Sunday, February 18

Religion

जानिए, गुरुवार का महत्व और इस दिन क्या करना रहेगा शुभ और अशुभ

जानिए, गुरुवार का महत्व और इस दिन क्या करना रहेगा शुभ और अशुभ

News, Religion
गुरुवार लक्ष्मी नारायण का दिन होता है, इस दिन लक्ष्मी और नारायण का एक साथ पूजन जीवन में खुशियों की अपार वृद्धि कराने वाला होता है। इस दिन लक्ष्मी और नारायण की एक साथ पूजन करने से पति-पत्नी के बीच कभी दूरिया नहीं आती है। साथ ही धन की वृद्धि होती है। गुरुवार का दिन धर्म का दिन होता है और  ब्रह्मांड में स्थित नौ ग्रहों में से गुरु वजन में सबसे भारी ग्रह है। गुरु धर्म व शिक्षा का कारक ग्रह है। गुरु ग्रह को कमजोर करने से शिक्षा में असफलता मिलती है। साथ ही धार्मिक कार्यों में झुकाव कम होता चला जाता है। शास्त्रों के अनुसार गुरुवार की रात का जो समय होता है वो इन्द्र पत्नी रति को समर्पित है और रति का उद्गमन रात्रि शब्द से हुआ है और इस चराचर जगत में देवी महालक्ष्मी को रात की देवी कहा गया है इसीलिए अगर गुरूवार को रात में कुछ काम किए जाते हैं तो उन कार्यों को करने से माता लक्ष्मी रुष्ट  हो जाती
600 साल बाद खुश हुए हैं राहु-केतु, इन 5 राशि वालों को इस साल करेंगे मालामाल

600 साल बाद खुश हुए हैं राहु-केतु, इन 5 राशि वालों को इस साल करेंगे मालामाल

Religion
साल 2018 में अब हम सभी प्रवेश कर चुके है, जिसका सभी को बेसब्री से इंतजार था वो पल अब आ चुका है। साल 2017 के ख़त्म होते ही राहु और केतु खुश हो चुके हैं, जो कि ऐसा योग 600 साल बाद बना है। अक्सर राहु और केतु को लोग सही ग्रह नहीं मानते है उन्हें अशुभ ग्रहो में से एक माना जाता हैं लेकिन इस बार साल 2017 के खत्म होते ही राहु केतु 5 राशियों पर काफी मेहरबान है। ज्योतिष की माने तो 2018  में राहु और केतु 5 राशियों पर काफी मेहरबान है। वैसे अगर देखा जाए तो राहु व केतु को खुश करने के लिए लोग बहुत से उपाय करते हैं लेकिन इस बार खुद इतने साल बाद राहु और केतु 5 राशियों पर मेहरबान हुए हैं। तो चलिए आपको बताते हैं वो कौन कौन सी राशि है। मकर प्रथम राशि मकर है, इस राशि पर राहु-केतु की कृपा होगी। इन राशि के जातकों का आत्मविश्वास शिखर पर रहेगा। इस राशि के लोग काफी सकारात्मक महसूस करेंगे और अपने आस-पास के
इन राशि वाली लड़कियों पर आंख बंद करके कर सकते हैं विश्‍वास, प्‍यार में कभी नहीं देती धोखा

इन राशि वाली लड़कियों पर आंख बंद करके कर सकते हैं विश्‍वास, प्‍यार में कभी नहीं देती धोखा

Lifestyle, Religion
दुनिया में हम कई प्रकार के लोगो को देखते है लेकिन उनमे से कोई एक ही ऐसा  व्यक्ति होता  है जिसे हम  पसंद करते है| और उसी केसाथ अपनी  पूरी ज़िन्दगी बिताने का फैसला करते है| प्रेम, मोहब्बत, लव ये नाम चाहे अलग अलग हो लेकिन इन सबका मतलब एक ही होता हैं और इसमें कोई शक नहीं कि जिन्दगी में हर किसी को प्यार की आवश्यकता होती हैं। जब ये प्यार होता हैं तो जिंदगी में सबकुछ अच्छा लगने लगता हैं और हम अपने सारे टेंशन भूल जाते हैं| लेकिन क्या आप जानते हैं कि प्यार होने पर जितनी ख़ुशी होती हैं.उतना ही दिल टूटने पर दुःख भी होता हैं| ऐसे में व्यक्ति को हमेशा डर बना रहता हैं कि जिस लड़की से वो प्यार कर रहा हैं कही आगे चलकर वो मुझे धोखा तो नहीं देगी? वो  हमेशा उसी से प्यार करेगी की नही ऐसे कई सवाल उसके मन में चलते रहते है लेकिन आज हम आपके इन्ही सवालों के जवाब ले कर आये है और आज हम आपको चार ऐसी राशियों के ना
पुरुष भी घुटने टेक देते है इन तीन राशि वाली महिलाओं के आगे, जानें कहीं आपकी राशि भी तो इनमें से एक नहीं

पुरुष भी घुटने टेक देते है इन तीन राशि वाली महिलाओं के आगे, जानें कहीं आपकी राशि भी तो इनमें से एक नहीं

Religion
हमारे देश में ऐसे कई लोग है, जो ज्योतिषशास्त्र में जरा सा भी विश्वास नहीं रखते है तो वहीँ कुछ लोग ऐसे भी है, जो ज्योतिष से जुडी सारी बातो को सच मानते है। ज्योतिष में सब कुछ ग्रहो का खेल होता है, जैसा कि हम सभी यह जानते है कि ज्योतिष में बारह राशियां होती है, जिनसे लोगो का भविष्य, उनका स्वाभाव और उनके विचार जैसे कई चीजे पता लगाई जा सकती है। वहीँ आज हम आपको ज्योतिष के अनुसार तीन ऐसी राशियों के बारे में बताने जा रहे है, जिनके आगे पुरुष अक्सर झुक जाया करते है।   मकर :- सबसे पहले बात करते है मकर राशि के महिलाओं की। वैसे देखा जाए तो इस राशि की महिलाऐं बहुत साहसी होती है, इनका स्‍वभाव काफी शांत और गंभीर होता हैं, जिसके कारण यह काफी कम बोला करती हैं और जल्दी भावुक नहीं हुआ करती हैं। ये काफी ईमानदार प्रवृति की होती हैं। जिसके कारण यह काफी इंडिपेंडेंट होती है और ये दूसरों पर बोझ
बुधवार के दिन करेंगे ये टोटके, तो गणेश जी सारी मनोकामनाएं करेंगे पूरी

बुधवार के दिन करेंगे ये टोटके, तो गणेश जी सारी मनोकामनाएं करेंगे पूरी

News, Religion
हिन्दू धर्म और सभी पूजा पाठ में गणेश जी को सबसे सर्वश्रेष्ठ स्थान दिया गया है  और  इसीलिए हर शुभ काम के शुरुआत  करने से पहले हम गणेश जी की स्तुति करते है  जिससे हमारे सभी कार्य कुशलता पूर्वक संपन्न हो सके |शास्त्रों के अनुसार माना जाता है की जिस भी घर में गणेशजी जी की पूजा होती है उस घर में सदैव सुख और समृद्धि और शांति  बनी रहती है और किसी भी प्रकार का कोई भी  कोई भी कष्ट नहीं आता| और सभी प्रकार की नकारात्मक उर्जा भी आपके घर से दूर रहती है | हमारे धार्मिक ग्रंथों और  पुराणों में गणेशजी की भक्ति शनि सहित सारे ग्रहदोष दूर करने वाली भी बताई गई हैं।बुधवार का दिन गणेश जी की पूजा के लिए सबसे उत्तम दिन माना गया है और इसीलिए हमारे शास्त्रों में गणेश जी को प्रसन्न करने के कुछ उपाय बताये गये हैं जिन्हें करके हम अपने जीवन के सभी कष्ट को दूर कर सकते हैं |  बुधवार के शुभ दिन गणेशजी की उपासना से
ये 6 तरह के पत्थर हैंं बेहद खास, खोलकर रख देंगे आपके सारे छिपे राज

ये 6 तरह के पत्थर हैंं बेहद खास, खोलकर रख देंगे आपके सारे छिपे राज

Interesting, Religion
हमारे ज्योतिष में कई ऐसे पत्थरों अथवा रत्नों के बारें में बताया गया हैं, जो हमारे बुरे वक्त को समाप्त कर देते है। ज्योतिष के अनुसार यह पत्थर या रत्न हमारें कुंडली के ग्रहों को काफी ज्यादा प्रभावित करते है, जिसे धारण करने से उस ग्रह का बुरा प्रभाव काफी कम हो जाता है। ऐसे में आज हम आपको कुछ ऐसे पत्थरों के बारे में बताएँगे जिन्हें यदि आप धारण करें तो यह आपके कई परेशानियों को दूर कर सकती है और ये पत्थर आपके जीवन के कई राज को भी सुलझा सकती है। यदि आप काफी लम्बे समय से किसी चिंता से जूझ रहे है तो इन पत्थरों का चुनाव करके आप इन समस्याओं का कारण जान सकते है। तो चलिए आपको बताते है आपको उन पत्थरों के बारे में। पहला पत्थर   यदि आपने पहले पत्थर का चुनाव किया है, जो आपको काफी आकर्षित कर रहा है तो हम पहले आपको इस पत्थर के बारे में बता देते है इस पत्थर का नाम ऑफ़लाइट पत्थर है। यह पत्थर यदि
आज है पौष पूर्णिमा, जानिए पूर्णिमा व्रत की विधि और महत्व

आज है पौष पूर्णिमा, जानिए पूर्णिमा व्रत की विधि और महत्व

News, Religion
हमारे हिन्दू धर्म  में पूर्णिमा व अमावस्या का अत्यधिक महत्व है क्योंकि अमावस्या को कृष्ण पक्ष तो पूर्णिमा को शुक्ल पक्ष का अंतिम दिन होता है। लोग अपने-अपने तरीके से इन दिनों को मनाते भी हैं। पूर्णिमा यानि पूर्णो मा:। मास का अर्थ होता है चंद्र। अर्थात जिस दिन चंद्रमा का आकार पूर्ण होता है उस दिन को पूर्णिमा कहा जाता है। और जिस दिन चांद आसमान में बिल्कुल दिखाई न दे वह स्याह रात अमावस्या की होती है।शास्त्रों में मोक्ष की कामना पाने के लिए पौष माह की पूर्णिमा को बहुत ही शुभ माना जाता है। पौष पूर्णिमा के बाद ही माघ महीने की शुरूआत हो जाती है। साल 2018 में पौष पूर्णिमा 2 जनवरी को पड़ रही है। पौष पूर्णिमा के दिन ही शाकंभरी जयंती भी मनाई जाती है। साल 2018 की यह पहली पूर्णिमा है । इस दिन कुछ खास उपाय करने का विधान है, ये उपाय कुछ इस प्रकार हैं। पौष पूर्णिमा के दिन गंगा-यमुना जैसी पवित्र नदियो
आखिर क्यों इस मीनार के ऊपर एक साथ नहीं जा सकते भाई-बहन

आखिर क्यों इस मीनार के ऊपर एक साथ नहीं जा सकते भाई-बहन

Religion
जैसा की हम सभी जानते हैं की भारत मन्दिरों और आस्थाओं का एक ऐसा गढ़ है जहां दुनिया का हर इंसान अपनी अपनी श्रद्धा के अनुसार मन्यताओं को पूजता है. लेकिन आज हम आपको यूपी के जालौन में 210 फीट ऊंची ‘लंका मीनार’ है के बारे में बताने जा रहे हैं इस मीनार की खासियत ये है की इस मीनार के अंदर सगे भाई बहनों  का जाना वर्जित है. । आइए जानते है इसके पीछे की वजह  एक लीडिंग वेबसाइट में छपी खबर के अनुसार इतिहास के एक जानकार ने बताया था की इस  मीनार का निर्माण कराने वाले मथुरा प्रसाद रामलीला में रावण का किरदार निभाते थे.और कही दिनों से रावण का किरदार निभाते निभाते उनके मन में रावण की चावी इस कदर बन गयी की उन्होंने रावण की याद में इस लंका का निर्माण करा दिया था जिसके भीतर रावण के पूरे परिवार का चित्रण किया गया है| 1875 में मथुरा प्रसाद निगम द्वारा निर्मित इस मीनार की ऊँचाई लगभग  210 फीट ऊंची है और
नए साल में भगवान विष्णु को अर्पित करेंगे ये फूल, तो आपकी सारी मनोकामनाएं होंगी पूरी

नए साल में भगवान विष्णु को अर्पित करेंगे ये फूल, तो आपकी सारी मनोकामनाएं होंगी पूरी

News, Religion
नए साल में सब कुछ अच्छा करने की चाहत तो सभी की होती है और नववर्ष 2018 की शुरुआत हर कोई अच्छे से करना चाहता है। नए साल की शुरुआत में हर कोई चाहता है कि नए साल में उसका पहला दिन अच्छा हो और हमारे हिन्दुधर्म में किसी भी  शुभ कम से पहले भगवान की पूजा की जाती है| भगवान का नाम लिए बिना और उनकी पूजा-अर्चना किए बिना किसी भी नए कार्य की शुरुआत नहीं की जाती है। शास्त्रों के अनुसार यदि ऐसा होता है तो उसके परिणाम अच्छे नहीं होते हैं। साथ ही जैसा हम चाहते वैसा नही होता ऐसे में जो धर्म-अध्यात्म को मानने वाले हैं उनकी इच्छा होती है कि भगवान विष्णु की पूजा करते है ताकि पूरे साल घर धन-धान्य से भरे रहे। शास्त्रों के अनुसार आज हम आपको बतायेगे कि नए साल में यानि साल 2018 का प्रथम दिन महालक्ष्मी और भगवान विष्णु की किन किन फूलो  से  पूजा करने से पूरे साल घर-परिवार धन-धान्य से भरा रहेगा। आज हम आप को इन
नए साल पर 3 जनवरी को बन रहा है जबरदस्त संयोग, इन 2 राशियों की बदलेगी किस्मत

नए साल पर 3 जनवरी को बन रहा है जबरदस्त संयोग, इन 2 राशियों की बदलेगी किस्मत

Religion
अब हम सभी नये वर्ष में जल्द ही प्रवेश करने वाले है और साल 2017 अब अपने चरम सीमा पर पहुँच चुका है। जहाँ यह साल बहुत सारे लोगो के लिए बहुत ही हर्षो-उल्लास से भरा रहा तो वहीँ कई लोगो का यह वर्ष केवल दुर्भाग्यपूर्ण और बुरी किस्मत की वजह से असफलता का कारण बना। देखा जाए तो हम सभी के जीवन में सुख और दुःख का उतार व चढाव आता ही रहता हैं लेकिन हर व्यक्ति के जीवन में वो ख़ास लम्हे आते ही है, जब उसकी किस्मत उस व्यक्ति का पूरा-पूरा साथ देती है, जिसे कुछ लोग गोल्डन टाइम भी कह कर बुलाते हैं। यह वह लम्हा होता है, जब किसी व्यक्ति की किस्मत पूरी तरह उसके पक्ष में रहती है और उसके जीवन के हर सही गलत फैसले में उसका पूरा पूरा साथ देती है। उस व्यक्ति की किस्मत इतनी प्रबल हो जाती हैं कि वो जिस काम को हाथ लगता हैं वो सभी कार्य बिना किसी अड़चन के सफलता पूर्वक पूरा हो जाता हैं। इस समय का सीधा कनेक्शन आपकी राशि और ग