Sunday, November 19News That Matters

अभी अभी: प्रद्युम्न हत्याकांड ने लिया एक नया मोड़, सीबीआई ने 11वीं के छात्र को किया गिरफ्तार

हाल ही में घटित मर्डर की घटना जो गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में हुए प्रद्युम्न के मर्डर की है। उस केस में एक चौकाने वाला मामला सामने आया है। इस मामले की जाँच कर रही सीबीआई ने स्कूल के ही एक 11वीं कक्षा के छात्र को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है, जिसकी उम्र मात्र 16 साल है। सीबीआई सूत्रों का कहना है कि आरोपी छात्र ने एग्जाम और पैरेंट्स-टीचर मीटिंग के कारण इस वारदात को अंजाम दिया है।

सीबीआई  का कहना है कि आरोपी छात्र स्कूल में होने वाली परीक्षा और पैरेंट्स-टीचर मीटिंग को टालना चाहता था जिसके चलते उसने इस वारदात को अंजाम दिया। इस वारदात में जांच के दौरान कई सबूत भी मिले। सीसीटीवी फुटेज में आरोपी चाकू ले जाते हुए दिखाई दे रहा है। टॉयलेट में आरोपी मोबाइल पर पोर्न फिल्म देख रहा था कि तभी उसकी नजर प्रद्युम्न पर पड़ी। आरोपी ने प्रद्युम्न के साथ यौन शोषण करने का प्रयास किया। फिर उसके बाद चाकू से गला काटकर हत्या कर दी। सीबीआई आज दोपहर को उसे ज्यूवेनाइनल कोर्ट में पेश करेगी।

आरोपी ने दोस्तों से कहा था कि वे परीक्षा की तैयारी न करें, क्योंकि स्कूल में छुट्टी होने वाली है।  सीबीआई द्वारा हिरासत में लिए गए छात्र के पिता ने कहा कि मेरा बेटा निर्दोष है। जबकि सीबीआई पहले ही उससे 4-5 बार पूछताछ कर चुकी है और गुरुग्राम पुलिस भी जांच के दौरान सीआरपीसी की धारा 164 के तहत उसका बयान दर्ज करा चुकी है।  उनके बेटे ने ही सबसे पहले स्कूल के माली को इस वारदात की जानकारी दी थी। उन्होंने बताया कि उनका बेटा रेयान स्कूल में दूसरी कक्षा से पढ़ रहा है और उनके बेटे को इस मामले में फंसाया जा रहा है।

यह भी पढ़े : इंसानियत हुई शर्मसार : सड़क पर सरेआम होता रहा रेप, बचाने की बजाय बन रहे थे वीडियो

सीबीआई ने उसे पूछताछ के लिए मंगलवार की रात 9 बजे बुलाया जिसके बाद वह वापस नहीं आया है। इसके खिलाफ वह गुरुग्राम कोर्ट जाने की तैयारी कर रहे हैं। प्रद्युम्न के पिता ने भी इस जानकारी से इंकार किया है। इस वारदात के बाद सबसे पहले बस कंडक्टर अशोक कुमार को ही गुरुग्राम पुलिस ने गिरफ्तार किया था क्योकि उस समय आरोपी ने हत्या की बात स्वीकार की थी  लेकिन बाद में वह अपने बयान से पलट गया।

उसने कहा था कि दबाव में आकर उसने हत्या की बात स्वीकार की थी। इसके बाद भारी दबाव के बीच इस मामले की जांच सीबीआई को दी गई थी। सीबीआई ने इस मामले में बस कंडक्टर के साथ ही स्कूल के माली हरपाल, सारे टीचर, नॉन टीचिंग स्टाफ और मैनेजमेंट से जुड़े लोगों से पूछताछ की। सीबीआई ने बस कंडक्टर और माली के साथ रेयान इंटरनेशनल स्कूल जाकर क्राइम सीन रिक्रिएट भी किया। जिस टॉयलेट में वारदात हुई वहां भी काफी जांच की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: