Tuesday, December 12

घर में लगा रहे है घड़ी तो जरूर पढे ये खबर वरना छोटी सी भूल कर सकती है आपका समय खराब

इंसान जब से इस दुनिया में आता है तब से उसका समय शुरू हो जाता है, क्योंकि ऐसा माना जाता है की इस संसार में जो भी आता है उसके जाने का भी समय निर्धारित होता है। खैर हम यहाँ इतनी ज्यादा संवेदनशील बातें नहीं करेंगे मगर हाँ समय की बात जरूर करेंगे और उससे जुड़ी कुछ एहम बातें भी। आपको बताना चाहेंगे की समय बताने का काम घड़ी का है, लेकिन अगर यही घड़ी किसी ग़लत जगह लगा दी जाए तो ऐसा भी हो सकता है की आपका समय ख़राब चलने लगे।

बता दे की हर किसी के घरों में घड़ी होती है जिसे लोग अक्सर घर में किसी भी दीवार पर टांग देते है लेकिन क्या आपको पता है की किसी भी घड़ी को अपने घर में वास्तु के हिसाब से ही लगाना चाहिए। आईये आज हम आपको बताते हैं कि घर में घड़ी लगाते वक़्त किन-किन बातों का ध्यान रखना चाहिए। बता दे की किसी भी घड़ी को उसके वास्तविक समय पर रखना बेहद ज़रूरी है, घड़ी के समय को आगे या पीछे करके

नहीं रखना चाहिए। वास्तु के अनुसार यदि घड़ी अपने वास्तविक समय से पीछे चलती है, तो व्यक्ति को अपने जीवन में कठिन परिश्रम करना पड़ सकता है इसलिए बेहतर है किघड़ी को समय पर ही चलने दे ताकि आपका जीवन भी बराबर चलता रहे। बता दे की घर में कभी भी बंद घड़ियों को नहीं रखना चाहिए, लोगों का मानना है की बंद घड़ी को घर में रखना अशुभ होता है फिर चाहे वह दीवाल घड़ी हो या कलाई घड़ी हो या फिर टेबल क्लॉक। वास्तु के अनुसार कहा गया है कि रुका हुआ समय आपके जीवन को भी रोक देता है और आपके हर काम में रुकावट बन आपकी सफलता में बाधा पैदा करता है।

ऐसा माना जाता है की घर की दक्षिण दिशा में कभी भी घड़ी को नहीं लगाना चाहिए। वास्तुशास्त्र के अनुसार दक्षिण दिशा में केवल मृत परिजनों की तस्वीरें ही लगाई जाती है। बताना चाहेंगे की वास्तु के अनुसार घड़ी लगाने का सही स्थान उत्तर, पूर्व और पश्चिम दिशा है, ऐसा माना जाता है की ये तीनो दिशायें पॉज़ीटिव एनर्जी वाली होती हैं। यदि आप किसी बड़े से सलाह लेते है तो निश्चित रूप से वो आपको घर के ड्राइंग रूम में पेंडुलम वाली घड़ी लगाने की सलाह ही देगा क्योंकि वास्तु के अनुसार इसी शुभ माना जाता है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: