ट्रेन के टॉयलेट में हुई डिलीवरी लेकिन कुछ ही समय बाद ट्रैक पर जा गिरा नवजात, फिर हुआ ऐसा

जाके राखे साइयाँ मार सके ना कोई, ये कहावत तो आपने सुनी ही होगी| जी हाँ जिसकी रक्षा स्वयं भगवान करते हैं उसका कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता हैं| यह कहावत एक नवजात शिशु के ऊपर सही बैठता हैं| दरअसल एक गर्भवती महिला ट्रेन में सफर कर रही थी| तभी अचानक उसे लेबर पेन शुरू हो गया| लेकिन उस महिला ने किसी से कुछ ना कहते हुये सीधे ट्रेन के टॉयलेट में चली गयी| तभी अचानक उस महिला की डिलेवरी उसी ट्रेन के टॉयलेट में हो गयी|

यह भी पढ़ें : KBC सीजन 10वें को मिल गया करोड़पति, आइए मिलते हैं अब तक के सभी करोड़पति विजेताओं से

डिलेवरी होते ही वह नवजात शिशु ट्रेन के टॉयलेट से सीधा फिसल कर ट्रैक पर गिरा और उसी समय ट्रेन चल पड़ी| लेकिन तभी कुछ भेड़-बकरियाँ चराने वाले लोग उस ट्रैक के पास आ गए और उन्होने उस बच्चे को ट्रैक पर पड़ा देख उसे उठा लिया| या यूं कह ले कि ये भेड़-बकरियाँ चराने वाले लोग उस बच्चे के लिए भगवान के दूत बन कर आए और उस नवजात की जिंदगी बचा लिए| इन लोगों ने बच्चे को उठा कर उसकी जिंदगी बचा ली|

इस बात की खबर उन्होने पुलिस को दी हैं| आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस नवजात बच्चे को हल्की-फूल्की चोट जरूर आयी हैं| लेकिन अब वह बच्चा स्वस्थ्य हैं| दरअसल लखनऊ से कानपुर रूट पर शुक्लागंज के पास एक नवजात शिशु रो रहा था और उसी समय शुक्लागंज के ही निवासी लाला और उनकी पत्नी बकरियों को चरा रहे थे| नवजात बच्चे को रोते देख दोनों पति-पत्नी ने उस बच्चे को उठा लिया और उस बच्चे का इलाज करवाया और उसके बाद उन्होने इस बच्चे की जानकारी पुलिस को दे दी|

( हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
Share this on