शर्मनाक: 11 साल की छात्रा को टीचर ने दी लड़कों के टॉयलेट में खड़ा होने की सजा

गुरुग्राम के रेयान स्कूल में प्रद्युम्न की हत्या का मामले गर्म ही है, तो वही हैदराबाद के एक प्राइवेट स्कूल में एक टीचर ने 11 साल की छात्रा को लड़कों के टॉयलेट में खड़े होने की सजा दी। छात्रा की गलती केवल इतनी थी कि वह सही यूनिफॉर्म पहनकर स्कूल नहीं आई थी।
मामला सामने आने के बाद इसे लेकर विरोध हो रहा है। जानकारी के अनुसार छात्रा ने घटना को लेकर दिए बयान में कहा है कि जब में अपनी क्लास में जा रही ती तो पीटी टीचर ने मुझे रोका और मेरी यूनिफॉर्म के बारे में पूछा। मैंने बताया कि मेरी मां ने उसे धोया था जिसके चलते मैं उसे पहन कर नहीं आ सकी।

छात्रा बोली कि मैंने टीचर को यह भी बताया कि मेरे माता-पिता ने इस बात को लेकर एक नोट मेरी स्कूल डायरी में भी लिखा है लेकिन टीचर नहीं मानी और मुझ पर गुस्सा करने लगी। इसके बाद वो मुझे खींचकर ले गई और लड़कों के टॉयलेट में खड़ा कर दिया। मुझे वहां देख सभी मेरा मजाक उड़ाने लगे खासतौर पर लड़के।

कुछ समय बाद टीचर ने मुझे हिदायत देते हुए क्लास में बैठने की दिया कि आगे से ऐसा ना हो। अब मैंने तय कर लिया है कि मैं स्कूल नहीं जाऊंगी। घटना सामने आने के बाद कुछ चाइल्ट राइट ग्रुप्स ने इसके खिलाफ विरोध दर्ज करवाया है।

Share this on

Leave a Reply