30,000 वर्ग मीटर में फैला हुआ है जिस पर लगभग 20,00,000 जहरीले गोल्डन पिटवाइपर सांप हैं।
Share this on

Leave a Reply