अगर आप पर भी है शनि दोष है, तो इस टोटके को अपनाएं, फायदे में रहेंगे…

0 views

शास्त्रों के अनुसार मनुष्य का शरीर पांच तत्वों से मिलकर बना होता है वो है  पृथ्वी, वायु, जल, अग्नि, और आकाश. इन्ही के द्वारा मिलने वाली उर्जा से हमारे शरीर का संचालन होता हैं| अक्सर आपने अपने आस पास कई लोगो को हाथो में या पैरों में काला धागा पहने देखा होगा. ज्यादातर लोग  इसे बांधने के पीछे का कारण यही बताते हैं कि इससे नजर नहीं लगती और साथ ही इससे सारे नकारात्मक तत्व हमारे शरीर से दूर रहते है।

 

मान्यताओ के अनुसार ऐसा कहा जाता है कि बुरी नजर से बचने के लिए हमे काले रंग की चीजों का इस्तेमाल करना चाहिए जैसे की  मसलन काला टीका, काला धागा.  क्योंकि जब  भी किसी इंसान की बुरी नजर हमें लगती है, तब  मानव शरीर के  पंच तत्वों से मिलने वाली संबंधित सकारात्मक ऊर्जा व्यक्ति तक नहीं पहुंच पाती है. इसीलिए गले में काला धागा बांधा जाता है।

इस काले धागे का सम्बन्ध कहीं ना कही शनि देव से भी है क्योकि  अगर आप देश के किसी भी  शनि मंदिर में चले जाएंगे, तो वहां सरसो तेल के साथ शनि देव को काले वस्त्र एवं काले धागे का चढ़ावा चढ़ता है। शास्त्रों के अनुसार बताया जाता है कि इसके पीछे का कारण सिर्फ निगेटिव एनर्जी और नजर से बचाव नहीं है, बल्कि इसके पीछे कुछ वैज्ञानिक कारण भी हैं। हमारे वैदिक शास्त्रों में  काला धागा बांधने के पीछे वैज्ञानिक कारण  भी बताया गया है|।

यह भी पढ़े : केवल तीन शुक्रवार तक कर लें ये सरल उपाय उसके बाद पाएं माँ लक्ष्मी की विशेष कृपा

कई बार ऐसा कहा जाता है की जो काम एक तलवार नहीं कर सकती वो एक सुई कर सकती है ठीक वैसे ही कई बार कई चीजें आपको ठीक नहीं कर पाती हैं, वहां एक छोटा सा काला धागा आपको कई सारी परेशानियों से निजात दिला सकता है। शनि दोष एक ऐसी समस्या है जिससे बचने के लिए भी इंसान तमाम तरह के उपायों को अपनाते है लेकिन सिर्फ काले धागे का एक टोटका आपको शनि दोष से हमेशा के लिए आजादी दिला सकता है इसीलिए हम सभी को अपने शरीर के किसी ना किसी अंग पर काला धागा अवश्य धारण करना चाहिए।

 

मान्यताओ के अनुसार काला धागा हाथ या गले में बांधने से नजर लगाने वाले इंसान की दृष्टि भंग हो जाती है। जो लोग गले या हाथ में काला धागा पहनते हैं उनके अंदर सकारात्मक ऊर्जा का प्रभाव होता है जिससे नजर का असर धागा बांधने वाले के ऊपर नहीं होता है।वैज्ञानिक दृष्टि से देखा जाये तो काला रंग को उष्मा का अवशोषक  माना गया है इसलिए काला धागा बुरी नजर व हवाओं को अवशोषित कर देता है इसका असर हमारे शरीर को नहीं होता है, यह एक तरह का सुरक्षा कवच बना देता है।
Share this on

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *