अब आप भी खोलिए SBI का यह खास अकाउंट जिसमें मिलेगा FD जितना ब्याज

SBI, भारतीय स्टेट बैंक जो की देश का सबसे बड़ा बैंक है, ये बहुत सारे तरीकों का अकाउंट खोलने की सुविधा देता है। इस तरह के अकाउंट खुलवाने पर आपके पैसों की बचत तो होगी ही साथ ही आप अपने पैसों को बढ़ा भी सकते हैं। उन अकाउंट्स में से एक अकाउंट है – सेविंग प्लस अकाउंट। ये अकाउंट मल्टी ऑप्शन्स डिपोजिट से लिंक होता है। इस अकाउंट की खासियत ये है की इसमें आपका जितना भी अमाउंट रहेगा वो एक निश्चित सीमा से ज्यादा होने पर खुद-ब-खुद ही एफडी में ट्रांसफर हो जाएगा। तो चलिए आज हम आपको बताते स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के सेविंग अकाउंट्स की क्या क्या खासियत है।

कौन खोल सकता है SBI का यह अकाउंट

सेविंग प्लस अकाउंट को कोई भी ऐसा व्यक्ति खोल सकता है जो की बैंक में सेविंग अकाउंट खोलने के योग्य हो गया हो। इस अकाउंट को आप सिंगल या ज्वाइंट रूप से भी शुरू कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें : बड़ी खबर : एसबीआई ग्राहकों को अब फ्री में मिलेंगे 5 लाख रुपए, चाहते हैं लाभ तो तुरंत पहुंचे बैंक

कितना रख सकते हैं मिनिमम बैलेंस

आपको SBI के इस अकाउंट में महीने में औसत बैलेंस रखना आवश्यक है। अलग अलग क्षेत्र के लिए अलग अलग रु निर्धारित किए गए हैं जैसे की मेट्रो में 3000 रु ,अर्बन एरिया में 3000 रु ,सेमी अर्बन एरिया में 2000 रु और सरल क्षेत्रों में 1000 रुपए। इस तरह के अकाउंट में एसबीआई के बचत बैंक के खाते के बराबर ही ब्याज मिलेगा।

कितनी रकम होगी ट्रांसफर

सेविंग प्लस अकाउंट में 25 हजार रु से ज्यादा की रकम एफडी में ट्रांसफर हो जाती है ।इसकी न्यूनतम राशि दस हजार रु होती है तथा ये 1000 के मल्टीपल में होती है ।इसका अर्थ ये है कि मल्टी ऑप्शन्स डिपॉज़िट अकाउंट में ट्रांसफर करने के लिए न्यूनतम थ्रेसहोल्ड 35 हजार रु तक हो।

SBI के इस अकाउंट में मिलती है ये सुविधा

सेविंग बैंक अकाउंट होल्डर्स को जो सुविधाएं मुहैया कराई जाती हैं वो सारी एसबीआई के सेविंग प्लस अकाउंट में भी उपलब्ध होंगी। इसके साथ ही ये मल्टी ऑप्शन डिपॉजिट्स पर लोन लेने की सुविधा भी उपलब्ध कराएगी।

Share this on