शनिवार की रात चुपचाप सेे करेंगे ये उपाय तो तुरंत मिलेगी शनिदेव की कृपा पाएं

जनसामान्य में फैली मान्यता के अनुसार नवग्रह परिवार  में सूर्य को राजा व शनिदेव को मृत्यु कहा गया है  हैं लेकिन महर्षि कश्यप नेशनि स्त्रोत  के एक मंत्र में सूर्य पुत्र शनिदेव को महाबली और ग्रहों का राजा कहा है- ‘सौरिग्रहराजो महाबलः।’ प्राचीन ग्रंथों के अनुसार शनिदेव ने शिव भगवान की भक्ति व तपस्या से नवग्रहों में सर्वश्रेष्ठ स्थान प्राप्त किया है|

शास्त्रों के अनुसार शनिदेव को इंसाफ का देवता माना गया है क्यूकि शनिदेव हर व्यक्ति को उसके कर्मो के अनुसार ही फल देते है कुछ लोग शनिदेव को भाग्य सवारने वाला देवता भी मानते है तो वही कुछ लोग  शनिदेव की बुरी दृष्टि से डरते है भी है|

शास्त्रों के अनुसार शनिदेव की कृपा प्राप्त करने के लिए कुछ उपाय भी बताये गए है और इन उपायों को करने से व्यक्ति अपने जीवन के सभी कष्ट दूर कर सकता है इसके साथ ही आज हम आपको कुछ ऐसे उपाय भी बताएंगे जिन्हे अगर आप शनिवार की रात करते है तो आपकी किस्मत चमक जायेगी!

यह भी पढ़े :31 दिसंबर से पहले अपने घर से हटा दें ये चीजें, नए साल में होगा महालक्ष्मी का आगमन

इन उपायों में सबसे पहले उपाय के अनुसार शनिवार के अगर आप किसी भिखारी को तेल में बने पदार्थ खिलाते  है तो शनि देव बेहद प्रसन्न होते है साथ ही भिखारियों को काले उड़द का दान करे और चाहे तो काले उड़द को जल में भी प्रवाहित भी  कर सकते है.

शनिवार को घर में गूगल की धूप जलाई जाएँ तो यह उपाय भी काफी प्रभावशाली माना जाता है.

असीम विद्या और बुद्धि की प्राप्ति के लिए शनिवार की रात को रक्त चंदन से अनार की कलम से ॐ व्ही को भोजपत्र पर लिख कर नित्य यानि रोज सुबह पूजा करनी चाहिए |

जीवन में अगर काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा हो तो शनिवार को काले कुत्ते, काली गाय को रोटी और काली चिड़ियाँ को दाना डालने से जीवन की मुश्किलें दूर होती है.

शनिवार को शाम के समय सुंदरकांड का पाठ करने से शुभ फल की प्राप्ति होती है |

शनिवार को गौरज मुहूर्त में चींटियों को तिल चौली डाले|

शनिवार को उड़द, तिल, तेल या गुड़ के लड्डू बना कर जिस जमीन पर हल न चला हो वहां गाड़ दे। हो सकता है अपने ये उपाय पहले ना सुना हो लेकिन शनिवार के दिन इस उपाय को करने से  को बेहद शुभ योग बनते है, और  इसलिए यह दिन किस्मत को आजमाने के लिए सबसे अच्छा  दिन भी माना जाता है।
Share this on

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *