सचिन ने भी माना “धोनी” का रन आउट होना टीम के लिए था सबसे बड़ा टर्निंग पॉइंट

जीत की दहलीज पर पहुँच चुकी धोनी की चेन्नई सुपरकिंग्स से मलिंगा ने मैच के आखरी ओवर में वो कर दिखाया जिसके लिए मैदान में आए सभी मुंबई इंडियंस के समर्थकों का दिल बहुत ही ज़ोरों से धडक रहा था। जी हाँ, मैच कुछ इस कदर रोमांचक हो चला था की अंतिम गेंद में चेन्नई को जीत के लिए मात्र दो रन चाहिए थे और उस आखरी बाल पर मलिंगा ने अपने अनुभव का भरपूर प्रयोग करते हुए शार्दूल ठाकुर को एलबीडबल्यू कर चौथी बार मुंबई को आईपीएल का विजेता बना दिया।

IPL 2019 Final

150 रनों के सामान्य से लक्ष्य का पीछा करने की शुरुवात चेन्नई की तरफ से बहुत ही शानदार हुई थी मगर मैच उस वक़्त से बदलते चला गया जब एक अतिरिक्त रन के लिए धोनी इस पूरे आईपीएल में पहली बार रन आउट हो कर अपना विकेट गंवा बैठे। आपको शायद यह जानकारी नहीं होगी की महेंद्र सिंह धोनी आईपीएल के 2 सीजन से एक भी बार रन आउट नहीं हुए थे और इस बार वो आउट हुए और उसके बाद तो मैच भी धीरे धीरे फिसलते ही चला गया।

“धोनी” का रन आउट बना टर्निंग पॉइंट

IPL 2019 Final

हालांकि एक छोर से शेन वाटसन ने बेहद ही शानदार पारी खेलते हुए 80 रन बनाए और टीम को जीत के मुहाने टाकला खड़ा किया मगर अंतिम ओवर में वो भी रन आउट हो गए और यहीं से सारी बाज़ी पलट गयी और लगभग जीता हुआ मैच चेन्नई मात्र 1 रन से हार गयी। खैर मैच शुरू से लेकर आखरी गेंद तक बेहद ही रोमांचक रहा और मैच जीतने के बाद खुद सचिन तेंदुलकर ने भी इस बात को कबूल किया की धोनी का रन आउट होना मुंबई के लिए सबसे बड़ा टर्निंग पॉइंट था, वरना मुंबई के लिए ये मैच बेहद ही मुश्किल हो चुका था। खैर इस जीत के साथ मुंबई इंडियंस ने चौथी बार आईपीएल का खिताब अपने नाम कर लिया है।

Share this on