Wednesday, December 13

जब बनाना हो पहला रेज़्य़ूमे

22 साल का रोहन जो कॉलेज रोंक बैंड मे लीड सींगर है और इंटर कॉलेज थिएटर फेस्टिवल का विनर भी उसने अपनी सफलाताओं को अपने रेज्यू़म में ब्ल्यू ग्लिटर पेन से लिखा था । उसका सोचना था कि इससे एंप्लॉयर प्रभावित होकर उसे तुरंत ही जॉब के लिए चुन लेंगे। उसे यह नही पता था कि डाटा एंट्री जैसी जॉब्स के लिए इन सफलताओं की कोई जरूरत नही है। रेज्यूम पहली बार बनाने में अक्सर ऐसी गलतिंयाँ हो जाती है जिससे उनके जॉब और करियर दोनो पर असर पडता है। एक प्रभावी रेज्यूम बनाना भी एक कला है इससे संबन्धित आवश्यक जानकारियाँ निम्न है।

1. रैज्यूम मे कैसी जानकारियां होनी चाहिए इसके लिए सबसे पहले कुछ पुराने और बेहतर बने रेज्यूम से हेल्प ले लें।

2. रेज्यूम को एम एस आफिस के वर्ड के फाइल पर ही बनाये और प्रोफेशनल फॉन्टस(जैसे – टाइम्स न्यू रोमन एण्ड एरियल) का ही यूज करें और रेज्यूम का पेज सफेद ही रखें।

3. रेज्यूम के लिए ए-फार शीट का यूज करते है। अन्य और कोई शीट यूज न करे।

4. रेज्यूम को पहले ही चैक करवा ले ताकि इंटरव्यूअर के सामने कोई गलति न हो। अन्यथा इसर असर खराब पडता है।

5. रेज्यूम मे आपकी फॉर्मल ई-मेल आइडी और कम से कस दो मोबाइल नम्बर अवश्य हो। ई-मेल आइडी मे भूल कर भी कुछ अन फॉर्मल वर्ड यूज न करें(जैसे-coolabhi)।

6. जो लाग फ्रेशर हैं वो अपने कॉलेज के प्रोजक्ट और अन्य एक्टीवियो का उल्लेख अपने रेज्यूम मे अवश्य कर दें। ताकि इससे पता चले कि आप की रूचि किस क्षेत्र मे है।

7. आप जिस फिल्ड से है उन कंपनियों मे आवेदन करें और उन कंपनियों की विस्तृत जानकारी हासिल कर लें।

8. रेज्यूम मे अनावश्यक बाते अपने बारे मे न लिखे। पहली बार बना रेज्यूम अधिक से अधिक एक पेज का ही होना चाहिए।

9. अगर आपको किसी तरह का कार्यअनुभव है तो अपना पेड, अनपेड और वॉलटियर कार्यअनुभव रेज्यूम में अवश्य दिखाये।

10. शैक्षिक योग्यता दिखाने के लिए रेज्यूम मे हमेशा बुलेट का इस्तेमाल करना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: