Friday, February 23

इंटरनेट की दुनिया में तहलका मचा देगी ये टेक्नॉलोजी, मात्र एक सेकेंड में डाउनलोड हो जाएगी FULL HD मूवी

आज कई टेलीकॉम कंपनियां तेज़ इंटरनेट, फ़ास्ट डाउनलोड का दावा करती है। देश में 4जी के आ जाने से लोगों में इंटरनेट की बढ़ी स्पीड को लेकर काफी कौतूहूलता है मगर बावजूद इसके कोई भी संतुष्ट नहीं है। खैर आपको बता दे की यदि आप भी इंटरनेट स्पीड से परेशान हैं और सोचते हैं कि भारत में कब 5जी नेटवर्क आएगा, तो बता दें कि दुनिया जल्द ही उस टेक्नोलॉजी से रूबरू हो सकती है, जो इंटरनेट की दुनिया में तहलका मचा देगी। साइंटिस्ट ने हाल ही में एक ऐसी तकनीक खोजी है, जिसमें यूजर्स एक सेकेंड में तीन मूवी डाउनलोड कर सकेंगे।

जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि इस टेक्नोलॉजी में वायरलैस तरीके से जानकारी ट्रांसफर करने के लिए प्रकाश की किरणों का इस्तेमाल किया जायेगा और हर किरण हाई कैपेसिटी वाले चैनल के रूप में अहम भूमिका निभाएगी। आप ऐसे समझ लिजीये की यह एकदम इस तरह है जैसे बिना फाइबर के ऑप्टिकल फाइबर। आपको बता दे की परिक्षण के दौरान इसमें अभी तक 112 गिगाबाइट प्रति सेकंड की स्पीड मिल चुकी है।

आपको यह जानकार बेहद हैरानी होगी कि ये स्पीड उतनी है जिसमें हर सेकेंड 3 फूल मूवी को डाउनलोड किया जा सकता है। लाइट एंटीना अलग-अलग ऐंगल्स पर दिखाई नहीं देने वाली कई वेवलेंथ्स को रेडिएट करता है। अगर एक यूजर का स्मार्टफोन या टैबलेट एक एंटीना की साइटलाइन से दूर होता है, तो दूसरे से जुड़ जाता है। ये इंफ्रारेड वेवलेंथ्स यूजर की आंखों तक नहीं पहुंचती यानी ये उपयोग करने की दृष्टि से सुरक्षित है। इस सिस्टम की मेंटेनेंस और पॉवर यूज की चिंता भी नहीं करनी पड़ती, हर यूजर को उसका अलग एंटिना मिलता है।

इस टेक्नोलॉजी के आने के बाद इससे मिलने वाले फायदे पर टॉन कूनन ने कहा कि इससे हर यूजर्स को बिना शेयर करे पूरी कैपेसिटी मिलेगी। इस तकनीक में पॉवर की भी कम खपत होती है। इससे भी बड़ा फायदा ये है कि ये किरणें किसी भी वॉल्स के बाहर भी नहीं जा सकती और कोई और आपका नेटवर्क शेयर नहीं कर सकता है। बताया जा रहा है कि इस शानदार और अल्ट्रा हाई स्पीड इंटरनेट के लिए अभी कई जरूरी परिक्षण चल रहे है और उम्मीद है कि बहुत ही जल्दी इसका फायदा पुरे दुनिया के लोगों को मिलने वाला है।

Share this on

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *