28 जनवरी को होने वाला है सबसे बड़ा राशि परिवर्तन, इन राशि वाले जातकों के जीवन में आएगा भूचाल

हमारे जीवन में कभी भी परिस्थितियां सामान्य नहीं होती है, कभी हमें सुख तो कभी दुःख का सामना करना पड़ता है। हमारे जीवन में यह छोटे-बड़े बदलाव ज्योतिष के अनुसार ग्रहों की दशा व उनके बदलाव के कारण होते है, जो हमारे जीवन पर गहरा प्रभाव डालते ही और साथ ही साथ इन ग्रहों का प्रभाव प्रकृति पर भी काफी पड़ता है। कभी कभी यह ग्रह एक ही राशि में एक से ज्यदा प्रवेश कर जाते हैं, जिसके कारण अलग-अलग ग्रहों से जुड़ी समस्या समस्त राशि के जातको को प्रभावित करती हैं।

इस महीने में भी कुछ ऐसा ही दिख रहा है, जिसके चलते कई राशि के जातको को काफी संकट का सामना करना पड़ेगा। ग्रहों के इन बदलाव के चलते जहाँ कुछ राशियों के जातक संकट में रहेंगे तो वहीँ कुछ राशियों के जातक के लिए यह बदलाव काफी शुभ साबित होगा। लेकिन इन राशियों में पांच ऐसी विशेष राशियां है जिनके ऊपर भरी संकट आने के संकेत मिल रहे है। तो चलिए आज हम आपको यह बताते है कि कौन सी है वो पांच राशियाँ जिन पर होगा भारी संकट।

यह भी पढ़े : सप्‍ताह के इन तीन दिनों में भूल से भी ना करें ये काम वरना शनिदेव हो जाएंगे आपसे नाराज

चार ग्रह यानि सूर्य, बुध, शुक्र और केतु एक ही राशि में एक साथ प्रवेश कर रहे हैं। यह चारों ग्रह एक ही राशि यानि मकर राशि में प्रवेश कर रहे है, जिसके कारण चतुर्ग्रही योग का निर्माण हो रहा हैं, जो इस माह के 28 तारिक दिन बुध के मकर राशि में प्रवेश के साथ शुरू हो रहा है। 27 जनवरी की रात 3.03 बजे बुध मकर राशि में प्रवेश करेगा और चतुर्ग्रही योग प्रारंभ हो जाएगा, जिसकी समाप्ति 6 फरवरी को होगा जब शुक्र मकर से निकलकर कुंभ में प्रवेश करेगा।

इन राशि के जातको पर आयेगा संकट

सूर्य, बुध, शुक्र और केतु ग्रह का मकर राशि में प्रवेश के चलते जो राशियां गंभीर रूप से प्रभावी हों रही है वो राशि सिंह, मिथुन, कन्या, तुला और वृषभ राशि है। इन राशि के जातको को 10 दिनों तक संभल कर हर कार्य करना होगा। व्यापार और व्यवसाय से जुड़े मामलों में सोच समझ कर फैसले ले। कही भी निवेश करने से बचे।

इन राशि के जातकों को अपमानजनक परिस्थितियों का सामना करना पड़ सकता है और आलस्य बना रहेगा, नेत्र और हड्डी से जुडी कोई रोग भी हो सकते हैं। मकर राशि में इन चारो ग्रहों के प्रवेश के कारण मकर राशि पर कोई बुरा प्रभाव नहीं पड़ेगा बल्कि इस राशि के जातकों को शुभ समाचार सुनने को ही मिलेंगे। चतुर्ग्रही योग के दौरान समस्त राशि वाले जातकों को सूर्य, गणेश और लक्ष्मी जी की पूजा-आराधना करनी चाहिए।
Share this on

Leave a Reply