घर में दो नन्ही बच्चियों के पास लगाया था रूम हीटर, कुछ देर बाद आकर देखा तो…

आज हम आपको एक ऐसी खबर से रूबरू कराने जा रहे है, जिसे जानने के बाद आप की रूह कांप जाएँगी। जैसा कि आप जानते ही है कि आज कल सर्दियों का मौसम चल रहा है जिसके चलते आपको हर घर में ठंड से बचाव करने के लिए हीटर का प्रयोग आम तौर पर देखने को मिल ही जाएगा। लेकिन आज जो हम आपके लिए खबर लाए है वो हीटर से ही जुड़ा हुआ है। यह खबर उत्तर प्रदेश में एटा के अलीगंज की है, जहाँ एक तीन मंजिला इमारत में आग लग गई और जिसमें पांच महीने की दो मासूम जुड़वां बच्चियां जल कर राख हो गईं।

आस पास के लोगो का कहना है कि बच्चियों के बिस्तर पर रूम हीटर लगा हुआ था, जिससे आग लग गई और आग ने भयानक रूप लेकर दोनों बच्चियों की जिंदगी छीन ली। आपको हम बता दे कि इस आग में लगभग 6 लोग फंस गए थे, जिनको स्थानीय लोगों ने बाद में बचा लिया था।

दोनों मासूम बच्चियां पांच महीने की और जुड़वां थी। जैसा कि नए साल की सभी खुशियाँ सभी मना रहे थे वैसे ही अलीगंज कस्बे में भी एक जनवरी को सभी नए साल की खुशियां मना रहे थे कि तभी राधाकृष्ण मोहल्ले में एक तिमंजिला मकान में आग लग गई। आग की लपटो ने इतना भयानक रूप ले लिया कि इस आग में अंदर 6 से ज्यादा लोग फंस गए। वहीँ इस आग में फंसी जुड़वां बच्चियां जिनका नाम महिरमा और महिसा था, उनको बचाया नहीं जा सका।

यह भी पढ़े :-वीडियो: जब 15 साल की बच्ची के बैग से माँ को मिला कुछ ऐसा देखकर उड़ गए उनके होश

आग लगने की सूचना लोगों ने फायर ब्रिगेड और पुलिस को देनी चाही लेकिन फोन नहीं लग पाया। तीसरी मंजिल पर लगी आग  से स्थानीय लोग खुद ही आग से बचाने की कोशिशों में लग गए और काफी मुश्किलों के बाद सभी को बाहर निकाला जा सका लेकिन इस हादसे में दो बच्चियों की दर्दनाक मौत हो गई।

दरअसल, अलीगंज जिला हेडक्वार्टर से 52 किलो मीटर की दूरी पर है और फायर ब्रिगेड को खबर करने पर भी उसे अलीगंज पहुंचने में कम से कम एक घंटे लग ही जाते। इस हादसे में दो मासूमों की मौत से इलाके के लोग बहुत ज्यादा दुखी हैं। जब पुलिस और फायर ब्रिगेड को सूचना मिली तो वह काफी देर बाद मौके पर पहुंची और पुलिस ने इस मामले की पूरी जांच शुरू कर दी है। इस मामले में पुलिस ने बताया कि मकान की तीसरी मंजिल पर फोम के गद्दे वाले बिस्तर पर पांच माह की दोनों बच्चियां सोई हुई थीं। उसी बिस्तर पर रूम हीटर भी लगा रखा था, जिससे आग लग गई और दोनों बच्चियां जल गईं।
Share this on

Leave a Reply