अगर बचना चाहते हैं शनिदेव की बुरी नजर से तो आज जरूर से कर लें ये उपाय

प्रदोष व्रत में भगवान शिव की उपासना की जाती है| यह व्रत हिंदू धर्म के सबसे शुभ व महत्वपूर्ण व्रतों में से एक है. हिंदू चंद्र कैलेंडर के अनुसार प्रदोष व्रत चंद्र मास के 13 वें दिन (त्रयोदशी) पर रखा जाता है। माना जाता है कि प्रदोष के दिन भगवान शिव की पूजा करने से व्यक्ति के पाप धूल जाते हैं और उसे मोक्ष प्राप्त होता और इस बार 30 दिसंबर शनिवार को प्रदोष व्रत और शनिवार का दिन होने से शनि प्रदोष का योग बन रहा है।

वैसे तो अलग- अलग वारों के अनुसार प्रदोष व्रत के लाभ प्राप्त होते है लेकिन यदि आपको  संतान प्राप्ति की कामना हो तो शनिवार के दिन पड़ने वाला प्रदोष व्रत को अवश्य  करना चाहिए और ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, यदि इस दिन शनिदेव को प्रसन्न करने के लिए राशि अनुसार उपाय किए जाएं तो शनिदेव प्रसन्न होते हैं और भक्तों की हर कामना पूरी करते हैं।

हम आपको आपकी राशि के अनुसार उपाय बताएँगे जिसे इस दिन करने से आपके जीवन से हर कष्ट शनि देव स्वयं दूर करेंगे।

मेष  राशि

मेष राशि के जातकों को शनि देव की कृपा पाने के लिए सुन्दरकाण्ड या हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिए।

वृषभ राशि

वृषभ राशि के जातकों को शनि अष्टोत्तर शत नामावली  का पाठ करना चाहिए।

मिथुन राशि

मिथुन राशि के जातक इस दिन शनि देव को प्रसन्न करने के लिए उड़द की डाल चढ़ाये।

कर्क राशि

कर्क राशि के जातक राजा दशरथ कृत शनि स्त्रोत का पाठ करें।

सिंह राशि

सिंह राशि वाले किसी मंगलवार को हनुमान जी को चोला चढ़ाएं।

कन्या राशि

कन्या राशि के जातको को शनि देव की बीज यंत्र के जाप से अच्छा फल मिलेगा।

तुला राशि

तुला राशि वाले इस दिन शनि देव की आरती सरसों के तेल से करें।

वृश्चिक राशि

वृश्चिक राशि के जातको को रोज  सुबह  चीटियों को आटा डालना चाहिए।

धनु राशि

धनु राशि के जातकों को पीपल के पेड़ के नीचे 11 दीपक जलाने हैं।

मकर राशि

शनिदेव के वैदिक मन्त्रों का जाप करें।

कुम्भ राशि

इस राशि के व्यक्ति को ज्योतिष के  सलाह से नीलम रत्न पहने।

मीन राशि

कुष्ठ रोग के मरीजों का यथासंभव मदद करने से शनि देव की कृपा बनेगी।
Share this on

Leave a Reply