राम रहीम की माँ ने दिया अब तक का सबसे बड़ा बयान, सुनकर आप भी हो जाएंगे खुश

पंचकूला की सीबीआई अदालत द्वारा डेरा सच्‍चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को दो रेप केस में दोषी ठहराए जाने के बाद पंजाब और हरियाणा के कई इलाकों में हिंसा भड़क उठी। सिर्फ पंचकूला में ही 28 लोगों की जान डेरा समर्थकों की हिंसा में चली गई, वहीं सिरसा में तीन लोग मारे गए। कुल 37 लोगों की मौत हो चुकी है। हिंसा की घटनाएं दिल्‍ली, नोएडा और गाजियाबाद में भी हुईं, जहां कथित तौर पर डेरा समर्थकों ने खाली बसों और ट्रेन के डिब्‍बों में आग लगा दी। हरियाणा व दिल्‍ली के कई इलाकों में धारा 144 लगाई गई। उत्‍तराखंड के नैनीताल में भी धारा 144 लागू की गई।

लेकिन अब बता दें कि गुरमीत राम रहीम के जेल जाते ही डेरा सच्चा सौदा की गद्दी को लेकर चर्चा बनी हुई है। हर कोई यही जानना चाहता है कि कौन संभालेगा उसकी गद्दी बिच में कई खबरें ऐसी आई की हनीप्रित उनके गद्दी को संभालेंगी लेकिन फिर आज खबर आ रही है कि गुरमीत की मां नसीब कौर ने अपने पोते जसमीत को इस गद्दी पर बैठाने का फैसला किया है। हालांकि, बताया जा रहा है कि इसका अंतिम फैसला गुरमीत राम रहीम ही करेगा।

बता दें कि राम रहीम की मां नसीब कौर को डेरा में माता जी के नाम से जाना जाता है। उनकी मां ने गुरुसर मोड़िया के अपने फार्म हाउस में घरवालों से साथ बैठक की जिसमें तय किया गया कि वो जसमीत को डेरा की गद्दी पर बैठाएंगे। यह भी निश्चित किया गया कि इसकी सूचना राम रहीम को परिवार के सभी लोग मिलकर देंगे।

इस बात के लिए उनका परिवार राम रहीम से जेल में मिलने जाने का विचार कर रहा था लेकिन अचानक उनकी मां की तबीयत इस खराब हो गई तो वो नहीं जा पाएं। बता दें‍ कि फिलहाल जसमीत बिजनेस मैन है और भटिंडा के पूर्व विधायक हरमिंदर सिंह जस्सी की बेटी से शादी हुई है। गुरुसर मोड़िया में फिलहाल राम रहीम के परिवार की जिम्मेदारी जसमीत के ससुराल वालों ने ही ले रखी है।

Share this on

Leave a Reply