इन उपायों को करेंगे तो चुटकी बजाते बदल जाएगी आपकी किस्मत, अशुभ ग्रह भी बनायेंगे मालामाल

ज्योतिष शास्त्र  के अनुसार व्यक्ति के शरीर का संचालन  सौरमंडल में मौजूद नव ग्रहों के अनुसार होता है और हमारे शास्त्रों में इन ग्रहों के दोष को दूर करने के लिए कई सारे उपाय भी बताये गये है लेकिन इन सबके अलावा कुछ सामान्य कारण भी है जो हमारे ग्रहों के अशुभ होने के कारण बनते है जिसके वजह से जातक की जिंदगी में धन की हानि,शारीरिक व मानसिक रोग ,संतान की प्राप्ति में बाधा ,नौकरी में परेशानी ,व्यापार में घाटा इत्यादि समस्याओ का सामना करना पड़ता है।

आज हम आपको ऐसी ही कुछ सामन्य कारणों के विषय में बताने जा रहे है जिससे आपके ग्रहों की अशुभता को दूर किया जा सकता है।

सबसे पहली चीज इस दुनिया में सभी प्राणी इश्वर का  रूप होते है इसीलिए किसी भी जीव को कभी कष्ट या हानि नहीं पहुंचानी चाहिए।

घर के बड़े बुजुर्गों को कभी ठेस नहीं पहुंचानी चाहिए सदैव इनका सम्मान करना चाहिए क्योंकि इनके अपमान से सूर्य देव कुपित हो जाते है और अशुभ फल देते है।

घर की किसी बुजुर्ग महिला जैसे दादी,नानी ,माता को कष्ट देने  एवं किसी की वस्तु जबरदस्ती चीन लेने से चन्द्र ग्रह का अशुभ फल हमारे जीवन पर पड़ता है।

बेटियां ,बहन,पत्नी,बुआ ,मामी ,मौसी एवं  किन्नरों को तकलीफ देने से बुद्ध ग्रह कुपित होकर  अशुभ फल देते है।

पिता ,दादा ,नाना , गुरु एवं साधु सन्यासियों का उपहास उड़ाने तथा अपमान करने से से गुरु ग्रह कुपित होकर अशुभता का फल देते है।

जीवन साथी को कष्ट देने ,फटे पुराने वस्त्र पहनने ,एवं दूसरी स्त्री के साथ सम्बन्ध बनाने से शुक्र ग्रह जातक को कष्ट देते हैं।

चाचा ,ताऊ से से लडाई करना ,किराये के मकान को खली ना करना एवं नशीली पदार्थों का सेवन करने से शनि ग्रह कुपित हो जाते हैं और जातक को जीवन में कष्ट भोगना पड़ता है।

यह भी पढ़े : जा रहे है मंदिर तो भूल से भी साथ ना रखे ये चीजें, वरना आ सकते है आपके उल्टे दिन

बड़े भाई का अपमान करने वाले एवं सपेरो को कष्ट देने वाले जातको पर राहु ग्रह नकारात्मक प्रभाव डालते हैं।

भांजे एवं भतीजे को कष्ट देने ,मंदिर या किसी धार्मिक स्थल को छति पहुँचाने वाले ,कुत्ते को मारने वाले ,मुक़दमे में झूठी गवाही देने वाले पर केतु ग्रह का बूरा असर पड़ता है और जातक को जीवन में कष्ट का सामना करना पड़ता है।

ये है नवग्रहों को शुभ बनाए रखने के कुछ सामान्य  कारण जिसे हम अगर अनदेखा करते है तो हमारा जीवन कष्ट से भर जाता है और यदि इन बातों का अपने जीवन में ध्यान रखते है तो जीवन खुशियों से भर जाता है।
Share this on

Leave a Reply