Sunday, January 21

News

निर्भया दुष्कर्म कांडः दरिंदों की फांसी पर सुप्रीमकोर्ट ने लगाई मुहर

निर्भया दुष्कर्म कांडः दरिंदों की फांसी पर सुप्रीमकोर्ट ने लगाई मुहर

News
दिल्ली ही नहीं बल्कि देश को हिला देने वाले 16 दिसंबर 2012 के दिल्ली गैंगरेप मामले में चार दोषियों की अपील पर सुप्रीम कोर्ट ने हाईकोर्ट के फैसले पर मुहर लगाते हुए फांसी की सजा को बरकरार रखा है। फैसले के दौरान निर्भया के माता-पिता कोर्ट में मौजूद थे। सुप्रीम कोर्ट ने कहा-सेक्स और हिंसा की भूख के चलते बड़ी वारदात को अंजाम दिया। 16 दिसंबर 2012 की रात मृतक राम सिंह और उस समय नाबालिग रहे आरोपी ने चार और लोगों के साथ मिलकर चलती बस में अपने दोस्त के साथ घर जा रही युवती के साथ सामूहिक बलात्कार किया था। इतना ही नहीं बलात्कार के बाद इन वहशियों ने युवती और उसके दोस्त के साथ अमानवीय व्यवहार किया और दोनों को चलती बस से नीचे फेंक कर उन्हे कुचलने की भी कोशिश की। 16 दिसंबर 2012 की रात चलती बस में निर्भया के साथ हुए गैंगरेप मामले में आज सुप्रीम कोर्ट अपना आखिरी फैसला सुना सकती है। जानकारी के मुताबिक
पंचतत्व में विलीन हुए विनोद खन्ना, अंतिम विदाई के छण बॉलीवुड के सभी सितारों की आंखे हुई नम

पंचतत्व में विलीन हुए विनोद खन्ना, अंतिम विदाई के छण बॉलीवुड के सभी सितारों की आंखे हुई नम

News
बॉलीवुड अभिनेता 70 साल के विनोद खन्ना का लम्बी बीमारी के बाद आज निधन हो गया है। बता दें कि उन्होंने अभी तक 141 फिल्मों में काम किया था। इतना ही नहीं राजनीति में भी उनका कैरियर अच्‍छा रहा है वो अटल बिहारी वाजपेयी की कैबिनेट मंत्री भी रह चुके हैं। जैसा कि हम सब जानते है पिछले कुछ दिनों से मुंबई के अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था और हाल ही में उनकी बिमारी हालत की एक तस्‍वीर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुई थी जिसमें वो काफी कमजोर और बीमार नजर आ रहे थे।     जिसके कारण उनको पहचानना मुश्किल हो गया था। फिल्म इंडस्ट्री में विनोद खन्ना के करियर की शुरुआत ने बतौर विलेन की थी। अपने जीवन में वो एक समय के लिए ओशो से काफी प्रभावित हो गए थें और उन्‍होंने संन्यास भी ले लिया था बाद में उन्होंने फिर वापसी की। बता दें कि विनोद खन्ना का जन्म एक 6 अक्टूबर 1946 को पाकिस्‍तान के पेशावर में हुआ
योगी कैबिनेट ने लिया बड़ा फैसला, भूमाफियाओं के खिलाफ बनाया एंटी टॉस्क फोर्स

योगी कैबिनेट ने लिया बड़ा फैसला, भूमाफियाओं के खिलाफ बनाया एंटी टॉस्क फोर्स

News
योगी कैबिनेट की तीसरी बैठक करीब डेढ़ घंटे तक चली। इस दौरान प्रमुख रूप से तीन फैसले लिए गए । सीएम योगी कैबिनेट की ये बैठक शाम पांच बजे से शुरू हुई। बाद में प्रदेश सरकार के प्रवक्‍ता मंत्री श्रीकांत शर्मा ने मीडिया से बातचीत में बताया कि योगी सरकार ने कई महत्‍वपूर्ण बिंदुओं पर फैसला लिया है। योगी सरकार ने यूपी में जयंती अवकाश पर रोक लगा दी है। अब स्कूल-कॉलेज में महापुरुषों की जयंती पर अवकाश नही होगा। इसके साथ ही इन खास दिनों पर विशेष कार्यक्रम आयोजित किये जाएंगे। मंत्री श्रीकांत शर्मा ने बताया कि बलिदान दिवस और जयंती पर अब अवकाश नही रहेगा।     आज हुई कैबिनेट मीटिंग को ब्रीफ करते हुये योगी सरकार में प्रवक्ता श्रीकान्त शर्मा ने बताया कि प्रदेश में सरकारी व गैर सरकारी जमीनों पर अवैध कब्जा करने वालों की पहचान कर कार्रवाई करेगी. भू-माफिया को रोकने के लिए टास्क फोर्स का भ
जब इस लड़की ने सार्वजनिक किया अपना मोबाइल नंबर, तो सामने चौंका देने वाली बातें

जब इस लड़की ने सार्वजनिक किया अपना मोबाइल नंबर, तो सामने चौंका देने वाली बातें

News
किसी लड़की का मोबाइल नंबर पब्लिक होने पर उसे किस तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। उसके पास किस तरह के कॉल और मैसेज आते हैं। सोसाइटी में उसका रिएक्शन कैसा होता है, इसका पता लगाने के लिए इलाहाबाद में एक इवेंट हुआ। एक रेड‍ियाे चैनल की ओर से 13 अप्रैल को भूमिका नाम की एक लड़की का नाम और मोबाइल नंबर शहर के करीब 200 पब्लिक प्लेसेस पर लगवाया गया। इसके बाद भूमिका के साथ बीते एक हफ्ते में क्या-क्या हुआ, ये जानकर लोग हैरान रह गए। हालांकि, यह सब करने के लिये एसएसपी इलाहाबाद की सहमति भी ली गई थी। रेड एफएम के इस कार्यक्रम में एसपी सिटी डॉ. विपिन टांडा खुद आरजे के रूप में मौजूद थे।     इस घटना बाद बातचीत में भूमिका से पूछा गया कि नंबर सार्वजनिक कर के आप लड़कियों को और समाज में क्या संदेश देना चाहती है.? इसपर भूमिका कहती है यह रेड ऍफ़ एम का था, जिसका मकसद उन लड़कियों को मजबूत
यूपी विधानसभा 2017 चुनाव में इस शख्स ने दिलाई थी बड़ी जीत, यह इंसान है परदे के पीछे का ‘रीयल हीरो’

यूपी विधानसभा 2017 चुनाव में इस शख्स ने दिलाई थी बड़ी जीत, यह इंसान है परदे के पीछे का ‘रीयल हीरो’

News
अक्सर आपने फंतासी फिल्मों में या सीरियल्स में 'हीरोज' को मास्क में देखते होंगे। आप जरुर सोचते होंगे कि ऐसा क्यों होता है कि यह हीरो परदे के पीछे रहकर काम को अंजाम देते हैं। आइये हम आपको मिलाते हैं ऐसे ही एक 'सुपर हीरो' से जो परदे के पीछे रहकर 'बड़ा गेम' खेलने का माहिर है। उम्मीद है उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव और उसके नतीजे आप सभी के जेहन में अबतक ताजा होंगे ही। हाँ इस चुनाव में भाजपा ने अप्रत्याशित जीत हासिल की थी और विरोधियों को करारी शिकस्त दी थी। इस पूरे चुनाव के दरमियान भाजपा की असल ताकत रही उसकी सोशल मीडिया विंग मतलब 'भाजपा आईटी सेल' जी हाँ जिस शख्स के बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं दरअसल वही वो 'सुपर हीरो' है जिसने उत्तर प्रदेश चुनाव के दौरान भाजपा की आशातीत सफलता के मुकाम पर पहुँचाया। स्वयं गुमनाम रहकर इस शख्स ने भाजपा को घर-घर पहुँचाने में अपनी अहम् भूमिका निभाई। वह शख्स हैं दे
CBSE की 12वीं के कोर्स में बताया गया लड़कियों का ‘बेस्ट फिगर’ 36-24-36

CBSE की 12वीं के कोर्स में बताया गया लड़कियों का ‘बेस्ट फिगर’ 36-24-36

News
महाराष्ट्र के नागपुर में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. दरअसल, यहां के सीबीएसई स्कूल में 12वीं के पाठ्यक्रम में शामिल की गई एक किताब में लड़कियों के लिए ‘बेस्ट फिगर’ बताया गया है. इसमें कहा गया है कि लड़कियों का फिगर ’36-24-36′ होना चाहिए. इस किताब के लेखक डाक्टर वीके शर्मा हैं स्वास्थ्य एवं शारीरिक अध्ययन शीर्षक की इस किताब के लेखक डाक्टर वीके शर्मा हैं. उन्होंने दावा किया है कि 36-24-36 ही लड़कियों के लिए सही शेप है. हालांकि, किताब के नए संस्करण में ‘फिगर’ शब्द हटा दिया गया है. नए संस्करण में ‘ऑवरग्लास(सैंड क्लॉक) शेप’ की तुलना लड़कियों के शरीर से की गई है. किताब पाठ्यक्रम में शामिल नहीं कर सकता है महिलाओं के बारे में किताब में ज्यादा जानकारी है लेकिन लड़कों के बारे में भी ‘वी’ शेप का उल्लेख है. डाक्टर मोहता का कहना है कि 12वीं के विद्यार्थी यदि अभी से इस बारे में पढ़ेंग
बड़ी खबर: हो गया कंफर्म, एनडीए में शामिल होंगे नीतीश!

बड़ी खबर: हो गया कंफर्म, एनडीए में शामिल होंगे नीतीश!

News
बिहार की सियासत पर हम बारीकी से नजर बनाए हुए हैं। जिस तरह के हालात वहां की महागठबंधन सरकार में दिख रहे हैं उस से कई तरह की संभावनाओं को जन्म मिल रहा है। बिहार की राजनीति में एक अलग ही तरह का माहौल दिख रहा है। महागठबंधन में शामिल जेडीयू, आरजेडी और कांग्रेस के बीच में जिस तरह से दरारें आ रही हैं उसके बाद से तो ये साफ हो गया है कि सियासी महत्वकांक्षाएं महागठबंधन पर भारी पड़ रही है। इन सबके बीच सीएम नीतीश कुमार और बीजेपी के बीच बढ़ती नजदीकी किसी बड़े फैसले का आहट दे रही हैं। नीतीश के वापस एनडीए में शामिल होने की खबरें लगातार सामने आ रही हैं। अब जी न्यूज ने भी इस खबर को प्रमुखता से उठाया है। जी न्यूज की खबर के मुताबिक नीतीश बहुत जल्द एनडीए में शामिल हो सकते हैं। जी न्यूज की खबर के मुताबिक एक बार फिर से नीतीश कुमार और पीएम मोदी के बीच रिश्ते सामान्य हो सकते हैं। नीतीश एनडीए में शामिल हो सकते
सुप्रीम कोर्ट के कार्यवाही पर अब होगी सीसीटीवी की नजर

सुप्रीम कोर्ट के कार्यवाही पर अब होगी सीसीटीवी की नजर

News
लम्बे समय के बाद अब आखिरकार सुप्रीम कोर्ट ने कोर्ट के अंदर कैमरा लगाने की अनुमति दे दी। सुप्रीम कोर्ट ने फैसला देते हुए कहा कि कोर्ट की कार्यवाही को रिकॉर्ड करने के लिए सभी राज्य एवं केन्द्र शासित प्रदेश के कम से कम 2 जिलों की अदालतों में सी.सी.टी.वी. कैमरे लगाए जाएं। कोर्ट के इस फैसले के बाद अब कोर्ट की कार्यवाही कैमरे में रिकॉर्ड की जा सकेगी। न्याय में पारदर्शिता को ध्यान में रख यह फैसला लिया गया। इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक जस्टिज आदर्श.के.गोयल और उदय.यू.ललित की बेंच ने फैसला सुनाते हुए देश की 24 हाईकोर्ट को आदेश दिया कि वे तीन महीने के अंदर यह सुनिश्चित करें कि राज्य एवं केन्द्र शासित प्रदेशों की कम से कम दो जिला एवं सत्र न्यायालयों के अंदर और बाहरी परिसर में बगैर अॉडियो के सी.सी.टी.वी. कैमरे लगाए जाएँ। सरकार और न्यायपालिका के बीच इस मसले को लेकर पहले भी बातचीत होती रही है। अगस्त
यूपी नहीं बल्कि इन राज्‍यों के लोग खाते हैं सबसे ज्‍यादा नॉनवेज, जानें कौन सा राज्‍य है नंबर 1

यूपी नहीं बल्कि इन राज्‍यों के लोग खाते हैं सबसे ज्‍यादा नॉनवेज, जानें कौन सा राज्‍य है नंबर 1

News
यूपी में योगी आदित्‍यनाथ के सीएम बनने के बाद बूचड़खानों पर कार्रवाई होनी शुरू हो गई है। लखनऊ से लेकर इलाहाबाद तक और नोएडा से लेकर बनारस तक बूचड़खानों को बंद किया जा रहा है। इसके चलते पूरा मामला धीरे-धीरे राजनीतिक रंग लेता जा रहा है। यहीं नहीं कांग्रेस के कुछ सांसद पूरे मामले को संसद में भी उठा चुके हैं। मीडिया भी बूचड़खानों को बंद करने और जारी रखने के मसले पर अपनी अलग-अलग राय दे रहा है। फिलहाल पूरा मामला जहां एक तबके की रोजी-रोटी से जुड़ा हुआ है वहीं दूसरी ओर एक तबके की आस्‍था का सवाल है। माना जा रहा है कि इसके बाद देश में वेज बनाम नॉन वेज की बहस और तेज हो सकती है। हालांकि भारत भले ही दुनिया भर में वेजिटेरियन कंट्री की छवि रखता हो, लेकिन सच तो यह है कि 15 साल से ऊपर की देश की 71 फीसदी आबादी मीट या नॉनवेज का सेवन करती है। यह हम नहीं कह रहे हैं, बल्कि केंद्र सरकार की सैम्‍पल रजिस्‍ट्रे